Bhandara hospital fire

भंडारा अग्निकांडः बनने के बाद से ही बिना फायर एनओसी के चल रहा था अस्पताल

बीते शनिवार को भंडारा के ज़िला अस्पताल में आग लगने से दस नवजात बच्चों की मौत हो गई थी. अब सामने आया है कि साल 1981 में अस्पताल की स्थापना के बाद से ही स्थानीय दमकल विभाग से अनिवार्य अनापत्ति प्रमाणपत्र यानी एनओसी नहीं लिया गया था.

भंडारा अग्निकांडः अस्पताल में नहीं हुआ था फायर ऑडिट, लंबित था फायर सेफ्टी सिस्टम का प्रस्ताव

महाराष्ट्र के भंडारा ज़िला अस्पताल के सिक न्यूबोर्न केयर यूनिट में शनिवार तड़के आग लगने के बाद दस नवजात शिशुओं की मौत हो गई थी. बताया जा रहा है कि इस यूनिट में अग्निशमन यंत्र तो थे, लेकिन अस्पताल के कर्मचारियों को उन्हें चलाने का प्रशिक्षण नहीं दिया गया था.

महाराष्ट्रः भंडारा ज़िला अस्पताल में आग लगने से दस नवजातों की मौत, जांच के आदेश

शनिवार तड़के भंडारा ज़िला अस्पताल के सिक न्यूबोर्न केयर यूनिट में आग लग गई. यहां कुछ दिनों की उम्र से लेकर कुछ महीनों के 17 नवजात बच्चे थे, जिनमें से सात को ही बचाया जा सका. आग की वजह शॉर्ट सर्किट बताई जा रही है.