Bollywood

अभिनेता राजेश शर्मा. (फोटो साभार: यूट्यूब)

हम हीरो नहीं हैं, हम फिल्म नहीं चुनते, फिल्में हमें चुनती हैं: राजेश शर्मा

खोसला का घोंसला, नो वन किल्ड जेसिका, लव शव ते चिकन खुराना और स्पेशल 26 जैसी फिल्मों में ख़ास भूमिका निभाने वाले अभिनेता राजेश शर्मा से बातचीत.

अभिनेत्री रिचा चड्ढा. (फोटो साभार: फेसबुक/रिचा चड्ढा)

सुरक्षा मिले तो यौन उत्पीड़न करने वालों का खुलासा ज़रूर करूंगी: रिचा चड्ढा

बॉलीवुड अभिनेत्री रिचा चड्ढा ने कहा, यौन उत्पीड़न करने वालों का नाम नहीं लिया जा सकता क्योंकि उसके बाद काम मिलने की गारंटी नहीं होती.

अभिनेत्री कंगना रनौत और फिल्म पद्मावती का पोस्टर. (फोटो साभार: फेसबुक)

हमें अतिराष्ट्रवाद और पितृसत्तात्मक सोच पर हमला करना चाहिए: कंगना रनौत

अभिनेत्री कंगना रनौत ने कहा कि पद्मावती के निर्देशक संजय लीला भंसाली और अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का समर्थन करने के लिए एकजुट होने ज़रूरत है.

फिल्म पद्मावती का पोस्टर और वरिष्ठ अभिनेता मनोज कुमार. (फोटो साभार: फेसबुक/विकिमीडिया)

पद्मावती मामले में निर्माता और प्रदर्शनकारी दोनों की ग़लती: मनोज कुमार

वरिष्ठ अभिनेता और फिल्मकार मनोज कुमार ने कहा, पद्मावती तमिल में भी बनी लेकिन किसी ने उस पर आपत्ति नहीं की.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज​ सिंह चौहान और फिल्म पद्मावती का पोस्टर. (फोटो: पीटीआई/फेसबुक)

पद्मावती के नाम पर तलवारें भांजने वाले सूरमा आत्मदाह करने वाली महिला की मौत पर चुप क्यों हैं?

फिल्म पद्मावती पर भावनाएं आहत हो जाती हैं लेकिन आत्मदाह से एक महिला की मौत पर वही भावनाएं मुर्दा सन्नाटे से भर जाती हैं.

padmavati (1)

‘पद्मावती’ पर बयानबाज़ी को लेकर नेताओं को सुप्रीम कोर्ट की फटकार

फ़िल्म की रिलीज़ से पहले बयानबाज़ी को बताया क़ानून के शासन का उल्लंघन, विदेशों में रिलीज़ रोकने संबंधी याचिका ख़ारिज.

padmavati 2

विवादों में घिरी फिल्म पद्मावती की रिलीज़ की तारीख़ टली

फिल्म के निर्माताओं ने कहा, ‘हम क़ानून का पालन करने वाले कॉरपोरेट नागरिक हैं. फिल्म रिलीज़ करने के लिए ज़रूरी मंज़ूरी जल्द ही हासिल कर लेंगे.’

Amitabh-Bachchan-Modi-Photo-By-PIB

हमारे सुपरस्टार सत्ता की ख़ुशामद क्यों करते हैं?

एक बार शोहरत या पैसा, या दोनों हासिल कर लेने के बाद भारतीय अभिनेता, कारोबारी और खिलाड़ी सामाजिक मुद्दों या सरकार के ख़िलाफ़ बोलकर इसे दांव पर लगाने का ख़तरा मोल नहीं लेना चाहते.

maxresdefault

ऐन इनसिग्निफिकेंट मैन: आम आदमी से दिल्ली के मुख्यमंत्री तक का सफ़र

वीडियो: आम आदमी पार्टी के विकास पर आधारित ऐन इनसिग्निफिकेंट मैन फिल्म की निर्देशक जोड़ी खुशबू रांका और विनय शुक्ला से अजय आशीर्वाद की बातचीत.

Thumbnail 1

मीडिया बोल, एपिसोड 23: फिल्म पद्मावती पर हंगामा है क्यों बरपा?

मीडिया बोल की 23वीं कड़ी में वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलेश फिल्म पद्मावती से जुड़े विवाद पर वरिष्ठ पत्रकार रितुल जोशी और दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रो. अपूर्वानंद से चर्चा कर रहे हैं.

फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर. (फोटो साभार: फेसबुक)

मरने से पहले मैं पाकिस्तान देखना चाहता हूं: ऋषि कपूर

अभिनेता ऋषि कपूर ने फ़ारूक़ अब्दुल्ला का समर्थन करते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर हमारा है और पीओके उनका. इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर किए गए ट्रोल.

