भारत

सीएपीएफ, असम राइफल्स में 10 प्रतिशत रिक्तियां ‘अग्निवीरों’ के लिए आरक्षित होंगी: गृह मंत्रालय

विभिन्न राज्यों में अग्निपथ योजना को लेकर विरोध प्रदर्शनों के बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि लघु संविदा पर सेना में काम करने के बाद ‘अग्निवीरों’ को सीएपीएफ और असम राइफल्स में भर्ती के लिए दस फीसदी आरक्षण के साथ ऊपरी आयु सीमा में छूट भी दी जाएगी.

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: ‘अग्निपथ’ योजना के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और असम राइफल्स में 10 प्रतिशत रिक्तियों को ‘अग्निवीरों’ के लिए आरक्षित करने की शनिवार को घोषणा की. गृह मंत्री कार्यालय ने यह जानकारी दी.

केंद्र ने सशस्त्र बलों में लघु अवधि के लिए संविदा आधार पर जवानों की भर्ती के लिए हाल ही में ‘अग्निपथ’ योजना की घोषणा की थी. इस योजना के विरोध में देशभर में व्यापक प्रदर्शन हो रहे हैं.

गृह मंत्री के कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘गृह मंत्रालय ने सीएपीएफ और असम राइफल्स में भर्ती के लिए 10 प्रतिशत रिक्तियां ‘अग्निवीरों’ के लिए आरक्षित रखने का फैसला किया है.’

गृह मंत्रालय ने सीएपीएफ और असम राइफल्स में भर्ती के लिए ‘अग्निवीरों’ को ऊपरी आयु सीमा में छूट दिए जाने की भी घोषणा की.

गृह मंत्रालय के कार्यालय ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘गृह मंत्रालय ने सीएपीएफ और असम राइफल्स में भर्ती के लिए ‘अग्निवीरों’ को निर्धारित ऊपरी आयु सीमा में तीन साल की छूट देने का भी फैसला किया है. इसके अलावा, ‘अग्निवीरों’ के पहले बैच को निर्धारित ऊपरी आयु सीमा में पांच वर्ष की छूट दी जाएगी.’

थलसेना, नौसेना, वायुसेना अगले हफ्ते तक भर्ती प्रक्रिया शुरू करेंगी

अग्निपथ सैन्य भर्ती योजना के खिलाफ प्रदर्शन के जोर पकड़ने के बीच थलसेना, नौसेना और वायुसेना ने इस नए ‘प्रारूप’ के तहत अगले हफ्ते तक चयन प्रक्रिया शुरू करने की घोषणा की.

वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सशस्त्र बलों में शामिल होने के आकांक्षी युवाओं से अपनी तैयारी शुरू कर देने की अपील की.

वायुसेना प्रमुख वीआर चौधरी ने कहा कि अग्निपथ योजना के तहत वायुसेना द्वारा चयन प्रक्रिया 24 जून से शुरू होगी, जबकि थलसेना ने कहा कि वह भर्ती के लिए प्रारंभिक अधिसूचना जारी कर दो दिनों के भीतर इसकी प्रक्रिया औपचारिक रूप से शुरू कर देगी.

वहीं, नौसेना ने कहा कि वह ‘बहुत जल्द’ भर्ती प्रक्रिया शुरू करेगी. नौसेना के एक वरिष्ठ कमांडर ने कहा कि भर्ती के लिए अधिसूचना एक हफ्ते के अंदर जारी कर दी जाएगी.

वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों ने बताया कि तीनों सशस्त्र बल नई योजना के तहत अभियानगत और गैर-अभियागत भूमिकाओं में रंगरूटों के प्रथम बैच को अगले साल जून तक तैनात करने की योजना बना रहे हैं.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)