Samajwadi Party

Agra: Samajwadi Party President Akhilesh Yadav addresses a press conference in Agra on Wednesday, on the eve of the partys national convention. PTI Photo (PTI10 4 2017 000160B) *** Local Caption ***

जनता को बांटकर तरक्की नहीं हो सकती: अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अच्छे दिनों का सपना दिखाकर सत्ता हथियाने का काम किया गया, लेकिन भाजपा के शासनकाल में सभी वर्ग परेशान हैं.

PTI9_12_2017_000133B

‘अगर योगी आदित्यनाथ हमें न्याय नहीं दिला सकते तो गोरखपुर जाकर घंटा बजाएं’

उत्तर प्रदेश के शिक्षामित्रों ने अपनी ​विभिन्न मांगों को लेकर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के जंतर मंतर पर विशाल प्रदर्शन किया.

Baba Ramdev Facebook 1

‘रामदेव के गुरु जब हरिद्वार में साइकिल से भटक रहे थे, उनके शिष्य ज़मीन-गाड़ियां खरीद रहे थे’

योगगुरु से उद्योगपति के रूप में उभरे बाबा रामदेव पर प्रियंका पाठक नारायण से उनकी किताब ‘गॉडमैन टू टाइकून’ के बारे में बातचीत.

Akhilesh Yadav, state party president and son of the Samajwadi Party President Mulayam Singh Yadav, speaks during a news conference at their party headquarters in the northern Indian city of Lucknow March 6, 2012. India's Congress party trailed in fourth place as vote counting neared its end in Uttar Pradesh on Tuesday, a bitter election blow to Rahul Gandhi who had staked his political future on reviving his party's fortunes in the populous northern state. The runaway winner was the socialist Samajwadi Party, which means former wrestler Mulayam Singh Yadav will become chief minister for a fourth term since 1989, ousting the flamboyant lower-caste leader Mayawati. REUTERS/Stringer (INDIA - Tags: POLITICS ELECTIONS) - RTR2YX69

कोई भाजपा से अलग हो तो भूमाफिया होता है, उससे जुड़ जाए तो पवित्र हो जाता है: अखिलेश

सपा अध्यक्ष ने कहा, जिन्हें पार्टी छोड़कर जाना हैं वे बिना कोई बहाना बनाए जा सकते हैं ताकि पता चले कि बुरे वक़्त में कौन साथ है.

indian-parliament

राज्यसभा में सांसद बोले, डॉक्टर्स और केमिस्ट मिलकर ग़रीबों को लूट रहे हैं

बोले सांसद, अमेरिकी कंपनियों के दबाव में सरकार ने 127 दवाओं को नॉन-जेनेरिक कर दिया और उनको देश को लूटने की आज़ादी दे दी.

फाइल फोटो: पीटीआई

विपक्षी एकता: कोई सूरत नज़र नहीं आती

भाजपा को मात देने के लिए विपक्षी दलों की गोलबंदी भले शुरू हो गई हो, लेकिन फ़िलहाल ऐसा कोई मुद्दा सामने नहीं आया है जो भाजपा के विरोध में हलचल पैदा कर सके.

Gayatri Prajapati Allahabad High Court 1

गैंगरेप के आरोपी पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति को ज़मानत देने वाले न्यायाधीश निलंबित

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा, जिस तरह से जानकार न्यायाधीश ने अपराध की गंभीरता की अनदेखी कर ज़मानत देने में जल्दबाज़ी दिखाई, उससे उनकी मंशा पर संदेह होता है.

MayaAkhilesh

यूपी में मिली करारी हार के बाद सपा, बसपा और कांग्रेस ​क्या कर रही हैं?

