Student suicide

(फोटो साभार: फेसबुक/यूनिवर्सिटी आॅफ ​दिल्ली)

एलएसआर की छात्रा की ख़ुदकुशी के बाद डीयू के कॉलेजों ने वि​द्यार्थियों की मदद के लिए उठाए क़दम

लेडी श्रीराम कॉलेज, मिरांडा हाउस कॉलेज आदि कॉलेजों ने कई क़दम उठाए हैं. इनमें विद्यार्थियों की मानसिक सेहत के लिए उनसे संवाद करना, ज़रूरतमंद विद्यार्थियों को इंटरनेट डेटा कार्ड से लेकर लैपटॉप मुहैया कराना शामिल है.

(फोटो साभार: www.ststephens.edu)

दिल्ली: सेंट स्टीफेंस कॉलेज के स्टाफ ने छात्रों की मदद के लिए कॉलेज प्रशासन को पत्र लिखा

दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफेंस कॉलेज के स्टाफ एसोसिएशन ने प्रिंसिपल को पत्र लिखकर छात्रों को वित्तीय सहायता देने और सभी तरह की छात्रवृत्तियां बांटने पर विचार करने के लिए समिति बनाने का आग्रह किया है.

लेडी श्रीराम कॉलेज (फोटो साभारः वेबसाइट)

आत्महत्या करने वाली डीयू छात्रा को समय पर वज़ीफ़ा नहीं मिला था, हॉस्टल भी ख़ाली करवाया गया

तेलंगाना की रहने वाली दिल्ली के लेडी श्रीराम कॉलेज की एक छात्रा ने तीन नवंबर को हैदराबाद के अपने घर में आत्महत्या कर ली थी. कमज़ोर आर्थिक पृष्ठभूमि से आने वाली छात्रा ने अपने सुसाइड नोट में लिखा कि वे अपने परिवार पर बोझ नहीं बनना चाहती थीं और शिक्षा के बिना ज़िंदगी उन्हें मंज़ूर नहीं थी.

Instagram (2)

इंस्टाग्राम ग्रुप चैट: ग्रुप एडमिन गिरफ़्तार, पूछताछ से जुड़े एक छात्र ने ख़ुदकुशी की

‘बॉयज़ लॉकर रूम’ इंस्टा ग्रुप में स्कूली लड़कों की अभद्र बातचीत और नाबालिग लड़कियों की आपत्तिजनक तस्वीरों के स्क्रीनशॉट्स सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस के साइबर सेल ने मामले का संज्ञान लेकर मामला दर्ज किया है.

नीट का रिजल्ट आने के बाद आत्महत्या करने वालीं तमिलनाडु की एम. मोनिशा, एस. रिधुश्री और एन. वैशिया (बाएं से दाएं). (फोटो साभार: ट्विटर)

तमिलनाडु: नीट के ​परिणाम आने के बाद तीन युवतियों ने की आत्महत्या

नीट का परिणाम बीते पांच जून को घोषित किया गया था. छह जून को तमिलनाडु की एम. मोनिशा और पांच जून को एस. रिधुश्री व एन. वैशिया ने परीक्षा में असफल रहने के बाद आत्महत्या कर ली थी.

आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू. (फोटो: पीटीआई)

छात्रों को मशीन बना रहे हैं कॉलेज, नेता आदर्श बन पाने में असमर्थ: चंद्रबाबू नायडू

आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा, राजनेता लोगों को प्रेरित नहीं कर पाते क्योंकि उन्होंने अपने मूल्यों को परिष्कृत नहीं किया है.

Farmer suicide 12

मध्य प्रदेश में साढ़े तीन माह में 287 किसानों और कृषि मजदूरों ने की आत्महत्या

मध्य प्रदेश सरकार ने विधानसभा में बताया कि प्रदेश में 16 नवंबर, 2016 से अब तक 1761 लोगों ने आत्महत्या की है. इनमें 287 किसान और कृषि मजदूर के अलावा 160 विद्यार्थी भी शामिल हैं.