08 November 2016

रिज़र्व बैंक के पूर्व गवर्नर और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो: रॉयटर्स/पीटीआई)

शक्तियों का अत्यधिक केंद्रीकरण भारत की प्रमुख समस्याओं में से एक: रघुराम राजन

आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने कहा कि बहुत सारे निर्णयों के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय की सहमति लेनी होती है. भारत एक केंद्र से काम नहीं कर सकता है. भारत तब काम करता है जब कई लोग मिलकर बोझ उठा रहे हों.

India’s Reserve Bank Governor Raghuram Rajan makes remarks during a seminar on ‘The New Normal in Asia: Will Growth Inevitably Slow?’ at the IMF and World Bank’s 2015 Annual Spring Meetings, in Washington, April 16, 2015. REUTERS/Mike Theiler

नोटबंदी और जीएसटी से भारत की आर्थिक वृद्धि को लगा झटका: रघुराम राजन

आरबीआई के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन ने कहा कि देश की वृद्धि दर ऐसे समय में गिरने लगी जब वैश्विक आर्थिक वृद्धि दर गति पकड़ रही थी. मौजूदा आर्थिक वृद्धि दर संतोषजनक नहीं है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और वित्त मंत्री अरुण जेटली. (फोटो: पीटीआई)

नोटबंदी के नफे-नुकसान पर वाक-युद्ध, जेटली ने कहा- कर आधार बढ़ा, राहुल बोले, 15 लाख हुए बेरोज़गार

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि नोटबंदी का लक्ष्य सरकार द्वारा नकदी को ज़ब्त करना नहीं, संगठित अर्थव्यवस्था की ओर बढ़ना और करदाताओं की संख्या बढ़ाना था. पी. चिदंबरम ने कहा कि नोटबंदी से पहले का अपना बयान याद करें जेटली. ​

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली (फोटो: पीटीआई)

नोटबंदी से कालाधन और नकली नोट ख़त्म करने के मोदी सरकार के तर्क को आरबीआई ने किया था ख़ारिज

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने नोटबंदी लागू करते समय बताया था कि इससे काला धन और नकली नोट ख़त्म हो जाएंगे. हालांकि आरबीआई के निदेशकों ने इस तर्क को ख़ारिज कर दिया था.

New Delhi: Union Minister for Finance and Corporate Affairs, Arun Jaitley addresses at the Investiture Ceremony and International Customs Day 2018, in New Delhi on Saturday. PTI Photo by Manvender Vashist(PTI1_27_2018_000101B)

नोटबंदी से अर्थव्यवस्था का विस्तार हुआ और अधिक राजस्व मिला: अरुण जेटली

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि उस समय चलने वाले 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद करने का परिणाम यह हुआ कि गरीबों के लिए अधिक संसाधन मिले, बुनियादी ढांचा बेहतर हुआ और नागरिकों का जीवन स्तर भी बेहतर हुआ है.

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह. (फोटो: रॉयटर्स)

नोटबंदी के दो साल बाद घाव और स्पष्ट नज़र आने लगे हैं: मनमोहन सिंह

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने 2016 में त्रुटिपूर्ण ढंग से और सही तरीके से विचार किए बिना नोटबंदी का कदम उठाया था. छोटे और मंझोले कारोबार भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं जिसे नोटबंदी ने पूरी तरह से तोड़ दिया.

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi at the silver jubilee celebration of National Human Right Commission, in New Delhi, Friday, Oct 12, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI10_12_2018_100098B)

नोटबंदी के दो साल: ​कांग्रेस ने कहा, मोदी सरकार को देश से माफ़ी मांगनी चाहिए

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि नोटबंदी ने करोड़ों लोगों के जीवन और अर्थव्यवस्था को बर्बाद ​कर दिया. जिन लोगों ने यह किया है लोग उन्हें सज़ा ​देंगे. रेलमंत्री ने कहा कि नोटबंदी ने भ्रष्टाचार की कमर तोड़ दी.