भारत

उत्तर प्रदेश: आगरा में बाइक से टक्कर के बाद दो समुदायों के बीच पथराव

उत्तर प्रदेश की आगरा पुलिस ने बताया कि ताजगंज क्षेत्र में एक निर्माणाधीन सड़क पर एक बाइक सवार ने रविवार शाम संतुलन खो दिया और ग़लती से एक राहगीर को टक्कर मार दी. दोनों के बीच बहस हुई जो दो समुदायों के बीच पथराव का कारण बन गई. इस सिलसिले में चार लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

आगरा: उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में रविवार शाम एक सड़क दुर्घटना के बाद दो समुदायों झड़प हो गई. इस संबंध में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

भाजपा की पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी के बाद राज्य के कानपुर में बीते तीन जून को इसी तरह की सांप्रदायिक झड़प की घटना के दो दिन बाद यह बात सामने आई है.

इंडियन एक्सप्रेस ने अपनी एक रिपोर्ट में पुलिस के हवाले से बताया, ताजगंज क्षेत्र में एक निर्माणाधीन सड़क पर एक बाइक सवार ने संतुलन खो दिया और गलती से एक राहगीर को टक्कर मार दी. पुलिस ने कहा कि दोनों के बीच बहस हुई जो स्थानीय समूहों के बीच पथराव का कारण बन गई.

एसएसपी आगरा सुधीर कुमार सिंह ने कहा, ‘ताजगंज थाने के बसई खुर्द क्षेत्र में सड़क के एक विशेष हिस्से पर टाइल इंटरलॉकिंग का काम चल रहा था. रविवार शाम बाइक से जा रहे एक व्यक्ति की बाइक फिसलने के बाद एक स्थानीय को टक्कर लग गई. यह एक दुर्घटना थी, लेकिन इस पर बहस शुरू हो गई और जल्द ही दो समुदायों के बीच लड़ाई हो गई. इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर​​ फिलहाल स्थिति को नियंत्रण में लाया गया है.’

अधिकारियों के अनुसार, बाइक सवार की पहचान सादिक और दुर्घटनावश टक्कर मारने वाले व्यक्ति की पहचान राधेश्याम के रूप में हुई है. टक्कर के बाद दोनों युवकों के परिजन और परिचित मौके पर पहुंच गए और कहा-सुनी झगड़े में बदल गई.

उनके मुताबिक, सोशल मीडिया पर सामने आए इस घटना के वीडियो में इसके बाद दो समूहों के बीच पथराव होते देखा जा सकता है. अधिकारियों ने कहा कि दोनों ओर से किसी को बड़ी चोट लगने की सूचना नहीं है. पुलिस ने कहा कि फिलहाल इलाके में कानून-व्यवस्था गड़बड़ होने की स्थिति नहीं है.

पुलिस ने इलाके में शांति बनाए रखने के लिए फ्लैग मार्च किया और एहतियात के तौर पर स्थानीय थानों से अतिरिक्त बल तैनात किया है.