Farmers

घरेलू स्तर पर बढ़ते दाम को नियंत्रित करने के लिए गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक

सरकार ने रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध के कारण गेहूं की वैश्विक आपूर्ति में व्यवधान के मद्देनज़र निर्यात पर प्रतिबंध लगाया गया है. दोनों देश गेहूं के प्रमुख निर्यातक रहे हैं. कांग्रेस ने इस क़दम को ‘किसान विरोधी’ क़रार देते हुए कहा कि सरकार ने गेहूं की पर्याप्त खरीद नहीं की जिसके कारण ऐसी स्थिति पैदा हुई.

पर्यावरण में हो रहे बदलाव को किस तरह से झेल रहे हैं हिमाचल प्रदेश के किसान?

वीडियो: कृषि पर जलवायु परिवर्तन का बुरा प्रभाव पड़ रहा है. पर्वतीय राज्य हिमाचल प्रदेश भी इससे अछूता नहीं है. प्रदेश के लाहौल क्षेत्र में किसानों से जलवायु परिवर्तन, पानी की कमी के अलावा, बदलते कृषि पैटर्न आदि पर द वायर के इंद्र शेखर सिंह ने चर्चा की.

किसानों से किए गए वादे अब तक पूरे नहीं हुए, एमएसपी पर क़ानून बनाए सरकार: सत्यपाल मलिक

मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि किसानों ने केवल दिल्ली में अपना धरना समाप्त किया है, लेकिन तीन विवादास्पद कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ उनका आंदोलन अभी भी जीवित है. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश में जिस रफ़्तार से बेरोज़गारी और महंगाई बढ़ रही है उससे देश में संकट खड़ा होने वाला है.

सरकार ने फसल वर्ष 2021-22 के लिए गेहूं उत्पादन का अनुमान घटाकर 10.5 करोड़ टन किया

केंद्र सरकार ने जून में समाप्त होने वाले फसल वर्ष 2021-22 के लिए गेहूं उत्पादन के अनुमान को 5.7 प्रतिशत घटाकर 10.5 करोड़ टन कर दिया है. पहले गेहूं उत्पादन 11 करोड़ 13.2 लाख टन रहने का अनुमान लगाया गया था. अनुमान में गिरावट का कारण गर्मी की जल्द शुरुआत होने की वजह से फसल उत्पादकता प्रभावित होना है.

गुजरात: कोर्ट ने किसान के 31 पैसे बकाया होने पर ‘नो-ड्यूज़’ नहीं जारी करने पर एसबीआई को लगाई फटकार

गुजरात हाईकोर्ट की पीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए भारतीय स्टेट बैंक से कहा कि बैंकिंग नियामक क़ानून कहता है कि 50 पैसे से कम की रकम की गणना नहीं की जानी चाहिए, ऐसे में आप लोगों का उत्पीड़न क्यों कर रहे हैं? यह बैंक प्रबंधक द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न के अलावा और कुछ नहीं है.

यूपी: लखीमपुर खीरी में भाजपा विधायक से जुड़ी स्कॉर्पियो की टक्कर से बाइक सवार दो युवकों की मौत

घटना पीलीभीत-बस्ती राजमार्ग पर लखीमपुर खीरी शहर कोतवाली क्षेत्र के पांगी खुर्द गांव में रविवार देर रात को हुई. पुलिस के अनुसार स्कॉर्पियो गाड़ी का पंजीकरण लखीमपुर सदर क्षेत्र के भाजपा विधायक योगेश वर्मा की पत्नी के नाम पर है और वाहन पर विधायक लिखा हुआ है. चालक को गिरफ़्तार कर लिया गया था, हालांकि ज़िला अदालत से ज़मानत मिल गई है.

भारत की जल नीति कॉरपोरेट कंपनियों की नीति है: राजेंद्र सिंह

वीडियो: भारत के ‘वाटरमैन’ कहे जाने वाले राजेंद्र सिंह द वायर के इंद्र शेखर सिंह द्वारा लिए गए एक विशेष साक्षात्कार में सरकार की विभिन्न प्रमुख योजनाओं जैसे जल जीवन मिशन, केन-बेतवा लिंक परियोजना, हर घर नल और अन्य किसान संबंधित सिंचाई योजनाओं पर चर्चा करते हैं. राजेंद्र निजीकरण के खतरों और यह कैसे जल सुरक्षा को नष्ट कर रहा है, के बारे में बताते हैं.

