Adani group

गुजरात के भुज स्थित जीके जनरल हॉस्पीटल (फोटो साभार: विकिमीडिया कॉमंस)

गुजरात: अडानी के अस्पताल को 111 नवजातों की मौत के मामले में मिली क्लीनचिट

वर्ष 2018 के शुरुआती पांच महीनों में अस्पताल में जन्मे या जन्म के बाद भर्ती कराए गए 777 नवजातों में से 111 की मौत हो गई थी. सरकार ने एक समिति बनाकर जांच के आदेश दिए थे.

गुजरात के भुज स्थित जीके जनरल हॉस्पीटल (फोटो साभार: विकिमीडिया कॉमंस)

गुजरात: अडानी के अस्पताल में पांच महीनों में 111 शिशुओं की मौत

अस्पताल द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, वर्ष 2018 के शुरुआती पांच महीनों में अस्पताल में जन्मे या जन्म के बाद भर्ती कराए गए 777 नवजातों में से 111 की मौत हो गई. सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं.

गौतम अडाणी. (फोटो: पीटीआई)

अडाणी समूह का सड़क निर्माण क्षेत्र में प्रवेश, छत्तीसगढ़ में मिला 1,140 करोड़ रुपये का ठेका

अडाणी समूह ने कहा है, ‘केंद्र सरकार देश के हाईवे की लंबाई दो लाख किलोमीटर तक करने पर विचार कर रही है, अडाणी समूह इसे कंपनी के लिए विकास के अवसर के रूप में देखता है.’

PTI7_17_2017_000347B

‘सबसे बड़ा झूठ यह कहना है कि भारत का कोई दल भ्रष्टाचार से लड़ रहा है’

अगर सारे दल बीजेपी में शामिल हो जाएं तो हो सकता है कि प्रधानमंत्री टीवी पर ऐलान कर दें कि भारत से राजनीतिक भ्रष्टाचार ख़त्म हो गया है क्योंकि सब मेरे साथ आ गए हैं.

Vinod Dua EP 85

जन गण मन की बात, एपिसोड 85: अडानी के दबाव में संपादक का इस्तीफा और निजता का अधिकार

जन गण मन की बात की 85वीं कड़ी में विनोद दुआ अडानी समूह के ख़िलाफ़ रिपोर्ट करने के बाद ईपीडब्ल्यू के संपादक प्रंजॉय गुहा ठाकुरता के इस्तीफ़े और निजता के अधिकार पर चर्चा कर रहे हैं.

EPW Adani copy

अडानी समूह के दबाव में हटाए गए ईपीडब्लू के संपादक प्रंजॉय गुहा ठाकुरता

ख़र्चीले मुक़दमे की धमकी से घबराकर ईपीडब्लू को चलाने वाले ट्रस्टियों ने अडानी पॉवर लिमिटेड की आलोचना करने वाले लेखों को हटाने का आदेश दिया था.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

मोदी राज में सीबीआई ताकतवरों को बचा रही है और आलोचकों को फंसा रही है

सीबीआई एनडीटीवी के संस्थापकों के घर छापे मार रही है जबकि अडानी, अंबानी और दूसरे ताकतवर व्यापारिक घरानों के लिए ख़िलाफ़ पर्याप्त साक्ष्य होने के बावजूद कार्रवाई नहीं कर रही है.

Gautam Adani 1

अडाणी की कोयला परियोजना का पूर्व आॅस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों ने किया विरोध

पूर्व क्रिकेटर इयान व ग्रेग चैपल सहित ऑस्ट्रेलिया की अनेक हस्तियों ने पर्यावरण का हवाला देकर अडाणी समूह से अपील की है कि वह क्वींसलैंड में अपनी कोयला खनन परियोजना को बंद कर दें.