भारत

यूपीः कथित हरा झंडा लगाने पर तीन गिरफ़्तार; पाकिस्तान ज़िंदाबाद कहने के आरोप में पांच पर एफ़आईआर

उत्तर प्रदेश के बहराइच, कुशीनगर और सहारनपुर ज़िलों का मामला. बहराइच में हुई घटना में तिरंगा हटाकर हरा झंडा लगाने का आरोप दो मुस्लिम युवकों पर लगा है. इसी तरह कुशीनगर में ग़ैर-राष्ट्रीय ध्वज लगाने के आरोपी मुस्लिम युवक को गिरफ़्तार करने के अलावा उनकी बुआ और चचरे भाई के ख़िलाफ़ भी केस दर्ज किया गया है. वहीं सहारनपुर में पांच छात्रों पर पाकिस्तान ज़िंदाबाद नारा लगाने का आरोप लगा है.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

बहराइच/सहारनपुर: उत्तर प्रदेश में बहराइच जिले के खैरी घाट थाना क्षेत्र में एक सरकारी पानी की टंकी से राष्‍ट्रीय ध्‍वज उतारकर हरा झंडा लगाने के आरोप में पुलिस ने शनिवार को दो मुस्लिम युवकों को गिरफ्तार किया है. इसी तरह कुशीनगर जिले में राष्ट्र विरोधी ध्वज लगाने के आरोप में एक अन्य मुस्लिम युवक को गिरफ़्तार किया गया है.

वहीं सहारनपुर के गंगोह में एक स्‍कूल में तिरंगा रैली के दौरान पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने के आरोप में पांच छात्रों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी.

बहराइच के अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) अशोक कुमार ने बताया कि आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने के उपलक्ष्य में रखौना गांव स्थित सरकारी पानी की टंकी पर गांव वासियों ने दो राष्ट्रीय ध्वज लगाए थे.

उन्होंने बताया कि शनिवार सुबह दो युवकों ने टंकी पर झंडा लगाने का विरोध करते हुए दोनों झंडे उतारकर जमीन पर फेंक दिए और वहां हरे रंग के झंडे लगा दिए थे.

सूचना पाकी मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है.

खैरीघाट थाना प्रभारी निखिल श्रीवास्तव ने बताया कि ग्राम प्रधान के भाई से मिली तहरीर के आधार पर गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान असलम (23 वर्ष) व शहवान (20 वर्ष) के रूप में हुई है.

उन्होंने बताया कि दोनों के खिलाफ राष्ट्रीय ध्वज के अपमान (राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम 1971) व दो समुदायों व जातियों के बीच वैमनस्य फैलाने के प्रयास की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है.

उन्‍होंने कहा कि दोनों युवकों को अदालत में पेश किया गया जहां से दोनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा दिया गया है.

दूसरी ओर, सहारनपुर जिले के गंगोह स्थित एक स्कूल में तिरंगा रैली के दौरान पांच छात्रों द्वारा पाकिस्तान-जिंदाबाद के नारे लगाए जाने के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है. वहीं, विद्यालय प्रबंधन द्वारा इन छात्रों को स्कूल से निलंबित कर दिया गया है.

उक्त जानकारी देते हुए सहारनपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) विपिन ताडा ने बताया कि गंगोह स्थित एक स्कूल में ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत निकाली जा रही तिरंगा रैली के दौरान कुछ छात्रों ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.

टाडा ने बताया कि इन छात्रों को चिह्नित कर उनके विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है और इन पांच छात्रों को विद्यालय प्रबंधन ने भी निलंबित कर दिया है. उन्होंने बताया कि जिन छात्रों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है वे सभी कक्षा 11वीं और 12वीं के छात्र हैं.

कथित तौर पर पाकिस्तान का झंडा फहराने के आरोप में एक व्यक्ति गिरफ्तार

इसी तरह राज्य के कुशीनगर जिले में एक व्यक्ति को उसके घर पर पाकिस्तान का झंडा फहराने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

कुशीनगर के अपर पुलिस अधीक्षक रितेश कुमार सिंह ने शनिवार को घटना की पुष्टि करते हुए बताया, ‘शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे जिले के तरिया सुजान थाना क्षेत्र के वेदुपर मुस्तक्विल गांव में एक घर पर झंडा फहराया गया. इस सिलसिले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है, जबकि दो लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.’

उन्होंने कहा कि पुलिस को इसकी सूचना मिलते ही ‘गैर-राष्ट्रीय ध्वज’ को हटा दिया गया.

सिंह ने यह भी कहा, ‘गिरफ्तार आरोपी की पहचान सलमान (21 वर्ष) के रूप में हुई है. सलमान और झंडा बनाने में उसकी मदद करने वाली बुआ शहनाज (22 वर्ष) के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. इसके अलावा सलमान के चचेरे भाई इमरान के खिलाफ झंडा फहराने में मदद करने के मामले में भी किशोर न्याय अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है.’