नॉर्थ ईस्ट

अनियंत्रित रूप से की जा रही उगाही की घटनाओं से बाधित हो रहा नगालैंड का विकास: राज्यपाल

देश के 72वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर नगालैंड की राजधानी कोहिमा में आयोजित समारोह में राज्यपाल आरएन रवि ने कहा कि बंदूक द्वारा राजनीति के लिए कोई जगह नहीं है और जो लोग ऐसी राजनीति में विश्वास रखते हैं वह हमेशा लोकतंत्र से बाहर रहेंगे.

नगा शांति वार्ता में वार्ताकार और नगालैंड के राज्यपाल आरएन रवि. (फोटो साभार: सोशल मीडिया)

नगा शांति वार्ता में वार्ताकार और नगालैंड के राज्यपाल आरएन रवि. (फोटो साभार: सोशल मीडिया)

कोहिमा: नगालैंड के राज्यपाल आरएन रवि ने मंगलवार को कहा कि असामाजिक तत्वों द्वारा अनियंत्रित रूप से की जा रही उगाही की घटनाओं को पूरी तरह से रोका नहीं जा सका है और इससे व्यापारियों के बीच डर का माहौल बना हुआ है, जिससे नगालैंड का विकास बाधित हो रहा है.

देश के 72वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर कोहिमा में आयोजित समारोह में राष्ट्रीय ध्वजारोहण करने के बाद राज्यपाल ने कहा कि बंदूक द्वारा राजनीति के लिए कोई जगह नहीं है और जो लोग ऐसी राजनीति में विश्वास रखते हैं वह हमेशा लोकतंत्र से बाहर रहेंगे.

समारोह को संबोधित करते हुए रवि ने कहा, ‘पुलिस और सुरक्षा बलों के प्रयासों के बावजूद असामाजिक तत्वों द्वारा अनियंत्रित उगाही को रोका नहीं जा सका है. इससे व्यापारियों के बीच भय का माहौल बना हुआ है, जिससे राज्य की अर्थव्यवस्था और विकास में बाधा उत्पन्न हो रही है.’

उन्होंने कहा कि इससे राज्य उस तरह प्रगति नहीं कर पा रहा है, जैसे अन्य राज्य कर रहे हैं. राज्यपाल ने कहा कि नगालैंड के लोग आत्मघाती और विभाजनकारी राजनीति से परेशान हैं.

उन्होंने कहा, ‘लोकतंत्र में शांतिपूर्ण बातचीत से मतभेदों का समाधान करने के लिए पर्याप्त जगह है. बंदूक की राजनीति के लिए कोई जगह नहीं है. जो इस प्रकार की राजनीति में विश्वास रखते हैं वह हमेशा लोकतंत्र से बाहर रहेंगे.’

एनडीटीवी के मुताबिक राज्यपाल ने एक बार फिर सशस्त्र विद्रोही समूहों और सरकार के एक वर्ग पर निशाना साधते हुए उन पर सांठगांठ करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि यही कारण है कि राज्य का विकास नहीं हो पा रहा है.

बता दें कि पिछले साल जून में राज्यपाल आरएन रवि ने मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो को एक पत्र लिखकर कहा था कि राज्य की स्थिति ठीक नहीं है और कानून एवं व्यवस्था एकदम बिगड़ चुकी है.

हालांकि नगालैंड सरकार ने कानून व्यवस्था की बिगड़ती स्थिति के संबंध में राज्यपाल द्वारा उठाए गए सवालों को खारिज किया था.

अपने पत्र में राज्यपाल ने कहा था कि संवैधानिक रूप से स्थापित राज्य सरकार को हर दिन भारत की एकता एवं अखंडता पर सवाल खड़े करने वाले हथियारबंद गिरोहों द्वारा चुनौती दी जा रही है और कानून व्यवस्था एकदम निष्प्रभावी बनी हुई है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)