mob lynching

(फोटो: गूगल मैप)

पालघर मॉब लिंचिंग: 134 गिरफ्तार आरोपियों में से 61 न्यायिक और 51 पुलिस हिरासत में भेजे गए

महाराष्ट्र के पालघर मॉब लिंचिंग मामले में पुलिस ने तीन प्राथमिकियां दर्ज की हैं. दो साधुओं समेत तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्या किए जाने के पहले मामले में अदालत ने सात में से छह आरोपियों को 19 मई तक की पुलिस हिरासत में भेज दिया, वहीं एक किशोर आरोपी को किशोर न्याय बोर्ड के पास भेजा गया.

स्वामी अग्निवेश. (फोटो: पीटीआई)

जब मेरे ऊपर हमला हुआ था तब क्यों चुप थी बीजेपी और मीडिया: स्वामी अग्निवेश

वीडियो: बीते दिनों महाराष्ट्र के पालघर में भीड़ ने चोरी के शक में दो साधुओं समेत तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी. इस मामले को लेकर स्वामी अग्निवेश ने सवाल उठाया कि जब उन पर हमला हुआ था तब सरकार और मीडिया कहां थी. उनसे आरफ़ा ख़ानम शेरवानी की बातचीत.

(फोटो: एएनआई)

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में दो पुजारियों की हत्या, एक गिरफ़्तार

यह घटना बुलंदशहर के पगोना गांव की है. आरोप है कि मंदिर से पुजारियों का चिमटा चुराए जाने पर हुए विवाद के बाद आरोपी ने तलवार से दोनों की हत्या कर दी.

(फोटो साभार: फेसबुक)

रिपब्लिक टीवी पर प्रतिबंध के लिए बॉम्बे और कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिकाएं दायर

कांग्रेस नेताओं ने रिपब्लिक टीवी प्रबंधन और इसके संपादक अर्णब गोस्वामी के ख़िलाफ़ बॉम्बे हाईकोर्ट का रुख़ किया. वहीं, बेंगलुरु के एक आरटीआई कार्यकर्ता ने कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिका दायर की.

AKI 20 April.01_40_15_11.Still007

कौन पालघर लिंचिंग को सांप्रदायिक रंग दे रहा है?

वीडियो: महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं सहित तीन लोगों की चोरी की अफवाह में पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. पुलिस का कहना है कि गांव वालों ने तीनों पीड़ितों को चोर समझ लिया था. इस मुद्दे पर द वायर की सीनियर आरफ़ा ख़ानम शेरवानी ने दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर अपूर्वानंद से चर्चा की.

अर्णब गोस्वामी (फोटोः पीटीआई)

सोनिया गांधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी मामले में अर्णब गोस्वामी की गिरफ़्तारी पर तीन हफ़्ते की रोक

रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्णब गोस्वामी ने एक टीवी डिबेट के दौरान कथित तौर पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के ख़िलाफ़ आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर कई राज्यों में अपने ख़िलाफ़ दर्ज एफआईआर को चुनौती देने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख़ किया था.

Jharkhand lynching Jabir Ansari

झारखंड: चोरी के आरोप में भीड़ ने युवक को बेरहमी से पीटा, छह गिरफ़्तार

घटना हज़ारीबाग ज़िले में हुई, जहां रामगढ़ के पतरातू के रहने वाले 25 साल के जाबिर अंसारी को चोरी के इल्ज़ाम में उग्र भीड़ ने बेरहमी से पीटा. पीड़ित के परिजनों ने उनकी मुस्लिम पहचान के चलते पीटे जाने का आरोप लगाया है.

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख. (फोटो: ट्विटर/@AnilDeshmukhNCP)

पालघर मॉब लिंचिंग में गिरफ्तार 101 आरोपियों में से कोई भी मुस्लिम नहीं: महाराष्ट्र गृहमंत्री

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देखमुख ने कहा कि पालघर में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में गिरफ्तार किए गए 101 लोगों में से कोई भी मुस्लिम नहीं है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि इस घटना के बाद साम्प्रदायिक राजनीति की जा रही है.

डॉ. साइमन हरक्यूलस. (फोटो: फेसबुक)

तमिलनाडु: कोरोना संक्रमित डॉक्टर के शव के अंतिम संस्कार के दौरान भीड़ का हमला, 20 गिरफ्तार

कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वाले 55 वर्षीय डॉक्‍टर साइमन हरक्यूलिस के शव को दफनाने के दौरान भीड़ ने एम्बुलेंस पर हमला बोल दिया, जिससे सभी लोगों को शव छोड़ भागना पड़ा. बाद में एक सहकर्मी ने दो कर्मचारियों के साथ आधी रात को शव को दफनाया.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे. (फोटो: पीटीआई)

पालघर मॉब लिंचिंग हिंदू-मुस्लिम या किसी भी तरह की सांप्रदायिक घटना नहीं है: उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से अनुरोध किया कि वे उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करें जो पालघर जिले में भीड़ हत्या के मामले को सांप्रदायिक रंग दे रहे हैं.

(फोटो: गूगल मैप)

महाराष्ट्र: दो साधुओं समेत तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्या, नौ नाबालिगों सहित 100 से अधिक गिरफ्तार

मामला महाराष्ट्र के पालघर जिले का है. महाराष्ट्र पुलिस का कहना है कि सभी आरोपी पालघर जिले के विक्रमगढ़ तालुका के स्थानीय आदिवासी हैं. मामले की जांच कर रहे अधिकारी ने दावा किया कि गांव वालों ने तीनों पीड़ितों को चोर समझ लिया था.

(फोटो: गूगल मैप)

महाराष्ट्रः पालघर में चोरी के शक़ में तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्या

यह घटना गुरुवार रात को पालघर के कासा पुलिस थाना इलाके में हुई. इस संबंध में 30 लोगों को हिरासत में लिया गया है.

Screenshot (22)

दिल्ली: कोरोना वायरस फैलाने की साज़िश रचने के शक़ में युवक की पिटाई

मामला दिल्ली के बवाना इलाके का है. पुलिस ने कहा कि तबलीगी जमात के एक कार्यक्रम से मध्य प्रदेश के भोपाल से लौटे 22 वर्षीय महबूब अली जब अपने गांव पहुंचा तो अफवाह फैल गई कि उसकी कोरोना वायरस फैलाने की योजना है.

Jharkhand Gumla

झारखंड: मुस्लिमों द्वारा थूककर कोरोना फैलाने की अफवाह के बाद हुई झड़प में युवक की मौत

झारखंड के गुमला ज़िले में ये अफवाह उड़ायी गई थी कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलाने के लिए मुस्लिम जान-बूझकर जगह-जगह पर थूक रहे हैं.

(फोटो साभार: फेसबुक)

बिहार: कोरोना संदिग्ध लोगों की सूचना देने पर युवक की पीट-पीटकर हत्या, सात गिरफ़्तार

बीते 25 मार्च को झारखंड के पलामू ज़िले में कोरोना वायरस से सुरक्षा के मद्देनज़र कुछ लोगों को घर में रहने की सलाह देने पर एक दुकानदार पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी.