Anti CAA Protest

ईरानी विदेश मंत्री जवाद जरीफ. (फोटो: रॉयटर्स)

दिल्ली दंगा: ईरान ने भारत से मुसलमानों के खिलाफ निर्रथक हिंसा को फैलने से रोकने की अपील की

दिल्ली दंगों पर आधिकारिक रूप से प्रतिक्रिया देने वाला ईरान चौथा मुस्लिम-बहुल देश बन गया है. इससे पहले इंडोनेशिया, तुर्की और पाकिस्तान पिछले हफ्ते दिल्ली के उत्तर पूर्वी इलाके में हुई हिंसा के खिलाफ टिप्पणी कर चुके हैं.

New Delhi: Charred remains of a vandalised property set ablaze by rioters in Gokulpuri area of the riot-affected north east Delhi, Wednesday, Feb. 26, 2020. At least 22 people have lost their lives in the communal violence over the amended citizenship law as police struggled to check the rioters who ran amok on streets, burning and looting shops, pelting stones and thrashing people. (PTI Photo/Manvender Vashist)(PTI2_26_2020_000192B)

दिल्ली दंगा: धार्मिक स्वतंत्रता मामलों के अमेरिकी आयोग ने चिंता जताई, त्वरित कार्रवाई की अपील

दिल्ली दंगा पर अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता मामलों संबंधी अमेरिकी आयोग, अमेरिका के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बर्नी सैंडर्स और कई अन्य प्रमुख अमेरिकी सांसदों के बयानों पर विदेश मंत्रालय ने कहा कि इन टिप्पणियों का उद्देश्य मुद्दे का राजनीतिकरण करना है.

FILE PHOTO: U.S. 2020 Democratic presidential candidate and Senator Bernie Sanders participates in a moderated discussion at the We the People Summit in Washington, U.S., April 1, 2019. REUTERS/Carlos Barria/File Photo

बर्नी सैंडर्स ने दिल्ली हिंसा पर ट्रंप के बयान की निंदा की, कहा- मानवाधिकार पर नेतृत्व की विफलता

भारत के अपने दो दिवसीय दौरे के अंतिम दिन जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से देश की राजधानी दिल्ली में हिंसा की घटनाओं के बारे में पूछा गया तब उन्होंने कहा था कि जहां तक व्यक्तिगत हमलों के बारे में है, मैंने इसके बारे में सुना, लेकिन मैंने मोदी के साथ चर्चा नहीं की. यह भारत को देखना है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो: ट्विटर/@PIB_India)

सीएए के बारे में कुछ नहीं कहना चाहता, दिल्ली हिंसा पर मोदी से नहीं की चर्चा: डोनाल्ड ट्रंप

अपनी यात्रा के दौरान राजधानी दिल्ली में हो रही हिंसक घटनाओं पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चर्चा करने के सवाल पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के साथ उन्होंने ऐसी कोई चर्चा नहीं की. यह भारत को देखना है.

Mohammad Anas Qureshi, 20, who is a fruit vendor, poses for photo with the national flag of India in front of riot police during a protest against a new citizenship law in Delhi, India, December 19, 2019. Danish Siddiqui, Reuters

सीएए विरोधी जनांदोलन से पैदा हो रहे गीत और कविताएं प्रतिरोध की नई इबारत लिख रहे हैं

नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ चल रहे आंदोलन के मद्देनज़र लिखी गईं कविताएं युवाओं के बीच कविता की लोकप्रियता के प्रति उम्मीद तो जगाती ही हैं, साथ ही इन्होंने युवाओं को सामाजिक-राजनीतिक सरोकारों के प्रति भी सचेत किया है.

Agra: A billboard with the pictures of Prime Minister Narendra Modi and U. S. President Donald Trump put up along side a road, ahead of Trump’s visit to Agra, Saturday, Feb. 22, 2020. (PTI Photo/ Kamal Kishore) (PTI2 22 2020 000034B)

भारत दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने धार्मिक स्वतंत्रता का मुद्दा उठाएंगे डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आगामी दो दिवसीय भारत दौरे से पहले व्हाइट हाउस ने कहा है कि दुनिया अपनी लोकतांत्रिक परंपराओं, धार्मिक अल्पसंख्यकों का सम्मान बनाए रखने के लिए भारत की ओर देख रही है.

(फोटो: पीटीआई)

धार्मिक स्वतंत्रता पर नज़र रखने वाली अमेरिकी एजेंसी ने कहा, भारत के लिए सीएए चिंताजनक

अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता पर नज़र रखने वाली एजेंसी यूएस कमीशन ऑन इंटरनेशनल रिलीजियस फ्रीडम ने नागरिकता क़ानून को लेकर जारी की गई एक रिपोर्ट में हिंदू राष्ट्र बनाने को लेकर भाजपा के कई नेताओं के बयानों को लेकर गंभीर चिंता जताई है.

