सड़क हादसा

(फोटो: भारतीय रेलवे वेबसाइट)

महाराष्ट्र: ट्रक दुर्घटना में 16 मज़दूरों की मौत, पांच गंभीर रूप से घायल

जलगांव ज़िले के यवल रोड में दुर्घटना रविवार देर रात हुई, जहां फल से भरे एक ट्रक में इक्कीस मज़दूर भी सवार थे. बताया जा रहा है कि सड़क पर गड्ढों की वजह से ट्रक ने नियंत्रण खो दिया और पलट गया.

(फोटो साभार: ट्विटर)

गुजरात: फुटपाथ पर चढ़ा अनियंत्रित ट्रक, 13 प्रवासी मजदूरों समेत 15 की मौत

घटना सूरत से करीब 60 किलोमीटर दूर कोसांबा गांव के पास मंगलवार तड़के हुई, जहां एक ट्रैक्टर से टकराने के बाद बेक़ाबू हुआ ट्रक फुटपाथ पर सो रहे मज़दूरों पर चढ़ गया. मारे गए सभी मज़दूरों में से एक को छोड़कर बाकी सभी राजस्थान के रहने वाले थे.

प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई

लॉकडाउन: यूपी में अलग-अलग सड़क हादसों में तीन प्रवासी मज़दूरों की मौत, 71 अन्य घायल

एक दुर्घटना में जालौन के गिर थान के पास ट्रक ने मेटाडोर को टक्कर मारी, जिसमें एक महिला सहित दो मज़दूरों की मौत हुई. दूसरी घटना में लखनऊ-बहराइच राजमार्ग पर एक मेटाडोर अनियंत्रित होकर पलट गई, जिसमें एक मज़दूर की मौत हो गई.

पैदल अपने घरों को लौट रहे प्रवासी मजदूर (फोटो: पीटीआई)

लॉकडाउन: कार की चपेट में आने से पैदल बिहार जा रहे प्रवासी श्रमिक की अंबाला में मौत

इस समूह में चल रहे एक श्रमिक ने बताया कि करीब 12 लोगों ने दो दिन पहले लुधियाना से पैदल ही यात्रा शुरू की थी क्योंकि वे रेलवे की विशेष ट्रेन के लिए पंजीकरण नहीं करा पाए थे.

प्रतीकात्मक तस्वीर: पीटीआई

लॉकडाउन: दिल्ली से साइकिल पर बिहार जा रहे मज़दूर की कार की टक्कर से मौत

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हुआ हादसा. पुलिस ने बताया कि बीते पांच मई को दिल्ली से आठ मज़दूर साइकिल से बिहार जाने के लिए निकले थे और नौ मई को वे लखनऊ पहुंचे थे.

(फोटो: एएनआई)

मध्य प्रदेश: ट्रक पलट जाने से पांच मजदूरों की मौत, 13 घायल

मामला मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले का है. जिलाधिकारी दीपक सक्सेना ने बताया कि आम से लदा ट्रक हैदराबाद से आगरा जा रहा था. इसमें चालक और सहचालक समेत कुल 18 लोग सवार थे.

Jammu: A man with his child on a bicycle is seen on a deserted road, during a nationwide lockdown in the wake of coronavirus pandemic, in Jammu, Friday, May 01, 2020. (PTI Photo)(PTI01-05-2020_000182B)

यूपी से छत्तीसगढ़ अपने घर साइकिल से जा रहे मज़दूर और उनकी पत्नी की सड़क हादसे में मौत

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रह रहे मज़दूर 750 किलोमीटर दूर छत्तीसगढ़ के बेमेतरा ज़िले के रहने वाले थे. लॉकडाउन की वजह से बेरोज़गार हो गए थे.

(फोटो: पीटीआई)

लॉकडाउन: राजस्थान से वापस मध्य प्रदेश आए तीन मज़दूरों की ट्रक के कुचलने से मौत

कोरोना वायरस के चलते देशभर में लागू लॉकडाउन से बेरोज़गार हुए ये मज़दूर सरकार द्वारा बसों से राजस्थान के जैसलमेर शहर से मध्य प्रदेश के उज्जैन शहर लाए गए थे.

