Stand-Up Comedy

मध्य प्रदेश हाईकोर्ट. (फोटो: पीटीआई)

मध्य प्रदेश: मुनव्वर फ़ारूक़ी के दो और साथियों को हाईकोर्ट से सशर्त अंतरिम ज़मानत मिली

हिंदू देवी-देवताओं पर कथित आपत्तिजनक टिप्पणियों के विवाद से जुड़े हास्य कार्यक्रम के आयोजन में शामिल होने के दो और आरोपियों को जमानत मिलने के साथ अब मामले के सभी छह आरोपियों को अलग-अलग अदालतों से अंतरिम जमानत मिल चुकी है.

2202 MB.00_38_46_16.Still003

मीडिया बोल: चुटकुला बनती सियासत और मीडिया

वीडियो: मौजूदा दौर में राजनीति और मीडिया के बड़े मंच ऐसे दयनीय हाल में हैं कि ख़ुद ही चुटकुला बन गए हैं. दूसरी तरफ गंभीर पत्रकारों या कॉमेडियंस की टिप्पणियों से कभी सरकार, तो कभी न्यायपालिका को आहत हो रहे हैं. इन्हीं मुद्दों पर वरिष्ठ पत्रकार प्रियदर्शन और टीवी एंकर मीनाक्षी श्योराण से चर्चा कर रहे हैं उर्मिलेश.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: यूट्यूब)

रिहाई के बाद मुनव्वर फ़ारूक़ी ने कहा, ‘मुझे उस बात के चलते खरोंच आई, जो मैंने की तक नहीं’

धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप में पैंतीस दिन जेल में बिताकर आए स्टैंड-अप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी ने रिहाई के बाद जारी अपने पहले वीडियो में कहा कि वे हमेशा दर्शकों को हंसाकर उन्हें ख़ुश करना चाहते हैं और उनका यह इरादा कभी नहीं रहा कि उनके चुटकुलों से किसी का भी दिल दुखे.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

100 से अधिक कलाकारों ने मुनव्वर फ़ारूक़ी और चार अन्य पर लगे आरोप ख़ारिज करने की अपील की

स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी और चार अन्य को हिंदू देवताओं और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के ख़िलाफ़ कथित तौर पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में बीते एक जनवरी को इंदौर से गिरफ़्तार किया गया था. फ़ारूक़ी को सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम ज़मानत मिलने के बाद छह फरवरी की रात को रिहा किया गया था.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

मध्य प्रदेशः मुनव्वर फ़ारूक़ी के सह-आरोपी की ज़मानत याचिका ख़ारिज

मामले में सह-आरोपी सदाक़त ख़ान ने उसी आधार पर ज़मानत के लिए याचिका दायर की थी, जिस आधार पर फ़ारूक़ी को चार दिन पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा अंतरिम ज़मानत दी गई थी. हालांकि अतिरिक्त जिला जज ने कहा कि क़ानून के तहत ज़मानत देना न्यायोचित नहीं है.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

इंदौर: देर रात सुप्रीम कोर्ट के जज की कॉल के बाद हुई मुनव्वर फ़ारूक़ी की रिहाई

केंद्रीय जेल प्रशासन ने इलाहाबाद की एक अदालत के जारी पेशी वॉरंट का हवाला देते हुए फारुकी की रिहाई में शनिवार देर शाम असमर्थता जताई थी. हालांकि देर रात सुप्रीम कोर्ट के एक न्यायाधीश ने इंदौर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट को फोन किया और उन्हें अपलोड किए गए आदेशों के लिए वेबसाइट देखने और उसका अनुपालन करने के लिए कहा.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

सुप्रीम कोर्ट से मुनव्वर फ़ारूक़ी को मिली अंतरिम ज़मानत, यूपी पुलिस की गिरफ़्तारी से भी संरक्षण

