Yogi Govt

(फाइल फोटो: रॉयटर्स)

उत्तर प्रदेश: पूर्वांचल के गन्ना किसानों की सुध क्यों नहीं ले रही है सरकार?

उत्तर प्रदेश में अब भी गन्ना किसानों का 10,626 करोड़ रुपये बकाया है और जून के महीने में भी गन्ने की फसल खेतों में खड़ी है. उत्तर प्रदेश में 2014 के लोकसभा और 2017 के विधानसभा चुनाव में गन्ना किसानों की समस्याओं को भाजपा ने प्रमुखता से उठाया था, लेकिन केंद्र और प्रदेश में सरकार बनने के बाद भी उनकी समस्याएं हल नहीं हो सकी हैं.

(फोटो साभार: फेसबुक)

गाय का नाम जपने वाली योगी सरकार में गायों का हाल बुरा क्यों है?

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह ज़िले गोरखपुर के बांसगांव और पड़ोसी ज़िले महराजगंज के मधवलिया गोसदन में बड़ी संख्या में गोवंशीय पशुओं की मौत हुई है.

Lucknow: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath talks on a phone during an event, in Lucknow on Monday, Aug 6, 2018. (PTI Photo) (PTI8_6_2018_000127B)

उत्तर प्रदेश: योगी सरकार ने कैबिनेट मीटिंग के दौरान मोबाइल फोन पर लगाया प्रतिबंध

मोबाइल फोन से डेटा हैकिंग, जासूसी के बढ़ते ख़तरे और कुछ मंत्रियों द्वारा कैबिनेट मीटिंग के दौरान मैसेज पढ़ने की वजह से उठाया गया क़दम.

Lucknow: Sacked Uttar Pradesh minister Om Prakash Rajbhar talks to the media at his residence in Lucknow, Monday, May 20, 2019. (PTI Photo/Nand Kumar) (PTI5_20_2019_000028B)

ओम प्रकाश राजभर की राजनीति क्या है?

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री थे. बीते दिनों उन्हें पद से बर्ख़ास्त कर दिया गया.

The Prime Minister, Shri Narendra Modi performing the Ganga Pujan, at Prayagraj, in Uttar Pradesh on December 16, 2018.
The Chief Minister of Uttar Pradesh, Shri Yogi Adityanath is also seen. PIB Photos

एनजीटी को क्यों कहना पड़ा कि कुंभ के बाद इलाहाबाद महामारी के कगार पर पहुंच गया है

ग्राउंड रिपोर्ट: कुंभ के बाद जमा कचरे को लेकर राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण (एनजीटी) ने जस्टिस अरुण टंडन की अध्यक्षता में एक निगरानी समिति बनाई थी. इस समिति द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट के मुताबिक इलाहाबाद के बसवार प्लांट में इस समय करीब 60,000 मिट्रिक टन कचरा जमा हुआ है. इसमें से करीब 18,000 मिट्रिक टन कचरा कुंभ मेले का है.

Moradabad: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath attends a function at Dr BR Ambedkar Police Academy, in Moradabad on Monday, July 9, 2018. (PTI Photo) (PTI7_9_2018_000114B)

सामूहिक बलात्कार और आत्मदाह मामला: यूपी सरकार और डीजीपी को एनएचआरसी का नोटिस

उत्तर प्रदेश के हापुड़ ज़िले में कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार के बाद पुलिस द्वारा कार्रवाई न किए जाने पर एक महिला ने आत्मदाह कर लिया था. दिल्ली महिला आयोग ने इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा था जिसके बाद पुलिस ने गांव के सरपंच सहित 14 लोगों के ख़िलाफ़ ​केस दर्ज किया है.

Allahabad: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath takes a holy dip in the water of River Ganga at Sangam during the ongoing Kumbh Mela-2019, in Allahabad, Tuesday, Jan. 29, 2019. (PTI Photo)(PTI1_29_2019_000066B)

इला​हाबाद में कुंभ मेले के बाद जमा कचरे से महामारी फैलने का ख़तरा: एनजीटी

एनजीटी ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार से कहा है कि वह इलाहाबाद में कुंभ मेले के बाद जमा कचरे को हटाने के लिए तुरंत क़दम उठाए.

(फोटो साभार: एएनआई)

असम में ज़हरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या 90 हुई

असम के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्व शर्मा ने कहा कि मौत का आंकड़ा हर मिनट बढ़ रहा है. अब तक लगभग 200 लोग अस्पताल में भर्ती हैं और कइयों की हालत गंभीर है.

(फोटो साभार: एएनआई)

असम में ज़हरीली शराब पीने से 17 चाय बागान श्रमिकों की मौत

असम के गोलाघाट ज़िले का मामला. पुलिस ने बताया कि मृतकों की संख्या और बढ़ने की संभावना है क्योंकि शराब पीने के बाद बीमार पड़ने की वजह से बीते गुरुवार की रात को कई सारे लोगों को अस्पताल लाया गया था.

