Icmr

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

क्या कोवैक्सीन को मिली मंज़ूरी पहले टीका लेने वालों के लिए इधर कुआं-उधर खाई वाली स्थिति है

कोवैक्सीन को लेकर जानकारियों/आंकड़ों पर गोपनीयता का पर्दा पड़ा हुआ है और हम एक ऐसी मुश्किल स्थिति में हैं, जिसमें कम से कम कुछ लोगों के पास वैक्सीन लेने के अलावा शायद और कोई विकल्प नहीं है, भले ही उनके मन में अपनी सलामती को लेकर कितना ही संदेह क्यों न हो.

(फोटो: पीटीआई)

कोविड-19: देश में सात महीने बाद एक दिन में संक्रमण के न्यूनतम नए मामले सामने आए

देश में बीते 24 घंटे में कोविड-19 से एक दिन में 137 लोगों ने जान गंवाई है, जो बीते क़रीब आठ महीने में सबसे कम है. दुनियाभर में संक्रमण के 9.55 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 20.40 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.

(फोटो: पीटीआई)

झारखंड: टीका न लगवाने पर सरकारी कर्मचारियों का वेतन रोकने को कहा, विवाद के बाद आदेश वापस

कोडरमा ज़िले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी और जिला स्वास्थ्य समिति की मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी और जिला प्रतिरक्षण अधिकारी एवं एसीएमओ के 16 जनवरी के एक आदेश में सरकारी कर्मचारियों के टीका न लगवाने पर उनका वेतन रोकने की बात कही गई थी, जिसका काफ़ी विरोध हुआ.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

कोविड-19: टीकाकरण जारी, अब तक प्रतिकूल प्रभाव के 447 मामले सामने आए

देश में आठ महीने बाद 24 घंटे में सबसे कम 145 लोगों की मौत के मामले सामने आए, वहीं एक दिन में संक्रमण के 13,788 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 1.5 करोड़ से अधिक हो चुकी है.

(फोटो: रॉयटर्स)

नॉर्वे: फाइजर का कोविड-19 टीका लगवाने के बाद 23 लोगों की मौत

नॉर्वे में फाइजर के कोविड-19 वैक्सीन का पहला टीका लेने के कुछ ही दिनों के अंदर 23 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से 13 की मौत की वजह टीके के साइड इफेक्ट हैं. ये तेरह लोग एक नर्सिंग होम के मरीज़ थे और उनकी उम्र 80 साल के क़रीब थी.

(फोटो: पीटीआई)

कोविड टीकाकरण: दिल्ली में 52 और महाराष्ट्र में 14 लोगों पर साइड इफेक्ट के मामले सामने आए

कोविड-19 टीकाकरण अभियान के पहले दिन देशभर में जिन स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना वायरस का टीका लगाया गया उनमें से 75 से अधिक लोगों में टीकाकरण के बाद प्रतिकूल प्रभाव के मामले सामने आए. दिल्ली में एक गंभीर और 51 मामूली, जबकि महाराष्ट्र में ऐसे 14 मामले सामने आए.

(फोटो: रॉयटर्स)

कोरोना: बीते चौबीस घंटे में सामने आए संक्रमण के 15,144 नए मामले, 181 की मौत

देश में इस समय कोरोना वायरस से संक्रमित 2,08,826 लोगों का उपचार चल रहा है, जो संक्रमितों की कुल संख्या का 1.98 प्रतिशत है. पूरी दुनिया में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 9,45 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं और अब तक 20,22,279 लोगों की जान जा चुकी है.

Bhopal: A medic administers Covaxin, developed by Bharat Biotech in collaboration with the Indian Council of Medical Research (ICMR), during the Phase- 3 trials at the Peoples Medical College in Bhopal, Monday, Dec. 7, 2020. (PTI Photo)(PTI07-12-2020 000173B)

रेज़िडेंट डॉक्टरों ने कोवैक्सीन पर संदेह जताया, भारत बायोटेक ने कहा- साइड इफेक्ट पर देंगे मुआवज़ा

कोवैक्सीन का केवल पहले और दूसरे चरण का ट्रायल पूरा हुआ है, जबकि तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल का अध्ययन अभी किया जा रहा है. दिल्ली के आरएमएल अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने कहा कि उन्हें इसे लेकर कुछ संदेह है और उनमें से अधिकतर टीकाकरण अभियान में हिस्सा नहीं लेंगे.