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव परिणाम आने के बाद से सपा में घमासान जारी है तो बसपा प्रमुख मायावती के तेवर नरम पड़े हैं. वहीं कांग्रेसी ‘गठबंधन ग़लती था’ का राग अलाप रहे हैं. यूपी में सपा, बसपा और कांग्रेस की हार को एक महीने से ज्यादा का […]

Mayawati and her brother Anand Kumar

भारतीय राजनीति और परिवारवाद

राजनीति में परिवारवाद से दूर रहने की सबसे ज़्यादा ज़रूरत दलित-पिछड़े नेतृत्व को है, लेकिन दुखद यह है कि ये ताकतें सबसे पहले अपने परिवार को ही अपनी विरासत सौंपती हैं.

Akhilesh Mayawati The Wire Hindi

क्यों बिहार का राजनीतिक प्रयोग यूपी में दोहरा पाना नामुमकिन नहीं लेकिन मुश्किल ज़रूर है

उत्तर प्रदेश में भाजपा की बड़ी जीत के बाद से सपा-बसपा गठबंधन की चर्चा लगातार चल रही है, लेकिन जानिए वो दस वजहें जो बताती हैं क्यों उत्तर प्रदेश बिहार नहीं बन सकता है.

e410dcd1-3296-40e7-a974-3ba6eda75ee3

क्यों यूपी विधानसभा में उर्दू में शपथ लेना अवैध है और संस्कृत में वैध?

संस्कृत हिंदू धर्म ग्रंथों की भाषा है, इसीलिए भाजपा का उससे कुछ अधिक ही लगाव है. यह अलग बात है कि इस भाषा की समृद्ध साहित्यिक-दार्शनिक विरासत से उसका कोई ख़ास परिचय नहीं है.

akhilesh mulayam

मोदी ने क्या गलत कहा, जो बाप का नहीं हुआ, वो किसी का नहीं हो सकता: मुलायम

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने बेटे अखिलेश यादव पर आरोप लगाया कि पिछले पांच साल में कई बार उन्होंने उनका अपमान किया है.

राज्यसभा सांसद सचिन तेंडुलर और रेखा (फोटो: पीटीआई)

संसद आने के इच्छुक नहीं तो सचिन और रेखा इस्तीफा क्यों नहीं दे देते: नरेश अग्रवाल

सपा सांसद नरेश अग्रवाल ने क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और अभिनेत्री रेखा सहित राष्ट्रपति द्वारा नामांकित सदस्यों के लगातार अनुपस्थित रहने का मुद्दा उठाया.

yogi

योगी को बसपा और सपा दोनों ही सरकारों ने बढ़ावा दिया

योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने की बधाई के हकदार उनके ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज न करने वाले पुलिस अधिकारी, ख़बरों को दबाने वाले पत्रकार, मुलायम सिंह यादव, मायावती और अखिलेश यादव भी हैं. बिना इनके सहयोग के योगी आज माननीय मुख्यमंत्री न बन पाते.

?????????????????????????????????????????????????????????

‘अयोध्या में मंदिर-मस्जिद से बड़ी बात आपस में अमन-चैन है’

हाशिम अंसारी राम जन्मभूमि विवाद से जुड़े सबसे पुराने पक्षकार थे. पिछले साल जुलाई में उनका देहांत हो गया. अपनी मौत के तीन महीने पहले इस पत्रकार से उन्होंने कहा था, ‘अयोध्या में रहने वाले लोग इस मसले से ऊब चुके हैं और इसका समाधान चाहते हैं लेकिन कुछ बड़े लोगों का इसमें राजनीतिक स्वार्थ है जो नहीं चाहते हैं कि मामला हल हो.’

Mulayam-Kashiram 1

सामाजिक न्याय को चुनावी तिकड़म से आगे ले जाने की ज़रूरत है

सामाजिक न्याय के इच्छुक जाति समूहों का एक बड़ा मध्यवर्ग तैयार है, जो सामूहिक रूप से निर्णायक स्थिति में है. ज़रूरत है इनके नेतृत्व और सहयोग से सामाजिक न्याय को दूसरे चरण तक ले जाने की, वरना राजनीति का दूसरा पक्ष पहले से ही तैयार है.

