Anita Bose Pfaff

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी ने कहा- वह स्वतंत्र भारत को धर्मनिरपेक्ष देखना चाहते थे

स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी अनिता बोस फाफ ने उनकी जयंती पर एक प्रेस नोट जारी करते हुए कहा है कि जो लोग नेताजी से प्यार करते हैं वे उनके अवशेषों को वापस लाकर उन्हें सबसे अच्छा सम्मान दे सकते हैं. वह अपने पिता के पार्थिव अवशेषों को जापान से भारत वापस लाने के लिए मोदी सरकार से बार-बार अनुरोध करती रही हैं.

नेताजी की बेटी ने कहा, उनकी अस्थियों की डीएनए जांच के लिए भारत-जापान सरकार से संपर्क करूंगी

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी अनीता बोस फाफ ने कहा कि जब देश अपनी आज़ादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है तो ऐसे में बोस के जीवन से जुड़े रहस्यों को सुलझाना और अस्थियों को भारत लाना स्वतंत्रता सेनानी को असल श्रद्धांजलि होगी.

नहीं चाहती कि नेताजी की स्मृति का इस्तेमाल सांप्रदायिक प्रतिद्वंद्विता के लिए हो: बोस की बेटी

स्वतंत्रता सेनानी सुभाषचंद्र बोस की बेटी अनीता बोस फाफ ने कहा कि यह देखकर खुशी हुई कि स्वतंत्रता सेनानियों के मूल्य अभी भी लोगों को प्रेरणा दे रहे हैं लेकिन उन्होंने पिता की स्मृति और विरासत को सांप्रदायिक प्रतिद्वंद्विता के लिए इस्तेमाल किए जाने की संभावना पर चिंता भी जताई.