भारत

छत्तीसगढ़: कांग्रेस का दावा- भानुप्रतापपुर से भाजपा प्रत्याशी झारखंड में रेप मामले में आरोपी

छत्तीसगढ़ के भानुप्रतापपुर सीट पर पांच दिसंबर को उपचुनाव होने वाले हैं. कांग्रेस ने दावा किया कि भाजपा उम्मीदवार ब्रह्मानंद नेताम झारखंड में बलात्कार के एक मामले में आरोपी हैं और उन्होंने अपने चुनावी हलफ़नामे में इसका विवरण नहीं दिया है.

ब्रह्मानंद नेताम. फोटो साभार: फेसबुक)

कांकेर: छत्तीसगढ़ में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने रविवार को दावा किया कि भानुप्रतापपुर सीट पर पांच दिसंबर को होने वाले उपचुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार ब्रह्मानंद नेताम झारखंड में बलात्कार के एक मामले में आरोपी हैं और उन्होंने अपने चुनावी हलफनामे में इसका विवरण नहीं दिया है.

नेताम ने आरोपों का खंडन किया और इसे उनकी छवि खराब करने के लिए कांग्रेस की साजिश करार दिया.

कांकेर जिले के भानुप्रतापपुर नगर में एक संवाददाता सम्मेलन में प्रदेश कांग्रेस प्रमुख मोहन मरकाम ने कहा कि उनकी पार्टी शिकायत करेगी और उपचुनाव के वास्ते नेताम के नामांकन पत्र में कथित रूप से गलत विवरण प्रस्तुत करने के लिए उनकी उम्मीदवारी रद्द करने की मांग निर्वाचन आयोग से करेगी.

मरकाम ने आरोप लगाया कि 15 मई, 2019 को झारखंड पुलिस ने जमशेदपुर के टेल्को पुलिस थाने में मामला दर्ज किया था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि 15 वर्षीय एक किशोरी को कथित तौर पर देह व्यापार में धकेला गया और कई लोगों ने उसके साथ बलात्कार किया.

उन्होंने दावा किया कि भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 366ए, 376, 376 (3), 376एबी, 129बी, यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम और देह व्यापार (रोकथाम) अधिनियम की धारा 4 और 6 के तहत मामला दर्ज किया गया था.

उन्होंने कहा कि शुरू में इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था और जांच के दौरान कांकेर जिले के चरमा कस्बे के रहने वाले पूर्व भाजपा विधायक ब्रह्मानंद नेताम और चार अन्य को भी आरोपी बनाया गया.

उन्होंने दावा किया कि मामले के आरोप-पत्र में भी नेताम का नाम आरोपी के तौर पर है, लेकिन उन्होंने भानुप्रतापपुर उपचुनाव के लिए नामांकन पत्र के तहत दायर अपने चुनावी हलफनामे में यह जानकारी छिपाई है.

उन्होंने कहा, ‘उन्हें उम्मीदवार बनाकर भाजपा परोक्ष तौर पर यह संदेश देने की कोशिश कर रही है कि ऐसे अपराधियों को संरक्षण देने में वह सबसे आगे है. अगर भाजपा में नैतिकता बची है तो उसे नेताम से अपना पार्टी चिह्न वापस ले लेना चाहिए. अगर वह ऐसा नहीं करती है तो इसके लिए भानुप्रतापपुर के लोग उसे सबक सिखाएंगे.’

मरकाम ने कहा, ‘कांग्रेस छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके झारखंड समकक्ष हेमंत सोरेन को शिकायत करके नेताम की गिरफ्तारी की मांग करेगी. वह छत्तीसगढ़ के निर्वाचन अधिकारी और मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय से भी शिकायत करेगी और चुनावी हलफनामे में कथित तौर पर गलत जानकारी देने के लिए नेताम की उम्मीदवारी रद्द करने की मांग करेगी.’

वहीं, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर कहा, ‘15 साल की बच्ची के बलात्कार और देह व्यापार में धकेले जाने के मामले के एक अभियुक्त ब्रह्मानंद नेताम को भाजपा ने भानुप्रतापपुर विधानसभा उपचुनाव में प्रत्याशी बनाया है. भाजपा प्रत्याशी ने झारखंड में पॉक्सो एक्ट में दर्ज अपराध को निर्वाचन शपथ पत्र में किसके कहने पर छुपाया?’

अन्य ट्वीट में कहा, ‘छत्तीसगढ़ महतारी का यह अपमान प्रदेश की जनता सहन नहीं करेगी. क्या भाजपा ऐसे व्यक्ति से अपना कमल छीनेगी? स्वस्थ लोकतंत्र में स्वच्छ छवि वाले उम्मीदवारों के बीच जनता चुनाव चाहती है. नाबालिग से बलात्कार के आरोपी को प्रत्याशी बनाकर भाजपा क्या संदेश देना चाहती है?’

आरोपों को खारिज करते हुए नेताम ने संवाददाताओं से कहा कि उनके खिलाफ ऐसा कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है.

नेताम ने दावा किया, ‘उपचुनाव में हार के डर से कांग्रेस मेरी छवि खराब करने की साजिश के तहत इस तरह के आरोप लगा रही है. मेरे खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं है. अगर ऐसा होता तो मैंने अपने चुनावी हलफनामे में इसका जिक्र किया होता.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)