UP Poll 1

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 750 रुपये में पड़ा एक वोट

एक गैर सरकारी संगठन ने अपने सर्वेक्षण में दावा किया है कि इस बार उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में नोट के बदले वोट लेेने के लिए उम्मीदवारों ने तकरीबन एक हज़ार करोड़ रुपये खर्च किए.

PTI9_25_2016_000140B

क्या भाजपा के विजय-रथ का पहिया बना दैनिक जागरण का एक्ज़िट पोल?

अलग-अलग चरणों में पार्टी के चुनावी प्रदर्शन में असमानता इस बात का सबूत है कि ‘अच्छी खबर’ चुनावी पासे को पलटने में मदद कर सकती है.

Gayatri_Prajapati_PTI1

गैंगरेप के आरोपी गायत्री प्रजापति गिरफ़्तार, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे गए

एक महिला से सामूहिक बलात्कार और उसकी बेटी से छेड़खानी के आरोपी सपा नेता गायत्री प्रजापति को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया गया. उन्हें पोस्को अदालत ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

Narendra Modi 40

‘विपक्षी दलों को भाजपा से सीखने की ज़रूरत है’

विपक्ष को एक नए भारत का सपना बुनना होगा जो भाजपा के हिंदूवादी, आर्थिक आधार पर खड़े विचार को चुनौती दे सके. एक ऐसा भारत जिसमें अस्मिता और देशभक्ति भी शामिल हो, विकास और सम्पन्नता की सोच भी.

Mayawati akhilesh

‘यूपी का चुनाव परिणाम सामाजिक न्याय के नेताओं की राजनीति की हार है’

लोकतंत्र में हर पल अपने समाज और वोटरों के बारे में सोचते रहना पड़ता है, लेकिन दुखद यह है कि उत्तर भारत के सामाजिक न्याय के सभी बड़े नेता सिर्फ अपने परिवार और रिश्तेदार के बारे में सोचते हैं, उन जनता के बारे में नहीं जिनके वोट से ये मसीहा बने थे.

BJP 22

‘उत्तर प्रदेश का चुनाव परिणाम डराता भी है’

भले ही जनता ने मोदी को विधानसभा में प्रचंड बहुमत दे दिया है लेकिन लोकसभा की तरह उसे यहां भी निराश होना पड़ेगा. वजह साफ है कि न तो मोदी के पास कोई बड़ी दृष्टि है और न ही उनके पास स्थितियों को समझने का धैर्य.

Modi 1

उत्तर प्रदेश में आकार लेता ‘मोदी वोट बैंक’!

अगर भाजपा जातियों के अंतर्विरोधों और संसाधनों में हिस्सेदारी की मार-काट को काबू में रख सकी तो जब तक मोदी का नाम चलेगा, ये वोट बैंक भी चलेगा.

UP-election-BJP-BSP-SP

क्या आप भी इस सवाल से परेशान हैं कि यूपी में कौन जीत रहा है?

यह ऐसा सवाल है जिसका जवाब हर कोई जानना चाह रहा है. अब तक यह सवाल आपसे इतनी बार पूछा जा चुका होगा कि आपको जवाब रट गया होगा. फिलहाल अगले कुछ घंटे आप इन समीकरणों पर भी विचार कीजिए.

modi-varanasi-pti

बनारस की छवि को बार-बार बेचा गया है

ग्राउंड रिपोर्ट: मीडिया द्वारा बनारस की मूल समस्याओं से ध्यान हटाकर उसे लंका से काशी विश्वनाथ और बीएचयू पर केंद्रित कर दिया गया. इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पक्ष या विपक्ष में कर दिया गया. यह न तो जनतंत्र के लिए ठीक बात है और न ही पत्रकारिता के लिए.

