protests

आईआईटी मद्रास (फोटो: ट्वीटर)

तमिलनाडु: सरकार ने आईआईटी छात्रा की आत्महत्या की सीबीआई जांच की याचिका का विरोध किया

आईआईटी मद्रास में प्रथम वर्ष की छात्रा फ़ातिमा लतीफ़ ने नौ नवंबर को छात्रावास में आत्महत्या कर ली थी. केरल मूल की छात्रा के पिता ने आईआईटी के एक प्रोफेसर पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है.

द्रमुक के कार्यकर्ता आईआईटी मद्रास के बाहर फातिमा लतीफ़ आत्महत्या मामले की निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर प्रदर्शन करते हुए. (फोटो: पीटीआई)

तमिलनाडु: आईआईटी छात्रा आत्महत्या को लेकर डीएमके ने किया प्रदर्शन, पिता ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की

आईआईटी मद्रास में प्रथम वर्ष की छात्रा फ़ातिमा लतीफ़ ने नौ नवंबर को छात्रावास में आत्महत्या कर ली थी. केरल मूल की छात्रा के पिता ने आईआईटी के एक प्रोफेसर पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है.

(फाइल फोटो: पीटीआई)

केरल: वेतन न मिलने से परेशान बीएसएनएल कर्मचारी ने आत्महत्या की

मामला मल्लापुरम ज़िले के निलाम्बुर का है, जहां बीएसएनएल के एक अनुबंधित कर्मचारी ने अपने दफ्तर में फांसी लगा ली. श्रमिक संघ ने बताया कि अनुबंधित कर्मचारियों को पिछले 10 महीनों से वेतन नहीं मिला है और बीते 130 दिन से वे बकाया वेतन की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं.

(फोटो: पीटीआई)

दिल्ली में उसी जगह पर बनेगा संत रविदास का मंदिर, सुप्रीम कोर्ट ने दी मंज़ूरी

कोर्ट ने इसके लिए 400 वर्ग मीटर भूमि देने के केंद्र के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया. इससे पहले केंद्र ने मंदिर पुनर्निर्माण के लिए 200 वर्ग मीटर भूमि देने के लिए कहा था.

Saharanpur: Bhim Army chief Chandrashekhar Azad after being released from Saharanpur Jail, in Saharanpur, Friday, Sept 14, 2018. Azad was arrested from Himachal Pradesh's Dalhousie in June last year in connection with the May 5 caste violence in which one person was killed and 16 others were injured at Shabbirpur village in Saharanpur. (PTI Photo) (PTI9_14_2018_000122B)

संत रविदास मंदिर मामले में गिरफ़्तार भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद को ज़मानत मिली

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान दिल्ली के तुगलकाबाद स्थित संत रविदास मंदिर दोबारा बनाने के लिए केंद्र सरकार ने 200 वर्ग मीटर जमीन देने का प्रस्ताव रखा है. हालांकि, आंदोलनकारियों ने सरकार की पेशकश को धोखा करार देते हुए मानने से इनकार कर दिया है.

(फोटो: पीटीआई)

कोर्ट ने दिल्ली में रविदास मंदिर निर्माण के लिए सभी पक्षकारों से सर्वमान्य हल निकालने को कहा

कोर्ट के निर्देश पर दिल्ली विकास प्राधिकरण ने तुग़लक़ाबाद स्थित रविदास मंदिर को ध्वस्त कर दिया था. कोर्ट ने पक्षकारों से कहा, आप ऐसा समाधान निकालें जो सबके लिए ठीक हो. हम सभी की भावनाओं का सम्मान करते हैं लेकिन क़ानून का पालन तो करना ही होगा.

New Delhi: Bollywood actor Amitabh Bachchan during an event in New Delhi, Friday, Sept 28, 2018. (PTI Photo/Ravi Choudhary) (PTI9_28_2018_000124B)

मुंबई मेट्रो के पक्ष में ट्वीट करने पर अमिताभ बच्चन के घर के बाहर प्रदर्शन

मुंबई मेट्रो परियोजना के तहत कार शेड बनाने के लिए बृहन्मुंबई नगर निगम ट्री अथॉरिटी ने आरे कॉलोनी में 2600 से ज़्यादा पेड़ों को काटने का आदेश दिया है. पर्यावरणविद् और सामाजिक कार्यकर्ता प्रशासन के इस क़दम का विरोध कर रहे हैं.

(फोटो: रॉयटर्स)

छह हवाई अड्डे की देखरेख अडानी समूह को देने के विरोध में दिल्ली समेत कई जगहों पर प्रदर्शन

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की विभिन्न यूनियनों के समूह ने कहा कि विरोध प्रदर्शन छह सितंबर तक चलेगा. सरकार ने लखनऊ, अहमदाबाद, जयपुर, मंगलुरु, तिरुवनंतपुरम और गुवाहाटी हवाई अड्डों को विकसित और उनका प्रबंधन करने का ठेका अडानी समूह को दे दिया है.

