infection

(फोटोः रॉयटर्स)

एन-95 मास्क की गुणवत्ता को लेकर ट्वीट करने वाले एम्स डॉक्टर को कारण बताओ नोटिस जारी

बीती 25 मई को एम्स में मनोचिकित्सा विभाग के एक वरिष्ठ रेजिडेंट डॉक्टर राजकुमार श्रीनिवास ने एक ट्वीट कर भारत में बने एन-95 मास्क की गुणवत्ता और मानकों को लेकर सवाल उठाए थे. उन्होंने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और आईसीएमआर द्वारा जारी एन-95 मास्क से संबंधित आंकड़ों को भी झूठ बताया था.

1705 Srishti Mono.00_11_40_19.Still004

दिल्ली: एम्स के 200 कर्मचारी कोरोना वायरस की ज़द में

वीडियो: दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. यहां तक की देश के सबसे बड़े अस्पताल एम्स में भी डॉक्टर और नर्स समेत अन्य स्वास्थ्यकर्मी इसकी चपेट में आ रहे हैं. एम्स में अब तक क़रीब 200 कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए हैं. एम्स रेज़िडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने इसके लिए मास्क और पीपीई किट की ख़राब गुणवत्ता को ज़िम्मेदार ठहराया है.

मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह. (फोटो साभार: फेसबुक)

मणिपुर लौट रहे जो लोग क्वारंटीन में नहीं रहेंगे, उन्हें जेल भेज दिया जाएगा: मुख्यमंत्री

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह ने कहा कि हमारी प्राथमिकता इस बीमारी को सामुदायिक स्तर पर फैलने से रोकना है.

Mumbai: A billboard set up by BMC to raise awareness on the novel coronavirus (COVID-19) outbreak, at a bus stop in Mumbai, Monday, March 16, 2020. The coronavirus outbreak, which originated in Wuhan, China, has claimed over 6,000 lives and has infected close to 160,000 people world over. (PTI Photo)(PTI16-03-2020_000116B)

गुजरात: अहमदाबाद में बस अड्डे पर लावारिस हालत में मिला कोरोना मरीज का शव

67 वर्षीय मृतक को अहमदाबाद सिविल अस्पताल के कोविड आइसोलेशन वार्ड में 10 मई को भर्ती कराया गया था. 13 मई को उनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी, जिसके बाद परिवार के अन्य सदस्यों को भी आइसोलेशन में भेज दिया गया था.

AKI 7 May second.00_17_46_02.Still003

गुजरात में काबू से बाहर कोरोना, अहमदाबाद में अर्धसैनिक बल तैनात

वीडियो: गुजरात में कोरोना वायरस महामारी की वजह से स्थिति काफी गंभीर है. अहमदाबाद में महामारी के प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन लॉकडाउन को और सख़्त बनाने पर काम कर रहा है.

(प्रतीकात्मक तस्वीर: रॉयटर्स)

मध्य प्रदेश: मोतियाबिंद ऑपरेशन के बाद कथित तौर पर चार मरीज़ों की आंख की रोशनी गई

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के गृहनगर छिंदवाड़ा के सरकारी अस्पताल का मामला. मरीज़ों के परिजनों ने ‘सीएम हेल्पलाइन’ पर शिकायत की और दोषी डॉक्टरों पर कार्रवाई करने की मांग की है. इससे पहले इंदौर शहर में 11 लोगों ने ऑपरेशन के बाद आंख की रोशनी चली जाने की शिकायत की थी.

इंदौर आई हॉस्पिटल (फोटो साभार: एएनआई)

इंदौर: मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद 11 लोगों ने खोई आंखों की रोशनी, जांच के आदेश

8 अगस्त को राष्ट्रीय अंधत्व निवारण कार्यक्रम के तहत इंदौर आई हॉस्पिटल में 13 मरीजों के मोतियाबिंद ऑपरेशन किए गए थे, जिनमें से ग्यारह ने ऑपरेशन के बाद कुछ दिखाई न देने की बात कही है.

internet pti

दुनिया के 99 देशों पर साइबर हमला कर मांगी फिरौती

रैन्समवेयर एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जिससे एक कम्प्यूटर में वायरस आ जाता है और यूज़र तब तक इसे खोल नहीं पाता जब तक कि वह इसे अनलॉक करने के लिए रैन्सम (फिरौती) नहीं देता.