MYLAYAM-AND-WIFE-SADHNA 1

कभी नहीं सोचा था कि नेताजी के जीते जी अखिलेश अलग होगा: साधना यादव

सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव की पत्नी साधना यादव ने मंगलवार को लखनऊ में कहा कि उन्हें लगता है कि अखिलेश को किसी ने गुमराह किया है.

Notes

यूपी में चुनाव लड़ रहे विधायकों की संपत्ति पांच साल में 82 फीसदी बढ़ी: एडीआर

एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट के मुताबिक यूपी में फिर से चुनाव लड़ रहे विभिन्न दलों के 311 विधायकों की औसत संपत्ति वर्ष 2012 में 3.49 करोड़ रुपये थी जो इस साल बढ़कर 6.33 करोड़ रुपये हो गई है.

IMG-20170305-WA0007

देखौ गुरु! ई बनारस है, मोदी हों या अखिलेश, इहां सबको मत्था टेकना पड़ता है…

ग्राउंड रिपोर्ट: होली के पहले बनारस में चुनाव का रंग चढ़ा हुआ है और यहां का माहौल देखकर लगता है कि इस बार की होली कुछ ज़्यादा ही लाजवाब होने वाली है.

Muzaffarpur : Women voters wait in a queue to cast their votes during fourth phase of Bihar elections in Muzaffarpur on Sunday. PTI Photo  (PTI11_1_2015_000133B)

यूपी चुनाव: छठे चरण में दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर, विकास का मुद्दा गायब

इस चरण में भाजपा के हिंदुत्ववादी नेता सांसद महंत आदित्यनाथ के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर और माफिया-राजनेता मुख्तार अंसारी के क्षेत्र मऊ तथा केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र के संसदीय क्षेत्र देवरिया में चुनाव पर खास नजर रहेगी.

Sudhindra Bhadauria Amit Singh

वीडियो: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव पर बसपा नेता सुधींद्र भदौरिया के साथ चर्चा

उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव पर बसपा नेता सुधींद्र भदौरिया के साथ द वायर के अमित सिंह की बातचीत.

A supporter of India's main opposition Bharatiya Janata Party (BJP) waves the party's flag during a rally being addressed by Gujarat's Chief Minister and Hindu nationalist Narendra Modi, the prime ministerial candidate for BJP, ahead of the 2014 general elections, at Meerut in the northern Indian state of Uttar Pradesh February 2, 2014. REUTERS/Ahmad Masood (INDIA - Tags: POLITICS ELECTIONS)

क्या भाजपा को लगता है कि यूपी में ‘सांप्रदायिकता’ ही आख़िरी सहारा है?

राज्य में चार चरण के मतदान के बाद नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने सांप्रदायिकता का नारा बुलंद करने में कोई कसर नहीं छोड़ी, पर यह तो वक़्त ही बताएगा कि उनकी विभिन्न जातियों के हिंदुओं को साथ लाने की ये कोशिश कामयाब होगी या नहीं.

nomedic

ग्राउंड रिपोर्ट: हमारे लोकतंत्र में घुमंतू समुदाय को कब मिलेगा हक़?

घुमंतू समुदाय गांव के सार्वजनिक और सांस्कृतिक जीवन में घुले-मिले हैं. वे विकसित हो रहे जनतंत्र में अपना स्पष्ट हिस्सा मांग रहे हैं.

pollcampaign 1

गोंडा से ग्राउंड रिपोर्ट: जाति, धर्म, धन और धुरंधर लोकतंत्र की शान

यूपी के गोंडा का जायज़ा लेने से पता चला कि पार्टियां भले ही कालाधन लाने, परिवारवाद मिटाने की बातें करें लेकिन चुनाव में जीत धन बल और बाहुबल से ही मिलती है.

Nirvachan Sadan

जाति और धर्म आधारित भड़काऊ बयानों से बचें नेता: चुनाव आयोग

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कई नेताओं के धार्मिक भावनाएं भड़काने वाले बयानों पर संज्ञान लेते हुए चुुनाव आयोग ने आत्मसंयम बरतने की नसीहत दी है.