India

New Delhi: ITBP personnel and health workers sit beside beds at Sardar Patel COVID Care Centre and Hospital, in New Delhi, Saturday June 27, 2020. (PTI Photo/Kamal Kishore)(PTI27-06-2020 000185B)

कोरोना वायरस: एक दिन में पहली बार 24,850 नए मामले दर्ज, सर्वाधिक 613 लोगों की मौत

भारत में यह लगातार तीसरा दिन है, जब कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 20 हज़ार से अधिक दर्ज हुए हैं. महाराष्ट्र में मामले दो लाख और तमिलनाडु में एक लाख के पार हुए. भारत संक्रमण के मामले में रूस के क़रीब पहुंचा.

0407 Kabir Pod.01_06_02_14.Still005

चीन के साथ छिड़े ‘ट्रेड वॉर’ में चीन से ज़्यादा नुकसान भारत का है

वीडियो: ​सीमा पर जारी गतिरोध के बीच चीन से सभी व्यापार बंद करने और वहां से आने वाले सामानों पर प्रतिबंध लगाने की मांग हो रही है. इस मुद्दे पर अर्थशास्त्री और अंतरराष्ट्रीय व्यापार ​नीति के विशेषज्ञ अरविंद पनगढ़िया से द वायर के कबीर अग्रवाल की बातचीत.

New Delhi: A young woman stands outside a shop at Khan Market during Unlock 2.0, in New Delhi, Thursday, July 2, 2020. (PTI Photo/Kamal Singh)(PTI02-07-2020 000078B)

कोविड-19: लगातार दूसरे दिन संक्रमण के नए मामले रिकॉर्ड स्तर पर, पहली बार 22 हज़ार के पार

भारत में कोराना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 648,315 हो गई है, जबकि मृतक संख्या 18,655 पर पहुंच गई है. विश्व में 1.1 करोड़ अधिक मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि 5.25 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

Salvatore Girone (C) and Latorre Massimiliano (3rd R), members of the navy security team of Napoli registered Italian merchant vessel Enrica Lexie, are escorted as they leave a courtroom at Kollam in Kerala March 5, 2012. Credit: Reuters/Sivaram V/Files

भारतीय मछुआरों की हत्या के आरोप में दो इतालवी नौसैनिकों पर भारत में नहीं चलेगा मुक़दमा

साल 2012 में भारत ने इटली के दो नौसैनिकों पर दो भारतीय मछुआरों की हत्या का आरोप लगाया था. अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता अदालत ने भारत को इनके ख़िलाफ़ आपराधिक कार्यवाही को रोकने का आदेश दिया है और कहा कि भारत इस मामले में मुआवज़े का हक़दार है.

Bulgarian poster "Отвори очи: Кампания срещу насилието над жени" (Open Your Eyes: A campaign against gender violence) /Wikimedia Commons (CC BY-SA 2.0)

जून में राष्ट्रीय महिला आयोग को महिलाओं के ख़िलाफ़ अपराधों की सर्वाधिक शिकायतें मिलीं

आंकड़ों के अनुसार पिछले साल सितंबर के बाद महिलाओं के ख़िलाफ़ हुए विभिन्न अपराधों की सर्वाधिक शिकायतें इस साल जून में दर्ज की गईं. इससे पहले लॉकडाउन में घरेलू हिंसा और प्रताड़ना के मामले बढ़ने की बात सामने आई थी, जिसे केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने ग़लत बताया था.

लद्दाख में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो साभार: narendramodi.in)

लद्दाख में बोले प्रधानमंत्री मोदी, कमज़ोर शांति की पहल नहीं कर सकता, वीरता शांति की पूर्व शर्त

शुक्रवार को लद्दाख के औचक निरीक्षण पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने थलसेना, वायुसेना और आईटीबीपी के जवानों को संबोधित करते हुए बिना चीन का नाम लिए कहा कि विस्तारवाद का युग समाप्त हो गया है, यह विकासवाद का युग है.

(फोटो: पीटीआई)

कोरोना वायरस: पहली बार संक्रमण के नए मामले 20 हज़ार के पार, कुल मामले 625,544 हुए

भारत में कोरोना वायरस महामारी के कारण अब तक 18,213 लोगों की मौत हो गई है और विश्व में 5.21 लाख से अधिक लोग जान गंवा चुके हैं. विश्व में संक्रमण के 1.08 करोड़ से अधिक मामले सामने आए हैं.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

उत्तर प्रदेश और बिहार में आकाशीय बिजली गिरने से 34 लोगों की मौत

बिहार के आठ जिलों में गुरुवार को आंधी और बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से 26 लोगों की मौत हो गई. वहीं, उत्तर प्रदेश में एक 18 वर्षीय युवती समेत आठ लोगों की मौत हो गई.