स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी को जनवरी में हिंदू देवताओं के ख़िलाफ़ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में इंदौर में गिरफ़्तार किया गया था. सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश सरकार को नोटिस जारी करते हुए कहा है कि उनकी गिरफ़्तारी में 2014 में दिए सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों का पालन नहीं किया गया था.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

मध्य प्रदेश: हाईकोर्ट ने मुनव्वर फ़ारूक़ी और नलिन यादव की ज़मानत याचिका ख़ारिज की

मध्य प्रदेश हाईकोर्ट की इंदौर पीठ ने स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी की ज़मानत याचिका यह कहते हुए ख़ारिज कर दी कि ज़मानत देने का कोई आधार नहीं बनता है. फ़ारूक़ी को इस महीने की शुरुआत में हिंदू देवताओं के ख़िलाफ़ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

मुनव्वर फ़ारूक़ी को जेल में रखना मौलिक स्वतंत्रता की गंभीर अवहेलनाः पीयूडीआर

स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी को इस महीने की शुरुआत में हिंदू देवताओं के ख़िलाफ़ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ़्तार किया गया है. पीपुल्स यूनियन फॉर डेमोक्रेटिक राइट्स ने कहा कि यह मामला मौलिक स्वतंत्रता की उपेक्षा और इसे बनाए रखने में न्यायपालिका के विफलता का प्रतीक है.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

मुनव्वर फ़ारूक़ी की ज़मानत पर फ़ैसला सुरक्षित, कोर्ट ने कहा- ऐसे लोगों को बख़्शना नहीं चाहिए

मध्य प्रदेश हाईकोर्ट की इंदौर पीठ ने स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी की ज़मानत याचिका पर सोमवार को आदेश सुरक्षित रख लिया है. उन्हें इस महीने की शुरुआत में इंदौर में हिंदू देवताओं के ख़िलाफ़ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

मुनव्वर फ़ारूक़ी मामला: इंदौर पुलिस ने कहा- सबूत नहीं, अब यूपी पुलिस कर रही गिरफ़्तारी की तैयारी

इस महीने की शुरुआत में स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी को इंदौर में हिंदू देवताओं के ख़िलाफ़ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था. पिछले हफ़्ते पुलिस द्वारा उनके ख़िलाफ़ सबूत न होने की बात कहने के बावजूद एक न्यायिक मजिस्ट्रेट ने उन्हें ज़मानत देने से इनकार कर दिया.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

मुनव्वर फ़ारूक़ी गिरफ़्तारी: पुलिस ने कहा- सबूत नहीं, पर ज़मानत याचिका ख़ारिज की जाए

मध्य प्रदेश पुलिस ने हाईकोर्ट की इंदौर पीठ के सामने हिंदू देवताओं के ख़िलाफ़ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ़्तार स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी की ज़मानत याचिका की सुनवाई में केस डायरी पेश नहीं की और कहा कि फ़ारूक़ी को रिहा करने से क़ानून-व्यवस्था की समस्या पैदा हो सकती है.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

पुलिस ने कहा- स्टैंडअप कॉमेडियन द्वारा हिंदू देवताओं के अपमान करने का कोई वीडियो सबूत नहीं

मध्य प्रदेश में भाजपा विधायक मेयर मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड़ के बेटे ने स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी पर हिंदू देवी-देवताओं और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर अभद्र टिप्पणियां करने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया था. फारूकी समेत पांच लोगों को गिरफ़्तार कर 13 जनवरी तक न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है.

मुनव्वर फारूकी. (फोटो साभार: फेसबुक)

स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी समेत पांच लोग गिरफ़्तार, न्यायिक हिरासत में जेल भेजे गए

मध्य प्रदेश में भाजपा विधायक मेयर मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड़ के बेटे ने मामला दर्ज कराते हुए आरोप लगाया है कि इंदौर में नव वर्ष पर एक कार्यक्रम के दौरान हिंदू देवी-देवताओं और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर अभद्र टिप्पणियां की गई थीं.