सरदार सरोवर बांध के विस्थापितों के उचित पुनर्वास की मांग को लेकर नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेता मेधा पाटकर मध्य प्रदेश में बड़वानी ज़िले के छोटा बड़दा गांव में सत्याग्रह कर रही हैं. (फोटो साभार: नर्मदा बचाओ आंदोलन)

सरदार सरोवर बांध: लोगों का पुनर्वास करने की जगह उन्हें डुबाने पर क्यों अमादा है सरकार?

सरदार सरोवर बांध में बारिश का पानी भरने से मध्य प्रदेश में नर्मदा घाटी में बसे 192 गांव और एक कस्बे के डूबने का ख़तरा है. इससे लगभग 32 हज़ार लोग प्रभावित होंगे. सुप्रीम कोर्ट के तमाम आदेशों के बावजूद यहां रहने वाले लोग आज भी पुनर्वास का बाट जोह रहे हैं.

Ravidas-Temple-PTIi

वुमेन प्रेस कॉर्प्स ने भीम आर्मी को प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए दी मंजूरी रद्द की

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद के वकील ने कहा कि इस प्रेस कॉन्फ्रेंस का मकसद यह बताना था कि दिल्ली के एक पुलिस थाने के भीतर अदालत लगाकर 96 कार्यकर्ताओं को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया.

Ravidas Temple Protest PTI-min

रविदास मंदिर मामला: भीम आर्मी प्रमुख समेत 96 लोग 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे गए

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर डीडीए ने 10 अगस्त को तुगलकाबाद स्थित संत रविदास मंदिर गिरा दिया था, जिसे लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं.

दिल्ली के संत रविदास मंदिर को गिराये जाने के विरोध में बुधवार को विरोध प्रदर्शन करते दलित समुदाय के लोग. (फोटो: पीटीआई)

दिल्ली: संत रविदास मंदिर गिराने के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन, भीम आर्मी प्रमुख गिरफ़्तार

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर तुगलकाबाद स्थित संत रविदास मंदिर गिराने के विरोध में दलित संगठनों ने बुधवार को रामलीला मैदान में रैली की थी, जो बाद में हिंसक हो गई थी. इसके बाद भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद सहित करीब 100 लोगों को हिरासत में ले लिया गया.

सुप्रीम कोर्ट (फोटो: पीटीआई)

पुदुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी के ख़िलाफ़ ​मद्रास हाईकोर्ट के फैसले को केंद्र ने दी चुनौती

बीते दिनों मद्रास हाईकोर्ट ने यह व्यवस्था दी थी कि पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी केंद्र शासित प्रदेश की निर्वाचित सरकार के रोज़मर्रा के कार्यों में हस्तक्षेप नहीं कर सकती हैं.

पुदुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी और मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी. (फोटो साभार: फेसबुक)

पुदुचेरी: उपराज्यपाल किरण बेदी के ख़िलाफ़ धरने पर बैठे मुख्यमंत्री नारायणसामी

धरने पर बैठे पुदुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी ने कहा कि चुनी हुई सरकार के रोज़मर्रा के कामकाज़ में दख़लअंदाज़ी करने को लेकर उपराज्यपाल किरण बेदी के ख़िलाफ़ यह उनका शांतिपूर्वक धरना है.

आसिया बीबी. (फोटो साभार: www.thenational.ae)

पाकिस्तान: ईशनिंदा के आरोप से ईसाई महिला को बरी किए जाने पर हिंसा और प्रदर्शन

ईशनिंदा के आरोप से पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट द्वारा बरी की गईं ईसाई महिला आसिया बीबी मौत की धमकियों के चलते पाकिस्तान छोड़ सकती हैं. आसिया के पति ब्रिटेन से पाकिस्तान पहुंचे.

राज्यसभा में गुरुवार को नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद. ​​(फोटो: पीटीआई)

मनमोहन पर मोदी की कथित टिप्पणी को लेकर संसद में पांचवें दिन भी हंगामा

प्रधानमंत्री मोदी की पाकिस्तान के साथ मिलकर साज़िश संबंधी कथित टिप्पणी पर गतिरोध जारी. दोनों सदनों में कांग्रेस मोदी के माफ़ी मांगने तक अड़ी.

Amar Akbar Anthony 1

सेकुलर भारत की याद दिलाती है अमर अकबर एंथनी

एक अलग भारत और उसके केंद्रीय मूल्यों को याद कराने के लिए फिल्म अमर अकबर एंथनी बुरा विचार नहीं है. यह आज के नौजवानों को यह बतलाएगा कि भारत हमेशा से वैसा नहीं था, जैसा कि आज है.

A U.S. Marine tank launches flamethrower in action near Da Nang, Vietnam, 1965.  REUTERS/Courtesy U.S. Army

यह याद रखना चाहिए सरकार का विरोध करना अपराध नहीं है

आज के नव उग्र-राष्ट्रवादी समय में यह याद करना फ़ायदेमंद होगा कि परिपक्व राष्ट्र युद्ध के समय भी साधारण व्यक्तियों या सुपरस्टारों को भी आधिकारिक ‘लकीर’ से अलग चलने की आज़ादी देता है.