(फोटो: रॉयटर्स)

सरकार ने माना, क़ानून की सख़्ती के बावजूद कम नहीं हुई सड़क हादसों में मरने वालों की संख्या

केंद्र द्वारा राज्यसभा में पेश किए गए आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल जनवरी से सितंबर की तुलना में इस साल सितंबर तक सड़क हादसों में 2.2 प्रतिशत की कमी आई है लेकिन इन हादसों में मरने वालों की संख्या 0.2 प्रतिशत बढ़ गई है.

(फोटो: रॉयटर्स)

देश में हर साल सड़क दुर्घटनाओं में तक़रीबन 20 हज़ार पैदल यात्री मारे गए: सरकार

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा लोकसभा में पेश आंकड़ों के अनुसार, वर्ष 2016 में देश में सड़क दुर्घटनाओं में तक़रीबन 1.50 लाख लोग, 2017 में 1.47 लाख लोग और साल 2018 में 1.51 लाख लोग मारे गए.

BulandShahar

उत्तर प्रदेश: सड़क किनारे सो रहे श्रद्धालुओं को बस ने कुचला, सात लोगों की मौत

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हुआ हादसा. वैष्णो देवी से दर्शन कर लौट रहे सभी यात्री शुक्रवार सुबह ज़िले के नरौरा स्थित गांधी गंगा घाट पहुंचे थे और आराम करने के लिए सड़क किनारे सो गए थे. सभी मृतक एक ही परिवार हैं.

कर्नाटक उपमुख्यमंत्री गोविंद करजोल (फोटो: पीटीआई)

ख़राब सड़कों से नहीं, अच्छी सड़कों से होती हैं ज़्यादातर दुर्घटनाएं: कर्नाटक के डिप्टी सीएम

कर्नाटक के तीन उप-मुख्यमंत्रियों में से एक गोविंद करजोल ने कहा कि अच्छी सड़कें होने के कारण बड़ी दुर्घटनाएं होती हैं, जहां लोग 120 से 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गाड़ी चलाते हैं.

फोटो साभार: विकिपीडिया/By Bahnfrend-CC BY-SA 3.0

गुजरात ने घटाया नया ट्रैफिक जुर्माना, गडकरी बोले- जुर्माने का उद्देश्य ज़िंदगियां बचाना है

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने मोटर वाहन अधिनियम में हुए संशोधन के बाद निर्धारित जुर्माना राशि घटा दी है. इसके बाद केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि जुर्माने का उद्देश्य राजस्व नहीं बल्कि ज़िंदगियां बचाना है.

(फोटो: रॉयटर्स)

मोटर ह्वीकल संशोधन विधेयक को मंज़ूरी, नाबालिग द्वारा एक्सीडेंट पर अभिभावकों को होगी सज़ा

मोटर ह्वीकल संशोधन विधेयक में नाबालिगों द्वारा किए गए अपराधा के लिए अब अभिभावक या वाहन मालिक को दोषी माना जाएगा. इसके लिए 25 हज़ार रुपये का जुर्माना या तीन साल की जेल की सज़ा का प्रावधान किया गया है.

New Delhi: Vehicles ply at slow pace near South Ext. Market due to smog in New Delhi on Tuesday.  Air quality in Delhi dropped to ‘severe’ level on Tuesday as pollution levels crossed permissible levels by multiple times. Visibility in Delhi NCR dropped as smog enveloped the city. PTI Photo by Kamal Singh(PTI11_7_2017_000226B)

सड़क हादसों में सर्वाधिक मौतें भारत में

अंतरराष्ट्रीय सड़क संगठन के अनुसार, दुनिया भर में वाहनों की कुल संख्या का महज़ तीन प्रतिशत हिस्सा भारत में है, लेकिन यहां होने वाले सड़क हादसों और इनमें जान गंवाने वालों के मामले में भारत की हिस्सेदारी 12.06 प्रतिशत है.