Ahmadabad

dalit-pti-1024x729

भारत में दलितों की परवाह किसे है?

अनेक ‘शुभचिंतक’ दलों के बावजूद भेदभावों के ख़िलाफ़ दलितों की लड़ाई अभी लंबी ही है. ये ‘शुभचिंतक’ दल दलितों के वोट तो पाना चाहते हैं लेकिन उन पर हो रहे अत्याचारों के लिए जोखिम उठाने को तैयार नहीं हैं.

Velthera Gujarat

गुजरात में ‘कुर्सी पर बैठने’ को लेकर दलित महिला पर हमला

स्थानीय मीडिया के मुताबिक आरोपी पिछले महीने पीड़ित महिला के रिश्तेदार द्वारा अपने नाम में ‘सिंह’ जोड़ने को लेकर दर्ज करवाई गई शिकायत से नाराज़ थे.

प्रवीण तोगड़िया (फोटो: फेसबुक)

विहिप से बाहर होने के बाद तोगड़िया ने अहमदाबाद में अनिश्चितकालीन उपवास शुरू किया

विहिप के पूर्व अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण, गोवध पर राष्ट्रव्यापी प्रतिबंध, समान नागरिक संहिता और विस्थापित कश्मीरी पंडितों का पुनर्वास जैसी मांगों को लेकर उपवास शुरू किया है.

dafnala-joti-modi-rupani

चुनाव आयुक्त बनने के बाद भी एके जोती ने गुजरात सरकार से मिला बंगला क्यों नहीं छोड़ा?

एके जोती एक अहम संवैधानिक पद पर नियुक्त होने के बाद भी गुजरात सरकार के बंगले में रहते रहे, जबकि यह पद राजनीतिक पार्टियों और सरकारों से पूर्ण स्वतंत्रता की मांग करता है.

amit-modi-nathwani-jay-gca

गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन: अमित शाह और जय शाह सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों की धज्जियां उड़ा रहे हैं

लोढ़ा कमेटी के मुताबिक दोनों को पद छोड़ देना चाहिए, लेकिन एसोसिएशन में शाह परिवार का दबदबा कायम है.

boycott-chinese-products-in-india

क्या चाइनीज़ सामान का विरोध करने वाले चीनी निवेश का विरोध करेंगे?

चीन के साथ कारोबारी रिश्तों को सरकार और अर्थव्यवस्था की कामयाबी के रूप में पेश किया जाता है लेकिन जब कभी दोनों देशों में विवाद होता है तब लड़ियों-फुलझड़ियों का विरोध शुरू हो जाता है.

gst12

‘तुझको तेरी जेटली की कसम, ओ प्यारे मोदी ये ज़ुल्म न कर’

धार्मिक भावना से लैस राजनीति और नेता में धार्मिक प्रवृत्ति, जनता के बड़े समूह का चरित्र किस तरह से बदल देती है, सूरत का आंदोलन उसकी मिसाल पेश कर रहा है.

INDIA-RIOTS/VERDICT

माया कोडनानी ने की अदालत से अपील, अमित शाह समेत 14 लोगों को भेजा जाए समन

नरोदा पाटिया दंगों की दोषी माया कोडनानी ने अदालत से गुज़ारिश की है कि वे अपने बचाव में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह समेत 14 लोगों की गवाही चाहती हैं.