हॉलीवुड

फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप. (फोटो साभार: फेसबुक)

बॉलीवुड के यौन उत्पीड़न के शिकार ज़रूर मुंह खोलें: अनुराग कश्यप

फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप ने कहा कि बॉलीवुड में व्याप्त यौन उत्पीड़न की घटनाओं पर कलाकारों की बातों का तब तक कोई मतलब नहीं है, जब तक इसे झेलने वाले अपना मुंह बंद रखते हैं.

मुहम्मद अली, टॉमी स्मिथ, जॉन कॉर्लोस और कॉलिन केपरनिक. फोटो: रॉयटर्स)

हमारे ‘महान’ खिलाड़ी मुश्किल समय में जनता के साथ क्यों नहीं खड़े होते?

हमारे महान खिलाड़ियों को जनता सिर-आंखों पर बैठाती है, मगर जनता पर जब ऐसी कोई त्रासदी बरपा करती है- जिसके लिए सरकार या समाज का एक वर्ग ज़िम्मेदार हो तो वे ऐसे विलुप्त हो जाते हैं, गोया इस दुनिया में रहते न हों.

Netanyahu Ratan Tata Reuters

इज़रायली प्रधानमंत्री पर भ्रष्टाचार के आरोप में आया रतन टाटा का नाम

प्रधानमंत्री नेतन्याहू जिस परियोजना में भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं, टाटा पर भी उसमें शामिल होने का ख़बरें आ रही हैं. टाटा के कार्यालय ने आरोपों को ग़लत बताया.

हॉलीवुड में कार्यस्थल पर यौन प्रताड़ना के ख़िलाफ़ शुरू हुए टाइम्स अप अभियान के बाद महिलाओं के लिए जारी पत्र. (फोटो साभार: www.timesupnow.com)

हॉलीवुड में यौन शोषण के ख़िलाफ़ 300 से ज़्यादा महिलाओं ने शुरू किया अभियान

अभियान का समर्थन रीज़ विदरस्पून, निकोल किडमैन, मारगॉट रॉबी, जेनिफर एनिस्टन, एशले जुड, अमेरिका फेरेरा, नताली पोर्टमैन, एमा स्टोन और कैरी वाशिंगटन जैसे बड़े नामों सहित सैकड़ों लोग कर रहे हैं.

अभिनेत्री रिचा चड्ढा. (फोटो साभार: फेसबुक/रिचा चड्ढा)

सुरक्षा मिले तो यौन उत्पीड़न करने वालों का खुलासा ज़रूर करूंगी: रिचा चड्ढा

बॉलीवुड अभिनेत्री रिचा चड्ढा ने कहा, यौन उत्पीड़न करने वालों का नाम नहीं लिया जा सकता क्योंकि उसके बाद काम मिलने की गारंटी नहीं होती.

Amitabh-Bachchan-Modi-Photo-By-PIB

हमारे सुपरस्टार सत्ता की ख़ुशामद क्यों करते हैं?

एक बार शोहरत या पैसा, या दोनों हासिल कर लेने के बाद भारतीय अभिनेता, कारोबारी और खिलाड़ी सामाजिक मुद्दों या सरकार के ख़िलाफ़ बोलकर इसे दांव पर लगाने का ख़तरा मोल नहीं लेना चाहते.

Chhattisgarh_Women_Reuters-copy 1

क्या अभिनेताओं ने छत्तीसगढ़ में बलात्कार पीड़ित आदिवासी महिलाओं के दर्द को महसूस किया है?

अक्षय कुमार और विवेक ओबरॉय छत्तीसगढ़ में सैनिकों के परिवारों की मदद के लिए आगे आए हैं, उम्मीद है कि वे आदिवासी महिलाओं से होने वाली ज़्यादती से भी वाकिफ़ होंगे.