India China Relation

Chinese President Xi Jinping (R) guides Indian Prime Minister Narendra Modi to a meeting room in Xian, Shaanxi province, China, May 14, 2015.  REUTERS/Kim Kyung-Hoon

भारत के बड़े नेताओं, जजों, रक्षा अधिकारियों, क़ारोबारियों पर नज़र रख रही है चीनी कंपनी: रिपोर्ट

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार चीन की झेन्‍हुआ डेटा इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी कंपनी लिमिटेड द्वारा भारत के प्रभावशाली नेताओं जैसे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों समेत कई क़ारोबारी समूहों के अधिकारियों पर भी नज़र रखी जा रही है.

Ayodhya: A hoarding of PM Narendra Modi and other leaders put up beside a statue of Lord Hanuman, ahead of the foundation laying ceremony of Ram Temple, in Ayodhya, Thursday, July 30, 2020. (PTI Photo)(PTI30-07-2020 000044B)

क्या राम मंदिर की आड़ में अपनी विफलताएं छिपा रही है मोदी सरकार

यह मानने के पर्याप्त आधार हैं कि राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए चुना गया यह समय एक छोटी रेखा के बगल में बड़ी रेखा खींचने की क़वायद है, ताकि नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार की बढ़ती असफलताएं जैसे- कोविड कुप्रबंधन, बदहाल होती अर्थव्यवस्था और गलवान घाटी प्रसंग- इस परदे के पीछे चले जाएं.

(प्रती​कात्मक फोटो: रॉयटर्स)

भारत और चीन के सैनिकों के बीच गलवान घाटी में पहली बार मई में हुआ था टकराव: रिपोर्ट

भारत और चीन की सेनाओं के बीच 15 जून को पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में हिंसक झड़प हुई थी, जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे.

तमिलनाडु के मामल्लापुरम में प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग. (फोटो: पीआईबी)

भारत और चीन कारोबार, निवेश, सेवा क्षेत्र से जुड़े विषयों पर एक तंत्र स्थापित करेंगे

विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की बातचीत वुहान शिखर सम्मेलन के बाद की प्रगति पर केंद्रित रही और अनौपचारिक शिखर सम्मेलन में न तो कश्मीर मुद्दा उठा और न ही इस पर कोई चर्चा हुई.