भारत

झारखंड: युवक ने युवती को ज़िंदा जलाया, विहिप और बजरंग दल के प्रदर्शन के बाद धारा 144 लागू

झारखंड के दुमका शहर का मामला. पुलिस ने बताया कि शाहरुख़ हुसैन नाम का युवक पिछले कुछ समय से युवती को परेशान कर रहा था. बीते 23 अगस्त को उसने युवती पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी थी. रविवार को उसकी मौत हो गई, जिसके बाद विहिप और बजरंग दल ने प्रदर्शन कर फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुक़दमा चलाने की मांग की है.

झारखंड के दुमका में एक युवक ने 19 साल की युवती को जिंदा जला दिया, जिससे उसकी मौत हो गई. (फोटो: एएनआई)

दुमका/रांची: बीते 23 अगस्त को झारखंड के दुमका जिले में एक 19 वर्षीय युवती को एक युवक ने जिंदा जला दिया था. बीते रविवार को तड़के इलाज के दौरान अस्पताल में उसकी मौत हो गई. युवक पिछले कुछ समय से युवती को परेशान कर रहा था.

युवती की मौत के बाद दुमका शहर में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया, जिसके बाद सीआरपीएफ की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लगा दी गई है.

दुमका के एसपी अंबर लकड़ा ने बताया कि 23 अगस्त की तड़के 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली युवती जब अपने घर में सो रही थी तो आरोपी ने खिड़की से उस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी. वह मदद के लिए चिल्लाई. उसने आरोपी को भागते हुए देखा. हमारे पास मृत्यु के समय दिया गया युवती का बयान है.

पुलिस ने बताया कि 19 वर्षीय शाहरुख हुसैन नाम का युवक पिछले कुछ समय से युवती को परेशान कर रहा था और जब वह प्रेम संबंध रखने को राजी नहीं हुई तो आरोपी ने धमकी दी थी.

90 फीसदी झुलस गई युवती को पहले दुमका के फूलो झानो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था. बाद में उन्हें रांची के राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) में रेफर कर दिया गया, जहां रविवार तड़के ढाई बजे उनकी मौत हो गई.

अस्पताल में कार्यपालक दंडाधिकारी चंद्रदीप सिंह ने उनका बयान दर्ज किया, जिसे अब पीड़िता का मृत्यु-पूर्व अंतिम बयान मान लिया गया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, रिम्स के प्रवक्ता डॉ. राजीव रंजन ने कहा, ‘युवती 45 प्रतिशत जल गई थी और उसकी मृत्यु का कारण कार्डियो रेस्पिरेटरी फेल्योर है.’

शाहरुख को उसी दिन पेट्रोल की आपूर्ति करने वाले एक और व्यक्ति छोटू खान के साथ गिरफ्तार कर लिया गया था. पुलिस सूत्रों ने बताया कि दोनों पर हत्या का मामला दर्ज किया जाएगा.

एसपी ने बताया कि पोस्टमॉर्टम के बाद युवती का शव दुमका लाया जाएगा. उन्होंने बताया कि युवती के जेरुवाडीह मोहल्ले स्थित घर पर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं.

घटना से क्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव व्याप्त हो गया है और बजरंग दल एवं विहिप के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने रविवार को दुमका बाजार में बंद रखा और विरोध प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों ने शाहरुख के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाने की मांग की है.

दुमका के एसडीओ महेश्वर महतो ने बताया कि युवती की मौत की सूचना दुमका पहुंचने पर वहां स्थिति तनावपूर्ण हो गई, वहां दोषी को फांसी देने की मांग को लेकर विहिप और बजरंग दल ने जमकर नारेबाजी की और विरोध प्रदर्शन किया.

उन्होंने बताया कि विरोध प्रदर्शनों के बाद हालात को ध्यान में रखते हुए दुमका शहर में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है. महतो ने बताया, ‘बिना किसी पूर्व अनुमति के विरोध प्रदर्शन, धार्मिक जुलूस सहित सभी सार्वजनिक सभा प्रतिबंधित है.’

इस बीच एसपी अंबर लकड़ा ने बताया कि दुमका में स्थिति नियंत्रण में है.

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में दुमका के डिप्टी कमिश्नर आरएस शुक्ला ने कहा, ‘हमने त्वरित सुनवाई की सिफारिश की है और पीड़ित परिवार को एक लाख रुपये का मुआवजा दिया है. हम परिवार को अधिक मुआवजा दिलाने की प्रक्रिया में हैं. आरोपी युवती को प्रताड़ित करता था. अधिकारियों को इसकी जानकारी नहीं थी, क्योंकि परिवार ने कभी शिकायत नहीं की थी.’

युवती के पिता ने बताया, ‘(23 अगस्त की) सुबह करीब 4 बजे थे, जब हमने उसकी चीख सुनी. हम उसके कमरे में पहुंचे और आग बुझाई. उसने बताया कि शाहरुख ने ऐसा किया है.’

पुलिस ने आरोपी युवक शाहरुख को गिरफ्तार कर 23 अगस्त को ही न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था.

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, विपक्षी भाजपा ने इस घटना के बाद राज्य की हेमंत सोरेन सरकार पर तुष्टीकरण की राजनीति करने का आरोप लगाया.

पूर्व मुख्यमंत्री रघुबर दास ने कहा, ‘यह लव जिहाद का एक स्पष्ट मामला है, लेकिन अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रही बच्ची की ओर प्रशासन ने कोई ध्यान नहीं लिया. हाल ही में रांची हिंसा के एक मामले में राज्य सरकार ने एक आरोपी नदीम को एयरलिफ्ट किया और अपने खर्चे पर उसका इलाज करा रही है, लेकिन अब तक कोई भी पीड़ित युवती और उसके परिवार से मिलना नहीं चाहता.’

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि वे लड़की के लिए न्याय सुनिश्चित करेंगे.

गुप्ता ने कहा, ‘दुमका डिप्टी कमिश्नर से दो बार बात कर चुका हूं. मामले को तेजी से ट्रैक किया जाएगा और आरोपियों को अधिकतम सजा सुनिश्चित की जाएगी.’

इस सिलसिले में गोड्डा से भाजपा सांसद डॉ. निशिकांत दूबे ने ट्वीट किया है, ‘काश दुमका की बेटी युवती को हम लोग शाहरुख जैसे दरिंदे से बचा पाते.’

सांसद ने आगे दुमका के पुलिस उपाधीक्षक की भूमिका पर सवाल उठाते हुए लिखा है, ‘मुस्लिम पदाधिकारी नूर मुस्तफा का अपराधी का साथ देना देश के लिए घातक. संथाल परगना अपनी बेटी की हत्या के बाद उद्वेलित है.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)