राजनीति

बिहार: अंतिम चरण का मतदान पूरा, एग्जिट पोल में दिखी महागठबंधन को बढ़त की संभावना

विधानसभा चुनाव राउंडअप: अंतिम चरण के लिए 78 सीटों पर हो रहा मतदान में शनिवार शाम पांच बजे तक 55.22 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. नतीजे 10 नवंबर को आएंगे.

बिहार की राजधानी पटना में राजद और भाजपा की ओर से लगाए गए पोस्टर. (फोटो: पावनजोत कौर/द वायर)

बिहार की राजधानी पटना में राजद और भाजपा की ओर से लगाए गए पोस्टर. (फोटो: पावनजोत कौर/द वायर)

नई दिल्ली/पटना: बिहार विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार शाम छह बजे मतदान समाप्त होने के साथ ही विभिन्न मीडिया संगठनों ने एक्जिट पोल के माध्यम से नतीजों के संकेत देने शुरू कर दिए हैं.

243 सदस्यों वाले बिहार विधानसभा चुनाव में बहुमत के लिए 122 सीटों की आवश्यकता होगी.

एनडीटीवी के शुरुआती पोल्स ऑफ पोल्स के अनुसार, राजद-कांग्रेस-वाम दलों वाले महागठबंधन को 124-243 सीटें मिल सकती हैं जबकि एनडीए को 110 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है. वहीं, लोजपा को चार सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है.

टाइम्स नाउ-सी वोटर ने महागठबंधन को 120 सीटें जबकि एनडीए को 116 सीटें मिलने की संभावना जताई है. वहीं, लोजपा को एक व अन्य को छह सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है.

रिपब्लिक-जन की बात ने महागठबंधन को 118-138 सीटें जबकि एनडीए को 91-117 सीटें मिलने का अनुमान जताया है. वहीं, लोजपा को 5-8 जबकि अन्य को 3-6 सीटें मिलने की संभावना जताई है.

एबीपी न्यूज-सी वोटर ने महागठबंधन को 108-131 सीटें जबकि एनडीए को 104-128 सीटें मिलने की संभावना जताई है. वहीं, लोजपा को 1-3 और अन्य को 4-8 सीटें मिलने का अनुमान जताया है.

दैनिक भास्कर ने अपने एक्जिट पोल में एनडीए को 120-127, महागठबंधन को 71-81, लोजपा को 12-23 और अन्य को 19-27 सीटें दे रहा है.

इसके साथ ही पॉलिटिकल स्ट्रैटेजी ग्रुप (पीएसजी) नाम के संगठन ने राजद को 85-95, कांग्रेस को 15-20 और वाम दलों को 3-5 सीटें दी हैं. इसका मतलब है कि इसने महागठबंधन को 103-120 सीटें हैं.

पीएसजी ने भाजपा को 65-75, जदयू को 25-35 सीटें हैं. इसका मतलब है कि एनडीए को 90-110 सीटें मिलने का अनुमान जताया है.

पीएसजी ग्रुप ने लोजपा को 3-5 सीटें जबकि छह दलों वाले जीडीएसएफ व निर्दलीयों को 5-13 सीटें मिलने का अनुमान जताया है.

अंतिम चरण की 78 सीटों पर शाम पांच बजे तक 55.22 फीसदी मतदान

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे एवं अंतिम चरण के लिए 78 सीटों पर हो रहा मतदान शनिवार शाम छह बजे समाप्त हो गया. शाम पांच बजे तक 55.22 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया.

https://twitter.com/ANI/status/1325058277395234819

इसी के साथ बिहार विधानसभा चुनाव के लिए मतदान समाप्त हो गया और अब 10 नवंबर को परिणाम आएंगे.

अधिकारियों ने बताया कि सभी 33,782 मतदान केन्द्रों पर सुबह सात बजे मतदान प्रारंभ हो गया था. मतदान के लिए इतनी ही संख्या में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन और वीवीपीएटी मशीन लगाई गई थीं. सुरक्षा व्यवस्था मजबूत बनाने के लिए अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई थी.