जम्मू कश्मीर बैंक ऋण घोटाला: पूर्व अध्यक्ष समेत 18 अन्य पर सीबीआई ने मामला दर्ज किया

यह मामला बैंक द्वारा दिए गए एक फ़र्ज़ी ऋण से संबंधित है. प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि 2011 और 2013 के बीच नियमों का उल्लंघन कर जाली दस्तावेज़ों के आधार पर आरईआई एग्रो समूह को 800 करोड़ रुपये का क़र्ज़ दिया गया. सीबीआई ने इस कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों के ख़िलाफ़ भी मामला दर्ज किया है.

असम: निर्दलीय विधायक अखिल गोगोई राज्यपाल के संबोधन में खलल डालने के लिए विधानसभा से निलंबित

असम विधानसभा में बजट सत्र के पहले दिन राज्यपाल जगदीश मुखी के संबोधन के दौरान निर्दलीय विधायक अखिल गोगोई ने एक लाख युवाओं को रोज़गार, किसानों से धान की ख़रीद, स्वदेशी मूल के लोगों को ज़मीन का अधिकार देने और जलापूर्ति योजना में भ्रष्टाचार जैसे अन्य मुद्दे उठाने की कोशिश की थी. राज्यपाल के भाषण के बाद उनका निलंबन वापस ले लिया गया.

चुनावी राज्यों में किसान आंदोलन का फीका असर, पंजाब में खाता नहीं खोल पाया ‘संयुक्त समाज मोर्चा’

तीन कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ दिल्ली की सीमाओं पर एक साल तक चले प्रदर्शनों की सफलता को देखते हुए कुछ किसान संगठन राजनीति में उतरे थे, लेकिन किसान नेता बलबीर सिह राजेवाल की अगुवाई वाला ‘संयुक्त समाज मोर्चा’ पंजाब में एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं कर सका. वहीं पिछले साल किसान आंदोलन के दौरान लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा बाद भी ज़िले की आठों सीटें भाजपा के खाते में गई हैं.

यूपी चुनाव: मऊ का वो गांव जहां आज़ादी के 75 साल बाद भी विकास नहीं

वीडियो: उत्तर प्रदेश के मऊ के चक्की मुसदोही गांव में रहने वाले लोगों की शिकायत है कि हर साल बाढ़ के कारण यह गांव पूरी तरह जलमग्न हो जाता है और गांव के लोगों को नाव से एक जगह से दूसरी जगह जाना पड़ता है.

क्या यूपी में आवारा पशुओं की समस्या योगी सरकार को ले डूबेगी?

वीडियो: उत्तर प्रदेश में आवारा या छुट्टा पशुओं की समस्या भी वर्तमान में जारी विधानसभा चुनावों में एक बड़ा मुद्दा बनकर उभरी है. आवारा पशुओं ने किसानों का सबसे अधिक प्रभावित किया है. वरिष्ठ पत्रकार शरत प्रधान का इस विषय पर नज़रिया.

यूपी: ‘नीलगाय अउर गोरू बड़ा तबाह कइले बा, सब खेत बारी चर जात हैं’

महराजगंज ज़िले के वनग्रामों में किसान आवारा पशुओं द्वारा उनके खेतों को नुकसान पहुंचाए जाने की समस्या से जूझ रहे हैं. अब फसल बचाने के लिए उन्होंने स्टन मशीन यानी हल्का झटका देने वाली मशीन इस्तेमाल करना शुरू किया है, हालांकि इसके महंगे होने और एक जगह खेत न होने के चलते यह बहुत लाभकारी नहीं है.

उत्तर प्रदेश चुनाव: क्या समाजवादी पार्टी योगी आदित्यनाथ सरकार को हटा पाने की स्थिति में है

यूपी में बीते कुछ चुनावों से सोशल इंजीनियरिंग का फॉर्मूला ही राजनीतिक दलों की सफलता का आधार बना है. वर्तमान चुनाव में समाजवादी पार्टी की सोशल इंजीनियरिंग चर्चा में है. हालांकि जानकारों के अनुसार, पिछले विधानसभा व लोकसभा चुनावों के दो अलग-अलग सपा गठबंधनों की विफलता के चलते इस बार के गठबंधन की कामयाबी को लेकर कोई सटीक दावा नहीं किया जा सकता.

धर्म नहीं, रोज़गार के मुद्दे पर सरकार चुनेंगे: यूपीएससी की तैयारी कर रहे छात्र

वीडियो: उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद शहर में देश के अलग-अलग हिस्सों से छात्र प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने आते हैं. यहां पहुंची वायर की टीम ने प्रतियोगी परीक्षाओं विशेषकर यूपीएससी की तैयारी कर रहे छात्र से बातचीत की.