Uttrakhand News

(फोटो: पीटीआई)

उत्तराखंड हाईकोर्ट ने ख़ुद को गाय का संरक्षक घोषित किया, गोवध और गोमांस की बिक्री पर भी प्रतिबंध

बीते 4 जुलाई को उत्तराखंड हाईकोर्ट ने पूरे पशु समाज को एक जीवित व्यक्ति के अधिकार, कर्तव्यों और देनदारियों के साथ एक क़ानूनी इकाई घोषित कर दिया था. 2017 में इसी कोर्ट ने गंगा को एक जीवित इकाई के रूप में मान्यता दी थी.