Elections

19 जून को सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो साभार: पीआईबी)

सरकार कह रही है कि यह राजनीति का समय नहीं, लेकिन वह ख़ुद क्या कर रही है

मुख्य विपक्षी दल के सवाल करने को उसकी क्षुद्रता बताया जा रहा है. 20 सैनिकों के मारे जाने के बाद कहा गया कि बिहार रेजीमेंट के जवानों ने शहादत दी, यह बिहार के लोगों के लिए गर्व की बात है. अन्य राज्यों के जवान भी मारे गए, उनका नाम अलग से क्यों नहीं? सिर्फ बिहार का नाम क्यों? क्या यह क्षुद्रता नहीं?

AKI 12 June 2020.00_15_52_22.Still004

देश कोरोना से लड़ रहा है भाजपा चुनाव लड़ रही है

वीडियो: एक तरफ़ देश में कोरोना का ख़तरा दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है, दूसरी ओर राज्यसभा चुनाव से पहले राजस्थान में सियासी हलचल तेज़ हो चुकी है. इस मुद्दे पर आरफ़ा ख़ानम शेरवानी की द वायर के अजय आशीर्वाद और टॉक जर्नलिज़्म के संस्थापक अविनाश कल्ला से बातचीत.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी. (फोटो: रॉयटर्स)

भाजपा से मुकाबले के लिए लेफ्ट, कांग्रेस, तृणमूल को साथ आना चाहिए: ममता बनर्जी

मुख्यमंत्री बनर्जी ने विपक्षी दलों को आश्वासन दिया कि पंचायत चुनाव में गड़बड़ी और पार्टी कार्यालयों पर कब्जे के बारे में उनकी शिकायतों को सुना जाएगा.

India Violence Reuters

देश की आज़ादी से भी पुरानी हैं चुनावी हिंसा की जड़ें

चुनावी बातें: चुनाव में होने वाली हिंसा की नींव आज़ादी से पहले ही पड़ चुकी थी. झारखंड (तत्कालीन बिहार) में मार्च 1946 में हिंसक तत्वों ने संविधान सभा के प्रतिनिधि के चुनाव को भी स्वतंत्र व निष्पक्ष नहीं रहने दिया था.

(फोटो साभार: फ़ेसबुक)

अगर भाजपा कार्यकर्ता पर किसी ने उंगली उठाई तो वह उंगली सलामत नहीं रहेगी: केंद्रीय मंत्री

केंद्रीय मंत्री और ग़ाज़ीपुर से भाजपा सांसद मनोज सिन्हा ने कहा कि पूर्वांचल का कोई भी अपराधी ग़ाज़ीपुर में घुस नहीं सकता और भाजपा के कार्यकर्ताओं को तिरछी निगाह से नहीं देख सकता. अगर उसने ऐसा करने की हिमाक़त की तो उसकी आंखें नहीं रहेगी.

निर्वाचन आयोग (फोटो: पीटीआई)

लोकसभा चुनाव: त्रिपुरा पूर्व और तमिलनाडु की वेल्लोर सीट पर मतदान पर रोक

वेल्लोर सीट से डीएमके उम्मीदवार के कार्यालय से कथित रूप से भारी मात्रा में नकदी बरामद होने के बाद मामला दर्ज हुआ, जिसके बाद राष्ट्रपति की मंज़ूरी से यहां चुनाव पर रोक लगा दी गई, वहीं त्रिपुरा में ख़राब क़ानून व्यवस्था का हवाला देते हुए मतदान टाला गया है. दोनों सीटों पर 18 अप्रैल को वोटिंग होनी थी.

maxresdefault-3

मीडिया बोल, एपिसोड 89: सबसे लंबे चुनाव के फंडे

मीडिया बोल की 89वीं कड़ी में उर्मिलेश लोकसभा चुनाव की तारीख़ों की घोषणा पर वरिष्ठ पत्रकार आरती जेरथ, जागरण इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट के निदेशक एनआर मोहंती और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स के सह-संस्थापक जगदीप छोकर से चर्चा कर रहे हैं.

1103 AKI.00_15_36_28.Still001

क्यों ये चुनाव पिछले तीन दशक में सबसे अहम हैं

चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव की तारीख़ों की घोषणा कर दी है. आरफ़ा ख़ानम शेरवानी बता रही हैं कि आने वाले चुनाव क्यों अहम हैं.

Harishankar Parsai The Wire Hindi

दूसरे देशों में गाय दूध के लिए होती है, हमारे यहां दंगा करने के लिए

जनता जब आर्थिक न्याय की मांग करती है, तब उसे किसी दूसरी चीज में उलझा देना चाहिए. क्रांति की तरफ बढ़ती जनता को हम रास्ते में ही गाय के खूंटे से बांध देते हैं.

(फोटो: पीटीआई)

गुजरात चुनाव परिणाम: ‘बंदरों ने शेर को तमाचा जड़ दिया है’

गुजरात में भाजपा की मामूली अंतर से जीत को लेकर राजनीति दलों में छिड़ा वाकयुद्ध. शिवसेना और सपा ने कहा- गुजरात मॉडल की पोल खुली, गहलोत बोले- भाजपा की उल्टी गिनती शुरू.

modi-supporters-pti

विधानसभा चुनाव परिणाम: दोनों राज्यों में भाजपा को स्पष्ट बहुमत

गुजरात में भाजपा को 99 और कांग्रेस को 80 सीटों पर जीत मिली, वहीं हिमाचल प्रदेश में भाजपा ने 44 और कांग्रेस ने 21 पर जीत दर्ज की.

अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवाणी. (फोटो साभार: फेसबुक)

गुजरात में जिग्नेश मेवाणी और अल्पेश ठाकोर ने जीत दर्ज की

हार्दिक पटेल बोले, यह कैसी जीत है जिसमें मुट्ठी भर लोगों को छोड़कर पूरा प्रदेश बेबस है. यह हैरान करने वाली बात है. मेरा गुजरात परेशान है.