नॉर्थ ईस्ट

मिज़ोरम: मुख्यमंत्री ने केंद्र से पूर्वोत्तर राज्यों के धन आवंटन की समीक्षा करने का आग्रह किया

पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास और सहकारिता राज्य मंत्री बीएल वर्मा से नई दिल्ली में मुलाक़ात के दौरान मिज़ोरम के मुख्यमंत्री जोरामथंगा ने कहा कि राज्यों को उनका उचित हिस्सा न मिलने से पूर्वोत्तर राज्य में कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं में या तो देरी हुई या उन्हें क्रियान्वित नहीं किया जा सका.

मिजोरम को मुख्यमंत्री जोरामथंगा और पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास और सहकारिता राज्य मंत्री बीएल वर्मा. (फोटो साभारः ट्विटर)

आइजॉल/नई दिल्ली: मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरामथंगा ने रविवार को केंद्र सरकार से पूर्वोत्तर राज्यों को पूर्वोत्तर परिषद (एनईसी) के जरिए धन आवंटन की समीक्षा करने का आग्रह किया.

पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास और सहकारिता राज्य मंत्री बीएल वर्मा के साथ नई दिल्ली में मुलाकात के दौरान जोरामथंगा ने कहा कि राज्यों को उनका उचित हिस्सा नहीं मिलने से पूर्वोत्तर राज्य में कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं में या तो देरी हुई या उन्हें क्रियान्वित नहीं किया जा सका.

बयान के मुताबिक, उन्होंने कहा कि केंद्र को पूर्वोत्तर राज्यों को एनईसी के माध्यम से धन के आवंटन की समीक्षा करनी चाहिए.

राज्य सरकार राज्य में बांस के बागान को बढ़ावा देने के लिए बड़े पैमाने पर प्रयास कर रही है.

यह उल्लेख करते हुए कि राज्य में बांस लिंक रोड की सख्त जरूरत है. मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार से इस संबंध में कदम उठाने का आग्रह किया.

इस दौरान उनके साथ राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष एच.राममावी, मुख्यमंत्री के सलाहकार और ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी रोसांगजुआला थे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)