Sitamarhi

भारत-नेपाल सीमा. (सभी फोटो: अभिनव प्रकाश)

भारत-नेपाल के बीच तनाव का ख़ामियाज़ा सरहद के दोनों ओर के नागरिक भुगत रहे हैं

भारत और नेपाल के बीच मौजूदा तनाव के चलते दोनों देशों के सीमांत गांवों के बीच आवाजाही एकदम ठप है. दोनों ओर के स्थानीय मानते हैं कि इसका नुकसान आम लोगों को ही भुगतना पड़ रहा है.

Sitamarhi

नेपाल ने गोलीबारी में मारे गए भारतीय का शव लौटाया, गिरफ़्तार ​व्यक्ति को भी रिहा किया

नेपाल में कोरोना वायरस के कारण 14 जून तक लॉकडाउन है. बीते 12 जून को बिहार के सीतामढ़ी ज़िले का एक परिवार अपने रिश्तेदारों से मिलने नेपाली सीमा के अंदर गया था. भारतीयों की मौजूदगी पर नेपाली सेना के जवानों ने आपत्ति जताई, जिसके ख़िलाफ़ लोग प्रदर्शन कर रहे थे, जब नेपाली सेना ने गोली चला दी थी.

Sitamarhi

नेपाल पुलिस की गोलीबारी में भारतीय युवक की मौत और दो घायल, एक भारतीय गिरफ्तार

बिहार के सीतामढ़ी से लगी नेपाली सीमा के अंदर हुई घटना. अधिकारियों ने बताया कि नेपाल में 14 जून तक लागू लॉकडाउन का उल्लंघन कर आए भारतीयों की मौजूदगी पर नेपाली सेना के जवानों ने आपत्ति जताई, जिसके ख़िलाफ़ लोग प्रदर्शन कर रहे थे, जब जवानों ने उन पर गोली चला दी.

Bihar Bhaskar Quarantine Centre Report

बिहार: क्वारंटीन सेंटर में अव्यवस्थाओं की रिपोर्ट पर दैनिक भास्कर के पत्रकार के ख़िलाफ़ एफआईआर

सीतामढ़ी ज़िले में एक क्वारंटीन सेंटर में अव्यवस्थाओं के लेकर हुए प्रवासी मज़दूरों के हंगामे की ख़बर करने वाले पत्रकार पर प्रशासन की ओर से मामला दर्ज करवाते हुए कहा गया है कि पत्रकार ने मज़दूरों को उकसाया था. बेगूसराय में भी एक स्थानीय पत्रकार के ख़िलाफ़ एफआईआर हुई है.

Thane: Migrants with their belongings ride on bicycles as they move towards their native places on the Mumbai-Nashik highway during the nationwide lockdown, in wake of the coronavirus pandemic, in Thane, Friday, May 1, 2020. (PTI Photo/Mitesh Bhuvad)(PTI01-05-2020_000219B) *** Local Caption ***

लॉकडाउन: राजस्थान से बिहार पहुंचे चार मज़दूर, कहीं पैदल तो कहीं साइकिल से पूरा किया सफ़र

बिहार के सीतामढ़ी के रहने वाले ये मज़दूर उदयपुर की जयसमंद झील में मछली पकड़ने का काम करते थे. लॉकडाउन का दूसरा चरण शुरू होने तक किसी तरह की मदद न मिलने पर इन्होंने घर का रुख़ किया. रास्ते में कहीं ट्रकवालों, तो कहीं ग्रामीणों की मदद से ये सभी 13 दिन बाद रविवार को अपने गांव पहुंचे हैं.

(फोटो साभार: फेसबुक)

बिहार: कोरोना संदिग्ध लोगों की सूचना देने पर युवक की पीट-पीटकर हत्या, सात गिरफ़्तार

बीते 25 मार्च को झारखंड के पलामू ज़िले में कोरोना वायरस से सुरक्षा के मद्देनज़र कुछ लोगों को घर में रहने की सलाह देने पर एक दुकानदार पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी.

बिहार में कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. (फोटो साभार: ट्विटर/@airnewsalerts)

बिहार में बाढ़ से करीब 32 लोगों की मौत, 18 लाख लोग प्रभावित

बिहार की पांच नदियां ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही हैं और 10 ज़िलों में स्थिति गंभीर है. सबसे ज़्यादा सीतामढ़ी ज़िला प्रभावित हुआ है. यहां करीब 11 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. पड़ोसी देश नेपाल में बाढ़ और भूस्खलन में 60 लोगों की मौत.

(प्रतीकात्मक तस्वीर, साभार: Flickr/CC BY NC ND 2.0)

बिहारः पुलिस हिरासत में दो युवकों की मौत, पांच पुलिसकर्मी निलंबित

बिहार के सीतामढ़ी जिले का मामला. हत्या और लूट के मामले में गिरफ़्तार किए गए गुफ़रान आलम और तसलीम अंसारी नामक युवकों के शरीर पर कीलों से बने घाव के निशान मिले.

मोहम्मद ज़ैनुल अंसारी. (फोटो: उमेश कुमार राय/द वायर)

सीतामढ़ी ​से ग्राउंड रिपोर्ट: दंगाई एक-एक मुस्लिम को काट डालने के लिए ललकार रहे थे

बिहार के सीतामढ़ी में बीते 20 अक्टूबर को मूर्ति विसर्जन के दौरान निकले जुलूस में शामिल कुछ लोगों ने एक बुज़ुर्ग ज़ैनुल अंसारी की पीट-पीट कर हत्या करने के बाद उन्हें जला दिया था.

Sasaram Bihar (2)

बिहार: रेलकर्मी से नोटों से भरा थैला छीन रहे व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या

बिहार के रोहतास ज़िले का मामला. सीतामढ़ी ज़िले में हुई एक अन्य घटना में पैसे छीनने के आरोप में युवक को भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला.

Shivpuri Map

मध्य प्रदेश में ज़मीन के विवाद में दलित को पीट-पीटकर मार डाला

मध्य प्रदेश के शिवपुरी ज़िले में दलित चौकीदार की ज़मीन पर दबंगों ने साल 2005 से क़ब्ज़ा कर रखा था. पुलिस ने 13 लोगों के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज किया.

budhi gandak

बिहार में ​फिर बाढ़ की आहट, पिछले साल के प्रभावितों को अब तक नहीं मिला मुआवज़ा

बिहार में एक बार फिर कई नदियां उफान पर हैं. पिछले साल राज्य के 17 जिलों में बाढ़ आई थी. इससे करीब 1.71 करोड़ लोग प्रभावित हुए थे. 8.5 लाख लोगों के घर टूट गए थे और करीब 8 लाख एकड़ फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई थी.