(फाइल फोटो: रॉयटर्स)

यूपी: महराजगंज में बंद पड़ी चीनी मिल से प्रभावित 48,000 किसानों की सुध लेने वाला कोई नहीं

भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में वादा किया था कि फसल बेचने के 14 दिन के भीतर गन्ना किसानों का भुगतान सुनिश्चित किया जाएगा और सरकार बनने के 120 दिनों के भीतर गन्ना किसानों का बकाया भुगतान कर दिया जाएगा, लेकिन उत्तर प्रदेश में पार्टी की सरकार बनने के बाद भी ये वादे काग़ज़ों से बाहर नहीं निकल सके हैं.

Saharnapur: Family members of victims who are undergoing treatment on being poisoned after consuming a spurious liquor, at a hospital in Saharanpur, Saturday, Feb 9, 2019. The death toll in the hooch tragedy that hit two adjoining districts in Uttarakhand and Uttar Pradesh has risen to 70 with more people dying of the spurious liquor. (PTI Photo) (PTI2_9_2019_000099B)

यूपी-उत्तराखंड: ज़हरीली शराब से मरने वालों की संख्या 81 हुई, यूपी में एसआईटी करेगी जांच

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर ज़िले में 36, कुशीनगर ज़िले में नौ और उत्तराखंड के हरिद्वार में ज़हरीली शराब पीने से 36 लोगों की मौत हो चुकी है. मौतों के बाद राजनीतिक दलों में आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला शुरू.

ओम प्रकाश राजभर (फोटो: फेसबुक)

योगी के मं​त्री बोले, दंगों में नेता क्यों नहीं मरते, कोई नेता दंगा भड़काए तो उसे ही आग लगा दो

उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री ओपी राजभर ने कहा कि दंगा भड़काने वाले नेता को ही आग लगा दो ताकि वो समझ जाए कि हम दूसरों को नहीं जलाने जाएंगे.

(फाइल फोटो: पीटीआई)

अयोध्या विवाद हिंदू बनाम मुस्लिम के साथ-साथ हिंदू बनाम हिंदू भी है

हिंदू पक्ष के छह दावेदारों में से दो अयोध्या स्थित विवादित स्थल पर विराजमान रामलला के विरुद्ध ही अदालत गए हैं.

Ram Statue ANI 1

धर्म संसद में संतों ने योगी द्वारा प्रस्तावित 221 मीटर ऊंची राम मूर्ति के निर्माण की निंदा की

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में चल रहे ‘धर्म संसद’ में सोमवार को साधुओं ने कहा कि ये भगवान का अपमान है. ईश्वर की पूजा की जानी चाहिए, मूर्ति बनाकर प्रदर्शन नहीं.

इकबाल अंसारी. (फोटो साभार: एएनआई)

हाशिम अंसारी के बेटे ने कहा, अयोध्या के लोगों को सुकून से रहने दें

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले में पक्षकार रहे हाशिम अंसारी के बेटे इक़बाल अंसारी ने अयोध्या में धर्म सभा के नाम पर भीड़ जुटाने की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि इन लोगों को विधान भवन या संसद का घेराव करना चाहिए और अयोध्या के लोगों को सुकून से रहने देना चाहिए.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आ​दित्यनाथ. (फोटो साभार: फेसबुक)

योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में राम की 221 मीटर ऊंची प्रतिमा के निर्माण को दी मंज़ूरी

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में सरदार वल्लभभाई पटेल की 185 मीटर ऊंची प्रतिमा ‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी’ का अनावरण किया. राम की प्रस्तावित मूर्ति ‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी’ से बड़ी होगी.

Shiv Sena Chalo Ayodhya PTI

अयोध्या: मीडिया 1992 की तरह एक बार फिर सांप्रदायिकता की आग में घी डाल रहा है

अयोध्या में 1990-92 में प्रिंट मीडिया का प्रभुत्व था, अब इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ने उसे पीछे धकेलकर सांप्रदायिक पत्रकारिता का परचम उससे छीन लिया है और ख़ुद को राम मंदिर आंदोलन का अघोषित प्रवक्ता बना लिया है.

Sequence 02.00_19_30_19.Still009

मीडिया बोल, एपिसोड 74: रोटी रोज़गार से ऊपर मंदिर कारोबार!

मीडिया बोल की 74वीं कड़ी में उर्मिलेश अयोध्या मामले और सरदार पटेल की मूर्ति पर वरिष्ठ पत्रकार अनिल आनंद, कॉमन कॉज़ के डायरेक्टर डॉ. विपुल मुद्गल और वरिष्ठ पत्रकार मीनाक्षी शेरॉन से चर्चा कर रहे हैं.

Gorakhpur Edit

क्या उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पूर्वांचल में बच्चों की मौत पर लगाम लगा पाएगी?

वीडियो: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर और उससे लगे ज़िलों में विभिन्न बीमारियों से होने वाली बच्चों की मौत पर वरिष्ठ पत्रकार अभिसार शर्मा की ग्राउंड रिपोर्ट.

योगी आदित्यनाथ (फोटो: पीटीआई)

योगी सरकार की योजनाओं के प्रचार के लिए रखे जाएंगे ‘लोक कल्याण मित्र’, वेतन 25 हज़ार रुपये महीना

लोक कल्याण मित्र इंटर्नशिप कार्यक्रम के तहत यूपी सरकार कुल 822 लोक कल्याण मित्रों का चयन लिखित परीक्षा के माध्यम से करेगी. चयनितों को 25,000 रुपये मासिक वेतन देकर वार्षिक अनुबंध पर रखा जाएगा.