Sansad Adarsh Gram Yojana

(फोटो: रिज़वाना तबस्सुम)

सांसद आदर्श ग्राम योजना: यूपी में 104 ग्राम पंचायतों में से महज 15 ने पूरे किए मानक

योजना का प्रथम चरण 11 अक्टूबर, 2014 को शुरू किया गया था. रिपोर्ट के मुताबिक, ज्यादातर ग्राम पंचायतों में पाइप से पेयजल की परियोजना पूरी नहीं की गई. करीब 30 प्रतिशत ग्राम पंचायतों में ठेकेदारों ने यह परियोजना ग्राम पंचायत अधिकारियों के हवाले नहीं की.

बीते दिनों नई दिल्ली के रामलीला मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली हुई. इसमें ​भाजपा सांसद मनोज तिवारी, हर्षवर्धन, रमेश बिदूड़ी, प्रवेश वर्मा आदि नज़र आए. (फोटो साभार: ट्विटर)

दिल्ली के सात सांसदों ने गोद लिए आठ गांव, कोई नहीं बन सका आदर्श

ग्राउंड रिपोर्ट: दिल्ली के सात सांसदों ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गांवों को गोद लिया था. उत्तर पूर्वी दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी ने कादीपुर और चौहानपट्टी गांव, पूर्वी दिल्ली से सांसद महेश गिरि ने चिल्ला गांव, दक्षिणी दिल्ली से सांसद रमेश बिधूड़ी ने भाटी कलां गांव, पश्चिमी दिल्ली से सांसद प्रवेश वर्मा ने झड़ौदा कलां गांव, नई दिल्ली सीट से सांसद मीनाक्षी लेखी ने पिलंजी गांव, चांदनी चौक संसदीय सीट से सांसद डॉ. हर्षवर्धन सिंह ने धीरपुर गांव और उत्तर पश्चिमी दिल्ली से सांसद उदित राज ने जौंती गांव को गोद लिया था.

Yogi Adityanath Model Village

जिस गांव को योगी आदित्यनाथ ने गोद लिया, वो किस हाल में है?

ग्राउंड रिपोर्ट: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गोरखपुर के जंगल औराही गांव को गोद लिया है.

New Delhi: Delhi BJP President and party's North East Delhi candidate, Manoj Tiwari, before filing his nomination for the Lok Sabha elections, at his residence in New Delhi, Monday, April 22, 2019. (PTI Photo/Manvender Vashist)(PTI4_22_2019_000044B)

मनोज तिवारी के आदर्श गांव की ज़मीनी हक़ीक़त

ग्राउंड रिपोर्ट: भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष और उत्तर-पूर्वी दिल्ली सीट से सांसद मनोज तिवारी ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत दिल्ली के दो गांवों- चौहानपट्टी सभापुर और कादीपुर को गोद लिया है.

साल 2014 में वाराणसी के जयापुर गांव को गोद लेने पर हुए समारोह के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो साभार: पीआईबी)

जिस गांव को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोद लिया था क्या वह ‘आदर्श’ बन पाया?

ग्राउंड रिपोर्ट: साल 2014 में लोकसभा चुनाव जीतने के बाद प्रधानमंत्री और वाराणसी के सांसद नरेंद्र मोदी ने ज़िले के जयापुर गांव को आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिया था.