कोविशिल्ड टीका

डॉक्टरों की स्वास्थ्य मंत्रालय से अपील, कोविड टीकाकरण के बाद हुई 13 मौतों की जांच हो

16 जनवरी को टीकाकरण शुरू होने के बाद से अब तक विभिन्न राज्यों में 13 लोगों की जान गई है, इनमें से अधिकतर मौतें टीका लेने के बाद कुछ घंटों से लेकर पांच दिनों के भीतर हुई हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्पष्ट रूप से किसी भी मौत के लिए टीकाकरण के कारण होने को ख़ारिज किया है.

ओडिशा: टीकाकरण के बाद शख़्स की मौत, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- टीके से कोई संबंध नहीं

मामला नौपाड़ा ज़िले का है. सोमवार को एक 27 वर्षीय सिक्योरिटी गार्ड को जी मिचलाने की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां अगले दिन उन्होंने दम तोड़ दिया. उन्होंने बीमार होने के तीन दिन पहले कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तहत टीका लगवाया था.

तेलंगाना: टीकाकरण के बाद स्वास्थ्यकर्मी की मौत, अधिकारी ने कहा- मृत्यु का कारण टीका नहीं

तेलंगाना में अभी तक 69,625 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है. सार्वजनिक स्वास्थ्य के निदेशक के अनुसार, अभी तक राज्य के 77 लोगों में टीकाकरण के बाद प्रतिकूल प्रभाव के मामले सामने आए हैं, जिसमें से तीन को अस्पताल में भर्ती करना पड़ा था और उनकी हालत स्थिर है.

महाराष्ट्र: कोविड-19 टीकाकरण के बाद सात लोग अस्पताल में भर्ती

अमरावती मंडल के अकोला और बुलढाना ज़िलों में कोविशील्ड टीका लगवाने के एक दिन बाद सात व्यक्तियों को मांसपेशियों में दर्द और बुखार की शिकायत पर अस्पताल में भर्ती किया गया है. अमरावती के मंडलायुक्त पीयूष सिंह का कहना है कि वे सभी ठीक हैं और उन्हें जल्द अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी.