मतुआ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना. (फोटो साभार: पीआईबी)

पीएम मोदी के बांग्लादेश यात्रा के दौरान हुए विरोध प्रदर्शनों में चार लोगों की मौत

बांग्लादेश के चटगांव ज़िले में पुलिस की प्रदर्शनकारियों के साथ झड़प हुई थी. प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भारत में मुस्लिम समुदाय को प्रताड़ित करने और साल 2002 के गुजरात दंगे का आरोप लगाया है. मोदी बांग्लादेश के 50वें स्वतंत्रता दिवस पर आयोजित जश्न के मौके पर वहां गए हुए थे.

matua bangladesh

क्या बांग्लादेश दौरे पर जा रहे नरेंद्र मोदी का मक़सद बंगाल के वोटरों को लुभाना है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 26 मार्च से शुरू वाले दो दिवसीय बांग्लादेश दौरे के दौरान ढाका से क़रीब 190 किलोमीटर दूर ओराकांडी में मतुआ समुदाय के मंदिर जाएंगे. जानकारों के अनुसार, यह पश्चिम बंगाल में एक करोड़ के क़रीब वोटर वाले और सीएए लागू न होने से नाख़ुश मतुआ समुदाय को लुभाने की क़वायद है.