social distancing

हिज्बुल मुजाहिदीन कमांडर रियाज नायकू. (फाइल फोटो: पीटीआई)

कोरोना वायरस और भीड़ के कारण नहीं सौंपे जा रहे आतंकियों के शव: जम्मू कश्मीर डीजीपी

आतंकियों के शव उनके परिजनों को न सौंपे जाने के बीच कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने वाले मरीजों के शव उनके परिजनों को लौटाए जा रहे हैं और अधिकारी अंतिम संस्कार में अधिकारियों सहित कम से कम मौजूद रहने वालों की संख्या मांग रहे हैं.

मंगलवार को लॉकडाउन के बीच शराब खरीदने के लिए पूर्वी दिल्ली के विश्वास नगर इलाके में उमड़ी भीड़. (फोटो: पीटीआई)

देश के ज़्यादातर हिस्सों में खुलीं शराब की दुकानें, लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए उमड़ी भीड़

पंजाब में शराब की होम डिलीवरी करने की तैयारी. दिल्ली सरकार ने शराब पर स्पेशल कोरोना फीस के तौर पर 70 प्रतिशत का टैक्स लगाया. मुंबई में भीड़ नियंत्रित करने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा.

Screenshot (22)

दिल्ली: कोरोना वायरस फैलाने की साज़िश रचने के शक़ में युवक की पिटाई

मामला दिल्ली के बवाना इलाके का है. पुलिस ने कहा कि तबलीगी जमात के एक कार्यक्रम से मध्य प्रदेश के भोपाल से लौटे 22 वर्षीय महबूब अली जब अपने गांव पहुंचा तो अफवाह फैल गई कि उसकी कोरोना वायरस फैलाने की योजना है.

Jharkhand Gumla

झारखंड: मुस्लिमों द्वारा थूककर कोरोना फैलाने की अफवाह के बाद हुई झड़प में युवक की मौत

झारखंड के गुमला ज़िले में ये अफवाह उड़ायी गई थी कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलाने के लिए मुस्लिम जान-बूझकर जगह-जगह पर थूक रहे हैं.

भाजपा विधायक दादाराव केचे के बाहर एकत्र लोग. (फोटो साभार: एएनआई)

महाराष्ट्र: लॉकडाउन के बीच भाजपा विधायक के जन्मदिन पर 200 लोग इकट्ठा हुए

मामला वर्धा ज़िले का है, जहां भाजपा विधायक दादाराव केचे के जन्मदिन पर क़रीब दो सौ लोग उनके घर के बाहर जमा हुए थे और उन्होंने कुछ लोगों को अनाज भी बांटा था. लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन के चलते उन पर विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज करने का नोटिस जारी किया गया है.

(फोटो: रॉयटर्स)

कोरोना वायरस: झारखंड में लोगों को घर में रहने की सलाह देने पर दुकानदार की पीट-पीटकर हत्या

घटना झारखंड के पलामू ज़िले के चाक उदयपुर की है. पुलिस ने बताया कि विभिन्न शहरों से चार मज़दूर अपने गांव लौटे थे, जिन्हें जांच के बाद 14 दिन तक अपने घर में क्वारंटाइन रहने का निर्देश दिया गया था. लेकिन वे घूमते हुए एक दुकान पर पहुंच गए थे.