मार्च महीने में इटली के मिलान में मालपेंसा एयरपोर्ट पर क्यूबाई डॉक्टर्स का दल. (फोटो: रॉयटर्स)

कोविड-19 संकट के दौरान मिसाल बनकर उभरा क्यूबा

एक ऐसे समय में जब विकसित कहे जाने वाले देशों में कोरोना संक्रमितों की तादाद बढ़ती जा रही है, अस्पतालों से महज़ मरीज़ों की ही नहीं बल्कि डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के गुजरने ख़बर आना अपवाद नहीं रहा, क्यूबा सरीखे छोटे-से मुल्क़ ने इससे निपटने में अपनी गहरी छाप छोड़ी है.

New Delhi: A view of a newly created COVID-19 care facility with over 10,000 beds at Radha Soami Beas, in New Delhi, Saturday, June 27, 2020. A team of over 1,000 doctors, nurses and paramedic staff of the ITBP and other paramilitary forces have been earmarked to work at the facility. (PTI Photo/Kamal Kishore)(PTI27-06-2020 000266B)

कोरोना वायरस: सिर्फ़ पांच दिन में ही संक्रमण के मामले पांच से छह लाख के पार हुए

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 604,641 हो गई है, जबकि 17,834 जान गंवा चुके हैं. विश्व में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10.7 करोड़ से ज़्यादा हो गई है और मरने वालों की संख्या 5.16 लाख से अधिक है. महामारी से दूसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राज़ील में मरने वालों की संख्या 60 हज़ार के पार हो गई है.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

दुनियाभर में लापता हुई कुल महिलाओं में से साढ़े चार करोड़ से अधिक भारतीय: यूएन रिपोर्ट

संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष द्वारा जारी एक रिपोर्ट में बताया गया है कि साल 2013 से 2017 के बीच भारत में हर साल क़रीब साढ़े चार लाख बच्चियां जन्म के समय ही लापता हो गईं. प्रतिवर्ष लापता होने वाली अनुमानित 12 से 15 लाख बच्चियों में से 90 प्रतिशत से ज़्यादा चीन और भारत की होती हैं.

(फोटो: रॉयटर्स)

कोरोना वायरस: भारत में एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 500 के पार

भारत में इस महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 17,400 हो गई, जबकि संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 585,493 पर पहुंच गई. विश्व में अब तक 5.11 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है और संक्रमण के मामले बढ़कर 1.04 करोड़ से अधिक हो गए हैं.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

मध्य प्रदेश में शिशु मृत्यु दर सबसे ज़्यादा, केरल में सबसे कम: रिपोर्ट

भारत के रजिस्ट्रार जनरल और जनगणना आयुक्त के नए आंकड़ों के मुताबिक पिछले एक के दौरान भारत में शिशु मृत्यु दर में मामूली सुधार हुआ है, 2017 में यह प्रति हज़ार पर 33 थी जो 2018 में 32 हो गई है.

​हादसे में घायल कर्मचारियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. (फोटो: एएनआई)

विशाखापट्टनम में फिर गैस रिसाव से दो की मौत, दो महीने के भीतर आंध्र प्रदेश में तीसरा हादसा

इससे पहले विशाखापट्टनम शहर के पास आरआर वेंकटपुरम गांव स्थित एलजी पॉलीमर्स संयंत्र में सात मई को हुए गैस रिसाव से क़रीब 11 लोगों की मौत हो गई थी. बीते 28 जून को एक फर्टिलाइज़र प्लांट में अमोनिया गैस के रिसाव से एक व्यक्ति की मौत हो गई थी.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

दिल्ली सरकार ने अप्रैल से जून तक किसी बच्चे को मिड-डे मील योजना का लाभ नहीं दिया: आरटीआई

आरटीआई दस्तावेज़ों से पता चला है कि दिल्ली सरकार ने मार्च महीने में मिड-डे मील के तहत पके हुए भोजन के बदले में छात्रों के खाते में कुछ राशि डाली है, लेकिन ये भोजन पकाने के लिए निर्धारित राशि से भी कम है. इसके अलावा ये धनराशि भी सभी पात्र लाभार्थियों को नहीं दी गई है.