कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति

बेंगलुरु हिंसाः कर्नाटक हाईकोर्ट ने यूएपीए के तहत आरोपी 115 लोगों को ज़मानत दी

यह हिंसा पिछले साल अगस्त में पूर्वी बेंगलुरु के डीजे हल्ली और केजी हल्ली इलाकों में पुलाकेशीनगर निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले कांग्रेस विधायक आर. अखंड श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे पी. नवीन की फेसबुक पोस्ट के बाद हुई थी. इन दंगों में चार लोगों की मौत हो गई थी. आरोप है कि नवीन द्वारा पैगंबर मोहम्मद के बारे में सोशल मीडिया पर एक सांप्रदायिक और अपमानजनक पोस्ट करने के बाद भीड़ हिंसक हो गई थी.

बंगलुरु हिंसा और उसकी प्रतिक्रिया

वीडियो: बंगलुरु में बीते 11 अगस्त की रात एक कथित फेसबुक पोस्ट के बाद हिंसा भड़क गई. तीन लोग मारे गए और 70 से ज़्यादा घायल हुए. इस मुद्दे पर दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफ़ेसर अपूर्वानंद का नज़रिया.

बेंगलुरु: आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट के आरोप में विधायक के घर भीड़ का हमला, तीन लोगों की मौत

आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोपी कांग्रेस विधायक के रिश्तेदार को गिरफ़्तार कर लिया गया है. मंगलवार देर रात हुई हिंसा में भीड़ ने पुलिस वाहनों समेत कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया. पथराव और तोड़फोड़ की घटनाएं भी हुईं. हिंसा के संबंध में 100 से अधिक लोगों को गिरफ़्तार किया गया है. इस दौरान 50 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए हैं.