sachin pilot

बसपा प्रमुख मायावती. (फोटो: पीटीआई)

राजस्थान में बसपा के सभी छह विधायक कांग्रेस में शामिल हुए

इस विलय के बाद संख्या बल के हिसाब से राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस के 106 विधायक, भाजपा के 72, माकपा, आरएलपी व बीटीपी के दो-दो विधायक हो गए हैं. इसके अलावा 13 विधायक निर्दलीय हैं जबकि दो सीटें खाली हैं.

अशोक गहलोत. (फोटो: पीटीआई)

सचिन पायलट को जोधपुर सीट से मेरे बेटे की हार की ज़िम्मेदारी लेनी चाहिएः अशोक गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पायलट साहब ने कहा था कि कांग्रेस जोधपुर की सीट पर बहुत भारी बहुमत से जीतेगी. हमने शानदार प्रचार किया तो मैं समझता हूं कि पायलट साहब कम से कम उस सीट की ज़िम्मेदारी तो लें. जोधपुर सीट का पूरा पोस्टमॉर्टम होना चाहिए कि हम लोग क्यों नहीं जीते.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट. (फोटो: पीटीआई)

गहलोत से राहुल की नाराज़गी के बाद राजस्थान सरकार में मतभेद, सचिन पायलट को सीएम बनाने की मांग

लोकसभा चुनाव में मिली क़रारी हार के बाद राजस्थान कांग्रेस में इसकी जवाबदेही और ज़िम्मेदारी तय किए जाने की मांग उठी. कृषि मंत्री के इस्तीफ़ा देने की चर्चा. पार्टी पदाधिकारियों और नेताओं की बयानबाज़ी से संकट और गहराया.

(फोटो: पीटीआई)

राजस्थान: क्या वोटरों ने ‘मोदी तुझसे बैर नहीं, वसुंधरा तेरी ख़ैर नहीं’ के नारे को दोहराया है?

महज़ पांच महीने पहले राजस्थान की सत्ता पर काबिज हुई कांग्रेस लोकसभा चुनाव में प्रदेश की एक भी सीट नहीं जीत पाई है.

MOdi Shah Rahul Priyanka PTI

क्या जनता परिवारवाद, यारवाद और पैसावाद को लेकर चिंतित है?

एक नागरिक और कार्यकर्ता के रूप में सतर्क रहना चाहिए कि राजनीति चंद परिवारों के हाथ में न रह जाए. लेकिन इस सवाल पर बहस करने योग्य न तो अमित शाह हैं, न नरेंद्र मोदी और न राहुल गांधी. सिर्फ जनता इसकी योग्यता रखती है. जब तक ये नेता कोई साफ़ लाइन नहीं लेते हैं, परिवारवाद के नाम पर इनकी बकवास न सुनें.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट. (फोटो साभार: ट्विटर)

क्या राजस्थान में सत्ता के दो केंद्र लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए मुसीबत खड़ी कर सकते हैं?

टिकट वितरण और मुख्यमंत्री पद के लिए अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच हुई रस्साकशी मंत्रिमंडल के गठन में भी जारी रही. यदि दोनों के बीच ज़ोर आजमाइश यूं ही चलती रही तो कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में इसका ख़ामियाज़ा भुगतना पड़ सकता है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फोटो: पीटीआई)

क्या राहुल गांधी नरेंद्र मोदी का विश्वसनीय विकल्प बन सकते हैं

राहुल गांधी को लेकर संशय ख़त्म नहीं हुआ है. उन्हें अब भी यह साबित करना है कि वे नरेंद्र मोदी का व्यावहारिक विकल्प हैं.

Jaipur: Rajasthan Governor Kalyan Singh shakes hands with newly sworn-in Chief Minister Ashok Gehlot as Deputy Chief Minister Sachin Pilot looks on, during the swearing-in-ceremony of Gehlot's government, in Jaipur, Monday, Dec. 17, 2018. (PTI Photo) (PTI12_17_2018_000128B)

राजस्थान: अशोक गहलोत ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, सचिन पायलट बने उप मुख्यमंत्री

अशोक गहलोत 1998 में पहली बार और 2008 में दूसरी बार मुख्यमंत्री बने थे. सचिन पायलट लोकसभा सदस्य और मनमोहन सरकार में केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं.

राजस्थान विधानसभा भवन. (फोटो साभार: http://www.rajassembly.nic.in)

एडीआर की रिपोर्ट में खुलासा, राजस्थान के 46 विधायकों के ख़िलाफ़ दर्ज हैं आपराधिक मामले

एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस के 99 में से 25 विधायकों, भाजपा के 73 में से 12 विधायकों और बसपा के छह में से दो विधायकों के ख़िलाफ़ आपराधिक मामले दर्ज हैं.

राजस्थान के होने वाले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ मध्य प्रदेश के होने वाले मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया. (फोटो: पीटीआई)

अशोक गहलोत होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री और सचिन पायलट उप मुख्यमंत्री

कमलनाथ को हाथों में होगी मध्य प्रदेश की कमान. मध्य प्रदेश 18वें मुख्यमंत्री बनने वाले कमलनाथ 17 दिसंबर को लेंगे शपथ.

अशोक गहलोत. (फोटो: पीटीआई)

जनता इस चुनाव में महलों और महंगे होटलों में रुकने वालों को ज़मीन पर ला देगी: अशोक गहलोत

साक्षात्कार: विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की संभावनाओं और पार्टी में मुख्यमंत्री पद को लेकर चल रही खींचतान पर राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के संगठन महासचिव अशोक गहलोत से अवधेश आकोदिया की बातचीत.

vasundhara-modi-pti

राजस्थान के चुनावी रण में भाजपा के मुक़ाबले में लौटने की चर्चा में कितना दम है?

विशेष रिपोर्ट: चुनावी सर्वेक्षणों के आधार पर यह कहा जा रहा था कि भाजपा की राजस्थान से विदाई तय है, लेकिन टिकट वितरण और धुंआधार प्रचार को देखकर सियासी गलियारों में यह चर्चा जोरों पर है कि पार्टी मुक़ाबले में लौट आई है.

राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट. (फोटो: पीटीआई)

क्या मुख्यमंत्री बनने का ख़्वाब देख रहे सचिन पायलट ख़ुद के बनाए चक्रव्यूह में फंस गए हैं?

विशेष रिपोर्ट: राजस्थान में कांग्रेस की कमान संभाल रहे सचिन पायलट न तो ख़ुद विधानसभा का चुनाव लड़ना चाहते थे और न ही अशोक गहलोत को चुनावी मैदान में उम्मीदवार की हैसियत से उतरता हुआ देखना चाहते थे, लेकिन उनकी इस योजना पर एक झटके में पानी फिर गया.

New Delhi: Dausa MP Harish Chandra Meena speaks at a press conference after joining the Congress party, at AICC headquarters in New Delhi, Wednesday, Nov 14, 2018. Rajasthan Congress chief Sachin Pilot is also seen. (PTI Photo/Subhav Shukla) (PTI11_14_2018_000097)

भाजपा सांसद हरीश मीणा ने थामा कांग्रेस का हाथ, भाजपा विधायक हबीबुर्रहमान भी शामिल

कांग्रेस के संगठन महासचिव अशोक गहलोत और राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट भी चुनाव मैदान में उतरेंगे.