Ministry of External Affairs

India Pakistan Flag Reuters

पाक अधिकृत कश्मीर के संविधान में पाकिस्तान सरकार के संशोधन पर भारत ने आपत्ति जताई

विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान सरकार को कब्ज़ा किए गए किसी क्षेत्र के क़ानून में बदलाव का कोई अधिकार नहीं, उसे जम्मू कश्मीर के ऐसे हिस्सों से निकल जाना चाहिए.

EP 214 RAW

जन गण मन की बात, एपिसोड 214: इराक़ में 39 भारतीय की हत्या के पीछे का सच क्या है?

जन गण मन की बात की 214वीं कड़ी में विनोद दुआ इराक़ में मारे गए 39 भारतीयों को लेकर केंद्र सरकार के खुलासे पर चर्चा कर रहे हैं.

Sangowawa: A family member of one of the 38 Indian workers feared killed in Iraq, grieves at her home in Sangowawa village about 28 km from Amritsar on Tuesday. External Affairs Minister Sushma Swaraj in a statement made at Rajya Sabha today, stated that the 39 bodies exhumed from a mount in Badoosh in Iraq have been identified as those of abducted Indians and will be brought back to India on a special plane. PTI Photo(PTI3_20_2018_000155B)

इराक़ में मारे गए भारतीयों के परिवारवालों ने पूछा, केंद्र सरकार ने हमें अंधेरे में क्यों रखा?

विपक्ष ने केंद्र की मोदी सरकार पर संवेदनहीन होने का आरोप लगाया. मारे गए हर भारतीय के परिजनों के लिए मांगा दो करोड़ रुपये का मुआवज़ा.

इस्लामाबाद स्थित विदेश मंत्रालय के कार्यालय में कुलभूषण जाधव के साथ उनकी मां और पत्नी. (फोटो साभार: ट्विटर/@ForeignOfficePk)

सवाल पाक की बदसलूकी का ही नहीं, आपकी रहबरी का भी है

क्या कारण है कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज नहीं बता पा रहीं कि वे और उनका मंत्रालय जाधव की मां व पत्नी को पाकिस्तान के मानवीय मुलाकात के झांसे से बचाने में क्यों विफल रहे?

इस्लामाबाद स्थित विदेश मंत्रालय के कार्यालय में कुलभूषण जाधव के साथ उनकी मां और पत्नी. (फोटो साभार: ट्विटर/@ForeignOfficePk)

कुलभूषण जाधव से उनकी मां को मातृभाषा में बात करने से रोका गया: भारत

विदेश मंत्रालय ने कहा कि सुरक्षा एहतियात की आड़ में जाधव के परिवार के सदस्यों की सांस्कृतिक और धार्मिक संवेदनाओं का ध्यान नहीं रखा गया.

Kulbhushan Jhadav

पाकिस्तान ने दी जाधव को पत्नी और मां से मिलने की इजाज़त

पाकिस्तान सरकार ने आश्वासन दिया है कि पाकिस्तान प्रवास के दौरान जाधव की मां और पत्नी की सुरक्षा का ध्यान रखा जाएगा. साथ ही उनके साथ एक भारतीय राजनयिक को रहने की अनुमति दी जाएगी.

DawoodHafiz

जांच एजेंसियों ने नहीं की दाउद और हाफ़िज़ के प्रत्यर्पण की कोई मांग: विदेश मंत्रालय

हाफ़िज़ सईद मुंबई आतंकी हमला मामले में और दाउद इब्राहिम 1993 के मुंबई श्रृंखलाबद्ध बम विस्फोट मामले में वांछित है.