Attack on Journalist

Khayerpur Agartala

त्रिपुरा: भाजपा-माकपा के बीच झड़प की कवरेज पर गए तीन पत्रकारों पर हमला

पुलिस के अनुसार हमले में कोई पत्रकार घायल नहीं हुआ है. वहीं राज्य के एक मीडिया संगठन का कहना है कि यह हमला अचानक हुई घटना नहीं है बल्कि सितंबर में मुख्यमंत्री बिप्लब देब के मीडिया को कथित तौर पर धमकाने के बाद राज्य भर में पत्रकारों पर हुए लगातार हमलों का हिस्सा है.

(फोटो साभार: यूट्यूब)

यूपी: संदिग्‍ध परिस्थिति में झुलसे पत्रकार और उनके साथी की मौत, परिजनों ने जताई हत्‍या की आशंका

मामला उत्तर प्रदेश के बलरामपुर ज़िले का है. मौत से पहले पत्रकार के बयान के आधार पर पुलिस गांव के पूर्व प्रधान सहित तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

इजरावेल मोसेज. (फोटो: स्पेशल अरेंजमेंट)

तमिलनाडु: कथित ड्रग तस्करों ने की पत्रकार की हत्या

मामला तमिलनाडु के कांचीपुरम ज़िले का है. तमिझन टीवी के 29 वर्षीय रिपोर्टर इजरावेल मोसेज ने बीते समय में गांजे की बिक्री और भूमि अतिक्रमण को लेकर कई ख़बरे लिखी थीं. आरोप है कि इसी के चलते उनकी हत्या की गई है.

पत्रकार कमल शुक्ला (फोटो: ट्विटर/तामेश्वर सिंह)

छत्तीसगढ़: पत्रकार पर हमले की जांच के लिए राज्य सरकार ने एसआईटी गठित की

छत्तीसगढ़ के कांकेर ज़िले का मामला. पत्रकार कमल शुक्ला ने कांग्रेस नेताओं पर मारपीट और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया था. मामले को लेकर कांकेर थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है.

पत्रकार कमल शुक्ला (फोटो: ट्विटर/तामेश्वर सिंह)

छत्तीसगढ़: कांग्रेस नेताओं ने कथित तौर पर पत्रकार पर हमला किया, एफआईआर दर्ज

छत्तीसगढ़ के कांकेर ज़िले का मामला. पत्रकार कमल शुक्ला ने कांग्रेस नेताओं पर मारपीट और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है. वहीं एक कांग्रेस नेता ने कमल शुक्ला पर जान से मारने की धमकी देने की शिकायत पुलिस से की है. पुलिस इसे आपसी रंज़िश का मामला बता रही है.

मुख्यमंत्री बिप्लब देब. (फोटो: पीटीआई)

त्रिपुरा: मुख्यमंत्री के मीडिया को कथित तौर पर धमकाने से नाराज़ पत्रकार, कहा- वापस लें बयान

मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने शुक्रवार को कहा था कि ‘कुछ अति उत्साहित अख़बार’ राज्य में कोविड-19 की स्थिति के बारे में जनता में भ्रम फैला रहे हैं, जिन्हें मैं कभी माफ़ नहीं करूंगा. मीडिया संगठनों ने इसकी आलोचना करते हुए कहा है कि राज्य सरकार मीडिया को अपना ग़ुलाम बनाने की कोशिश कर रही है.

Niwari

उत्तर प्रदेश के बाद मध्य प्रदेश में पत्रकार की गोली मारकर हत्या

मध्य प्रदेश के निवाड़ी ज़िले के पुतरीखेरा गांव का मामला. पुलिस ने हत्या की वजह ज़मीन का विवाद बताया है. 21 जुलाई को उत्तर प्रदेश के ग़ाज़ियाबाद में भी एक पत्रकार की गोली मारकर हत्या कर दी थी.

Kolkata: A notice put up on the wall of  studio para after it was closed in wake of the deadly coronavirus pandemic, in Kolkata, Wednesday, March 18, 2020. (PTI Photo/Swapan Mahapatra)(PTI18-03-2020_000156B)

कोरोना वायरस: क्वारंटाइन किए गए परिवारों के बारे में लिखने पर महाराष्ट्र में पत्रकार को पीटा

महाराष्ट्र के अहमदनगर का मामला. पुलिस ने बताया कि हमला करने, दंगा करने के साथ पृथकवास में रहने संबंधी नियम का उल्लंघन करने के लिए 12 लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया है.

नई दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में आकाश नापा. (फोटो: श्रृष्टि श्रीवास्तव)

दिल्ली दंगों के दौरान जिस पत्रकार को गोली लगी, वो किस हाल में है?

विशेष रिपोर्ट: उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों की कवरेज के लिए गए एक स्थानीय चैनल के संवाददाता आकाश नापा को गोली लगी है. वे जीटीबी अस्पताल में भर्ती हैं.

valsad-Map

गुजरातः सरकारी परियोजना पर रिपोर्ट के चलते पत्रकार पर हमला, एक गिरफ़्तार

मामला गुजरात के वलसाड का है. आरोप है कि एक तालाब के सौंदर्यीकरण की परियोजना को लेकर छपी ख़बर से गांव का पूर्व सरपंच नाराज़ था और उसने अपने दो साथियों के साथ मिलकर पत्रकार और उनके परिवार पर हमला किया.

सरगुजा से भाजपा सांसद कमलनाथ सिंह मराबी (फोटो साभार: फेसबुक)

छत्तीसगढ़: भाजपा सांसद के बेटे का पत्रकार और उसके परिवार पर हमला, ख़बर छापने से था नाराज़

सरगुजा ज़िले के जमगला गांव निवासी पत्रकार राजेश गुप्ता ने गांव में नल-जल योजना के तहत हो रहे काम पर ख़बर की थी जिससे नाराज़ भाजपा सांसद कमलभान सिंह के बेटे देवेंद्र सिंह ने उनके घर पर हमला कर दिया.

पत्रकार शांतनु भौमिक. (फोटो साभार: फेसबुक/शांतनु भौमिक)

त्रिपुरा में शांतनु भौमिक की हत्या के ख़िलाफ़ पत्रकारों का प्रदर्शन, सीबीआई जांच की मांग

अगरतला में पत्रकारों ने बुधवार रात त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार के सरकारी आवास के सामने प्रदर्शन किया.

shantanu bhowmik Tripura Journalist

त्रिपुरा में राजनीतिक पार्टी के प्रदर्शन के दौरान पत्रकार की हत्या

पश्चिमी त्रिपुरा जिले के मंडई में इंडीजिनस पीपुल्स फोरम ऑफ त्रिपुरा के एक प्रदर्शन के दौरान टीवी पत्रकार शांतनु भौमिक की हत्या कर दी गई.