(फोटो साभार: ट्विटर/स्वास्थ्य मंत्रालय)

कोरोना: देश में टीकाकरण की शुरुआत, बीते चौबीस घंटे में आए संक्रमण के 15,158 नए मामले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत के बाद पहले दिन तीन लाख से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों को टीके की खुराक देने का लक्ष्य है. भारत में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले डेढ़ करोड़ से अधिक हो चुके हैं और संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या डेढ़ लाख से ज़्यादा है.

(फोटो: पीटीआई)

कोविड-19 टीकाकरण अभियान के लिए चुनाव आयोग ने अपने डेटा के इस्तेमाल की मंज़ूरी दी

बीते दिसंबर को केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि आयोग बूथ स्तर पर 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों की पहचान करने में मदद करे. हालांकि चुनाव आयोग चाहता है कि टीकाकरण अभियान समाप्त होने के बाद स्वास्थ्य अधिकारी ये डेटा मिटा दें.

New Delhi: Medics during the launch of a first-of-its-kind Spicehealth Genome Sequencing Laboratory for all positive samples from international travellers, at the airport in New Delhi, Thursday, Jan. 14, 2021. (PTI Photo/Kamal Kishore) (PTI01 14 2021 000063B)

कोरोना वायरस: 24 घंटे के दौरान 15,590 नए मामले और 191 लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 10,527,683 हो गए हैं और मरने वालों की संख्या बढ़कर 151,918 हो गई है. विश्व में संक्रमण के 9.3 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आए हैं और 19.95 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.

(फोटो: पीटीआई)

कोरोना वैक्सीन को मंज़ूरी तो मिल गई, लेकिन सरकार का इन दस सवालों के जवाब देना बाक़ी है

बीते दिनों भारत के औषध महानियंत्रक यानी डीसीजीआई ने सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीके कोविशील्ड और भारत बायोटेक के स्वदेश में विकसित टीके कोवैक्सीन के देश में सीमित आपात इस्तेमाल को मंज़ूरी दी है. हालांकि इनको लेकर उठे सवाल अब भी अनुत्तरित हैं.

**HANDOUT PHOTO MADE AVAILABLE FROM DELHI INTERNATIONAL AIRPORT LIMITED (DIAL) ON TUESDAY, JAN. 12, 2021** New Delhi: First consignment of COVID-19 vaccination arrives at Delhi Airport in a special SpiceJet flight from Pune, in New Delhi, Tuesday, Jan. 12, 2021. (PTI Photo)(PTI01 12 2021 000010B)

कोरोना वायरस: कुल मामले 10,512,093 हुए और 151,727 लोगों की मौत

भारत में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस के 16,946 नए मामले आए हैं और 198 लोगों की मौत हुई है. विश्व में संक्रमण के 9.2 करोड़ से ज़्यादा मामले हो गए हैं और 19.78 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. ब्रिटेन में एक दिन में 1564 लोगों की मौत हुई है, जो पिछले साल महामारी के पैर पसारने के बाद सबसे बुरा आंकड़ा है.

(फोटोः पीटीआई)

कोरोना वायरस: बीते 24 घंटे के दौरान 15,968 नए मामले सामने आए और 202 लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10,495,147 हो गई है और अब तक 151,529 लोगों की मौत हुई है. विश्व में संक्रमण के 9.1 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आए हैं, 19.62 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

Sand artist Sudarsan Pattnaik creates a sand sculpture on the novel coronavirus with an awareness message at Puri beach of Odisha. PTI Photo

कोरोना वायरस: देश में क़रीब सात महीनों में सबसे कम 12,584 नए मामले सामने आए

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 10,479,179, हो गई है और मृतक संख्या बढ़कर 151,327 हो गई है. विश्व में 9.09 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आए हैं, जबकि 19.34 लाख से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.