शायर और गीतकार जावेद अख़्तर. (फोटो साभार: फेसबुक)

नेताओं को पता होना चाहिए कि उन्होंने देश नहीं बनाया, जनता ने बनाया है: जावेद अख़्तर

मशहूर शायर व गीतकार ने कहा, टीपू सुल्तान भारतीय नहीं थे और अगर मैं इससे सहमत नहीं, तो मैं राष्ट्रद्रोही बन जाऊंगा, तो मैं राष्ट्रद्रोही हूं.

Padmawati-FacebookFinal

भंसाली की फिल्म पद्मावती पर बैन से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अगुवाई में सुनवाई कर रही संवैधानिक पीठ ने कहा कि सेंसर बोर्ड के पास रिलीज़ की अनुमति देने के लिए पर्याप्त दिशा-निर्देश हैं.

An Insignificant Man (1)

‘ऐन इनसिग्निफिकेंट मैन’ फिल्म नहीं, वक़्त के लम्हे में जमा सफ़र है

इस फिल्म के दो नायक हैं, अरविंद केजरीवाल और योगेंद्र यादव. दोनों एक-दूसरे से उतने ही अलग हैं जैसे कि भाप और बर्फ.

Arvind-Kejriwal-Yogendra-Yadav-PTI (2)

‘अरविंद केजरीवाल और योगेंद्र यादव हमारी वर्तमान राजनीति की दो ज़रूरतें हैं’

निर्देशक खुशबू रांका और विनय शुक्ला ने कहा, फिल्म ऐन इनसिग्निफिकेंट मैन भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन से लेकर अरविंद केजरीवाल के एक राजनेता के तौर पर उभरने की कहानी है.

Rukh Movie copy

रुख़ की कहानी ऐसी है जिसे देखते हुए उपन्यास पढ़ने का एहसास होता है: मनोज बाजपेयी

मनोज बाजपेयी बॉलीवुड के उन गिने-चुने कलाकारों में से हैं जो हिट या फ्लॉप की चिंता किए बगैर अपना काम करते हैं. उनकी फिल्म रुख़ इसी शुक्रवार को रिलीज़ हुई है.

Kundan Shah UrbanAsian 1

‘जाने भी दो यारों’, ‘नुक्कड़’ और ‘वागले की दुनिया’ के निर्देशक कुंदन शाह का निधन

साल 2015 में बढ़ती असहिष्णुता और एफटीआईआई अध्यक्ष के रूप में गजेंद्र चौहान की नियुक्ति के विरोध में राष्ट्रीय पुरस्कार लौटाने वाले 24 निर्देशकों में से कुंदन शाह भी एक थे.

Prakash Raj Facebook

मोदी मुझसे बड़े अभिनेता, मैं अपने राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार उन्हें देना चाहता हूं: प्रकाश राज

बाद में अभिनेता ने कहा, ‘मैं मूर्ख नहीं हूं कि ख़ुद को मिले राष्ट्रीय पुरस्कार लौटा दूं. यह मुझे मेरे काम की वजह से मिला है और मुझे इस पर गर्व है.’

Hrishikesh Mukherji

हृषिकेश मुखर्जी: जिसने सिनेमा के साथ दर्शकों की भी नब्ज़ पढ़ ली थी

हृषिकेश सिनेमा के रास्ते पर आम परिवारों की कहानी की उंगली थामे निकले थे. ये समझाने कि हंसी या आंसुओं को अमीर-गरीब के खांचे में नहीं बांटा जा सकता.

pankaj tripathi

हमें किसी ने ब्रेक नहीं दिया, हम एक-एक सीन टपकते-टपकते इकट्ठा हो गए: पंकज त्रिपाठी

पंकज त्रिपाठी जब बिहार के छोटे से गांव से पटना पहुंचे तो उन्हें डॉक्टर बनना था, लेकिन वह छात्र राजनीति में कूद पड़े. राजनीति से रंगमंच के रास्ते उनका सफर मुंबई तक पहुंच गया है.

Yash Chopra 1

यश चोपड़ा: संघ की शाखा से निकला रोमांटिक फिल्मकार

एक शाम किशोर यश चोपड़ा की भाभी ने खाना बनाने के लिए तंदूर में ज्यों-ही आग लगाई, एक बड़े विस्फोट से समूचा घर दहल उठा. तंदूर में यश ने दंगों में इस्तेमाल के लिए बनाए बम छिपाए हुए थे.

bareilly-ki-barfi- 1

कैसा है बरेली की बर्फी का स्वाद?

फिल्म बरेली की बर्फी प्रेम त्रिकोण पर आधारित एक रोमांटिक कॉमेडी फिल्म है, जिसमें कृति सेनॉन, राजकुमार राव और आयुष्मान खुराना मुख्य भूमिकाओं में हैं.