आखिरी चरण के वोटिंग के दौरान सुपौल, मोतिहारी और दरभंगा के विभिन्न क्षेत्र के लोगों ने अपनी मांगों को लेकर मतदान का बिहष्कार किया. वहीं दो मुजफ्फरपुर और सुपौल में दो मतदान कर्मियों की मौत हो गई.

चुनाव आयोग द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकडों के अनुसार 78 विधानसभा क्षेत्रों में 2.35 करोड़ मतदाताओं में से 1.23 करोड़ पुरुष, 1.12 करोड़ महिलाएं और 894 ‘थर्ड जेंडर’ मतदाता हैं.

इस चरण में कुल 1204 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं, जिनमें 110 महिला शामिल हैं. तृतीय चरण में सबसे अधिक प्रत्याशी (31) गायघाट में तथा सबसे कम प्रत्याशी (9) चार विधानसभा क्षेत्रों ढ़ाका, त्रिवेणीगंज, जोकीहाट और बहादुरगंज में हैं.

इस चरण में राजग में शामिल भाजपा के 29 एवं जदयू के 29 तथा विपक्षी महागठबंधन में शामिल राजद के 44 उम्मीदवार, कांग्रेस के 21, भाकपा के दो उम्मीदवारों के अलावा रालोसपा के 21, बसपा के 15 तथा लोजपा के 35 प्रत्याशी चुनावी मैदान में अपना-अपना भाग्य आजमा रहे हैं.

पूर्णिया में मतदान के बीच हत्‍या, बदमाशों ने घेर कर बरसाईंं गोलियांं

बिहार विधानसभा के तीसरे और अंतिम चरण के मतदान के बीच पूर्णिया में बेनी सिंह नाम के एक युवक की हत्‍या कर दी गई.

हिंदुस्तान की रिपोर्ट के अनुसार, बेनी सिंह के भाई बिट्टू सिंह एक राजनीतिक दल से जुड़े हैं. फिलहाल वह जेल में बंद हैं.

रिपोर्ट के अनुसार, बेनी सिंह को पूर्णिया के धमदाहा विधानसभा क्षेत्र के सरसी में बदमाशों ने घेरकर गोली मार दी. बेनी सिंह के परिवारवालों ने एक उम्‍मीदवार और उनके समर्थकों को इसके लिए जिम्‍मेदार ठहराया है.

ठीक मतदान के दिन हुई इस वारदात से हड़कंप मच गया है. सवाल उठ रहे हैं कि जब मतदान को लेकर चप्‍पे-चप्‍पे पर पुलिस और सुरक्षा बल तैनात हैं तो बदमाशों को इतनी बड़ी वारदार करने का मौका कैसे मिल गया.

प्रत्‍यक्षदर्शियों के मुताबिक, वारदात उस वक्‍त हुई जब बेनी सरसी स्थित आवास के पास बने पोलिंग बूथ पर मतदान करने जा रहे थे.

अज्ञात अपराधियों ने एक के बाद एक आठ गोली मार दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. वारदात की जानकारी मिलने के बाद घटना स्थल पर पुलिस के आला अधिकारी पहुंच गए.

गौरतलब है कि पिछले महीने ही शिवहर विधानसभा क्षेत्र से जनता दल राष्ट्रवादी के प्रत्याशी श्रीनारायण सिंह और उनके एक सहयोगी की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी.

इस दौरान प्रत्याशी के समर्थकों ने एक हमलावर को पीट-पीटकर मारा डाला. वहीं एक हमलावर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था.

श्रीनारायण सिंह गांव में चुनाव प्रचार करने गए थे. इसी दौरान बाइक सवार अपराधियों ने उन पर गोली चला दी थी.

मधुबनी के बेनीपट्टी से निर्दलीय उम्‍मीदवार का कोरोना से निधन

मधुबनी के बेनीपट्टी से निर्दलीय उम्‍मीदवार नीरज झा का कोरोना से निधन हो गया. इस बीच कांग्रेस के बिहार चुनाव प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं.

इससे पहले बिहार में चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा के बिहार में उपमुख्यमंत्री समेत कई स्टार प्रचारक कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. इसमें उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, भाजपा के बिहार प्रभारी देवेंद्र फडणवीस, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय और शाहनवाज हुसैन जैसे नेता भी शामिल थे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)