Shaheen Bagh CAA Protests Reuters

शाहीन बाग़: ‘गांधीजी की अहिंसा की लड़ाई ऐसी ही थी जैसी हमारी, हमारे पास भी बस आवाज़ है’

शाहीन बाग़ में नागरिकता संशोधन क़ानून और एनआरसी के ख़िलाफ़ बैठी महिलाओं का कहना है कि मज़हबी होने का मतलब कट्टरता नहीं बल्कि भाईचारा है. हम हर मज़हब और उसके मानने वालों की इज्ज़त करते हैं. सब अपने-अपने दस्तूर मानें और माननें दें.

Jamia Students Protest Police Reuters

सीएए-एनआरसी के ख़िलाफ़ संसद तक मार्च निकाल रहे जामिया के छात्रों को पुलिस ने रोका, कई घायल

नागरिकता संशोधन क़ानून, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्र संसद तक मार्च निकालने का प्रयास कर रहे थे, जब उन्हें पुलिस द्वारा रोक दिया गया. छात्रों का आरोप है कि पुलिस ने लाठीचार्ज किया और उनके निजी अंगों पर लाठी से वार किए गए, जिसमें कई छात्र-छात्राएं घायल हुए हैं.

Vaishali: BJP National President and Union Home Minister Amit Shah addresses an awareness rally on Citizenship Amendment Act (CAA) at Kharauna Pokhar near Vaishali, Thursday, Jan. 16, 2020. (PTI Photo)  (PTI1_16_2020_000088B)

क्या भाजपा अंग्रेज़ों की फूट डालो-राज करो की नीति पर चल रही है?

सीएए-एनआरसी के ख़िलाफ़ हो रहे प्रदर्शनों में लंबे समय बाद हिंदू-मुस्लिम एकता वापस नज़र आ रही है, जिससे सत्तारूढ़ भाजपा में बेचैनी देखी जा सकती है. ऐसी ही बैचेनी 1857 की क्रांति के बाद अंग्रेज़ों में दिखी थी, जिससे निपटने के लिए उन्होंने फूट डालो-राज करो की नीति अपनाई थी.

uber-ANI

मुंबईः सीएए पर बात कर रहे शख़्स को थाने ले जाने वाले कैब ड्राइवर को भाजपा ने सम्मानित किया

जयपुर के रहने वाले कवि बप्पादित्य बुधवार रात एक कैब में बैठने के बाद फोन पर नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर बात कर रहे थे, जिसे सुनकर कैब ड्राइवर रोहित उन्हें एंटी नेशनल बताते हुए पुलिस थाने ले गया. रोहित को मुंबई भाजपा अध्यक्ष द्वारा सतर्क नागरिक पुरस्कार दिया गया है.

New Delhi: A view of the Supreme Court of India in New Delhi, Monday, Nov 12, 2018. (PTI Photo/ Manvender Vashist) (PTI11_12_2018_000066B)

सुप्रीम कोर्ट ने शाहीन बाग में बच्चे की मौत पर लिया संज्ञान, सोमवार को होगी सुनवाई

दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शन के दौरान चार महीने के बच्चे की मौत के बाद बहादुरी पुरस्कार से सम्मानित बारह साल की छात्रा जेन गुनरत्न सदावर्ते ने सुप्रीम कोर्ट को पत्र लिखकर कहा कि इस तरह के धरना-प्रदर्शन में बच्चों को शामिल करने की मंजूरी नहीं दी जाए.

0502 Sikh Story.00_14_09_22.Still005

पंजाब से शाहीन बाग पहुंचे किसानों ने कहा, धर्म के आधार पर दूसरा बंटवारा नहीं होने देंगे

वीडियोः नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध में बीते लगभग दो महीने से दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे लोगों को समर्थन देने के लिए पंजाब के एक किसान संगठन से लगभग 350 किसान शाहीन बाग पहुंचे, जिनमें 15 महिला किसान भी हैं. इन किसानों से रीतू तोमर की बातचीत.

AKI 5 Feb 2020.00_16_26_11.Still002

नई दिल्ली के शाहीन बाग़ में क्यों बुर्क़ा पहने पकड़ी गई मोदी समर्थक?

वीडियो: दिल्ली के शाहीन बाग़ इलाके में बुधवार दोपहर को प्रदर्शनकारियों ने बुर्का पहनकर पहुंची एक हिंदू महिला को पकड़ा और पुलिस के हवाले कर दिया. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि महिला उनसे अजीबोगरीब सवाल कर रही थी और अपनी गलत पहचान बता रही थी.

डीसीपी राजेश देव. (फोटो: दिल्ली पुलिस)

शाहीन बाग शूटर का आप के साथ संबंध बताने वाले अधिकारी पर चुनाव आयोग ने कार्रवाई की

दिल्ली पुलिस के डीसीपी राजेश देव के खिलाफ कड़ा संज्ञान लेते हुए चुनाव आयोग ने बुधवार को कहा कि उनका बयान ‘पूरी तरह अवांछित’ था और उन्हें चुनावी कार्य से रोक दिया गया है. चुनाव आयोग ने कहा कि देव के व्यवहार से ‘स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराने पर असर पड़ेगा.’