Nawazuddin Siddiqui Dailymotion

‘ये महसूस कराने के लिए धन्यवाद कि मुझे गोरे लोगों के साथ नहीं लिया जा सकता’

अभिनेता नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी ने एक ट्वीट कर कहा, मुझे गोरे और सुंदर लोगों के साथ फिल्म में नहीं लिया जा सकता क्योंकि मैं सांवला हूं और सुंदर नहीं दिखता.

Collage_Pahlaj

‘हमारा देश इतना महान है कि हैदर जैसी भारत-विरोधी फिल्म को भी राष्ट्रीय पुरस्कार मिल जाता है’

साक्षात्कार: सेंसर बोर्ड अध्यक्ष के रूप में पहलाज निहलानी का ढाई साल का कार्यकाल कई तरह के विवादों में रहा. उनसे बातचीत.

aadar jain yrf 2

‘सेंसर बोर्ड कॉरपोरेट की फिल्म तुरंत पास करता है पर छोटे बजट की फिल्मों पर अंकुश लगाता है’

‘राजनीति की तरह ही फिल्म जगत में भी कुछ परिवारों का कब्ज़ा है. दादाजी फिल्म बनाते थे, उनके बेटे बनाते थे. हम जैसे बाहर से आए हुए लोगों को दिक्कत होती है.’

gurudutt featured

गुरुदत्त एक अनसुलझा क्रॉसवर्ड है, जिसमें कोई न कोई शब्द पूरा होने से रह ही जाता है

जन्मदिन विशेष: गुरुदत्त फिल्म इंडस्ट्री का एक ऐसा सूरज थे, जो बहुत कम वक़्त के लिए अपनी रौशनी लुटाकर बुझ गया पर सिल्वर स्क्रीन को कुछ यूं छू कर गया कि सब सुनहरा हो गया.

Konkana Sen Sharma Arre

महिला केंद्रित फिल्मों के लिए पैसा जुटाना अब भी मुश्किल: कोंकणा सेन शर्मा

अभिनेत्री और फिल्मकार कोंकणा सेन ने कहा, मुझे और कल्कि कोचलिन को एक फिल्म करनी थी लेकिन पैसे की कमी की वजह से यह रुक गई है. अगर हम पुरुष होते तो यह नहीं रुकी होती.

smita patil copy

हिंदुस्तानी सिनेमा में महिला स्वर

सिनेमा निर्माण के इतने दशकों के बाद भी हिंदुस्तानी सिनेमा में महिला निर्देशकों की संख्या को उंगलियों पर गिना जा सकता है. सिनेमाई दुनिया में भी घोर लैंगिक असमानता है.

harry1

ट्रेलर में ‘इंटरकोर्स’ सुनकर भड़के निहलानी, उठाएंगे कड़े कदम

इम्तियाज़ अली की आने वाली फिल्म जब हैरी मेट सेजल के डायलॉग प्रोमो में ‘इंटरकोर्स’ शब्द पर आपत्ति जताते हुए सेंसर बोर्ड अध्यक्ष ने ट्रेलर टीवी पर दिखाए जाने पर क़ानूनी कदम उठाने की बात कही है.

Tubelight1

जो जंग की बात करे उसे बंदूक देकर मोर्चे पर भेज दो, जंग ख़त्म हो जाएगी: सलमान

युद्ध पर आधारित अपनी आने वाली फिल्म ‘ट्यूबलाइट’ की प्रेस वार्ता के दौरान सलमान ने कहा जंग में कोई अपना बेटा खोता है तो कोई अपना पिता.

Mumbai Reuters

‘अगर मकान मालिक बनें तो भूलिएगा नहीं कि आप भी कभी किरायेदार थे’

फिल्मीस्तान और एयरलिफ्ट जैसी फिल्मों में काम कर चुके अभिनेता इनामुल हक़ ने मुंबई में किराये का मकान लेने के संघर्ष को लेकर अपनी आपबीती साझा की है.

Reema-Lagoo

अभिनेत्री रीमा लागू का निधन

फिल्मों में मां के रूप में निभाए गए उनके किरदारों के लिए जाना जाता है. फिल्म मैंने प्यार किया में सलमान ख़ान और वास्तव में संजय दत्त की मां का किरदार निभा चुकी थीं.

Chhattisgarh_Women_Reuters-copy 1

क्या अभिनेताओं ने छत्तीसगढ़ में बलात्कार पीड़ित आदिवासी महिलाओं के दर्द को महसूस किया है?

अक्षय कुमार और विवेक ओबरॉय छत्तीसगढ़ में सैनिकों के परिवारों की मदद के लिए आगे आए हैं, उम्मीद है कि वे आदिवासी महिलाओं से होने वाली ज़्यादती से भी वाकिफ़ होंगे.