Jaunpur

एक मरीज़ के साथ विक्की. (लाल कमीज में) फोटो साभार: वीडियोग्रैब)

यूपी: ‘तड़प रहे मरीज़ों को ऑक्सीजन देना अपराध कैसे हो गया’

29 अप्रैल को जौनपुर के ज़िला अस्पताल के बाहर एक एंबुलेंस संचालक ने ऑक्सीजन और बेड न पा सके कई मरीज़ों को एंबुलेंस के सिलेंडर से ऑक्सीजन दी थी. ज़िला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के शासन-प्रशासन के ख़िलाफ़ दुष्प्रचार और मरीज़ों को ग़लत ढंग से ऑक्सीजन देने जैसे आरोपों के बाद उन पर मामला दर्ज किया गया है.

उत्तर प्रदेश के जौनपुर में सामाजिक बहिष्कार के बाद बुजुर्ग पत्नी के अंतिम संस्कार के लिए उनका शव साइकिल से ले जा रहे थे, जो रास्ते में गिर गया. (फोटो साभार: फेसबुक)

कोविड: सामाजिक बहिष्कार के बाद बुज़ुर्ग को पत्नी का शव साइकिल पर लाद ले जाने को मजबूर होना पड़ा

इसी तरह राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में भी सामाजिक बहिष्कार का एक मामला सामने आया है. नोएडा में घर की रखवाली का काम करने वाले एक व्यक्ति के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद कोई भी मदद के लिए आगे नहीं. पश्चिम बंगाल के इस परिवार ने पुलिस की मदद से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन उनकी जान नहीं बच सकी.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

उत्तर प्रदेश: पुलिस हिरासत में युवक की मौत, थानाध्यक्ष समेत तीन पुलिसकर्मी निलंबित

उत्तर प्रदेश के जौनपुर ज़िले के बक्शा थाने का मामला. लूट के एक मामले में अपराध शाखा का दल मृतक युवक समेत चार-पांच लोगों को पूछताछ के लिए बक्शा थाने लाया था. परिवारवालों ने पिटाई द्वारा युवक की हत्या करने का आरोप पुलिस पर लगाया है.

Jaunpur

उत्तर प्रदेश: आपसी विवाद के बाद सात दलितों के घर जलाने का आरोप, 35 गिरफ़्तार

मामला जौनपुर ज़िले के सरायख्वाज़ा क्षेत्र के भदेठी गांव का है. 9 जून को आम तोड़ने को लेकर दो समुदायों के बच्चों में विवाद हुआ, जिसके बाद स्थानीयों के बीच हिंसक झड़प हुई. सौ के क़रीब लोगों पर मामला दर्ज हुआ है और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरोपियों पर रासुका और गैंगस्टर एक्ट लगाने के निर्देश दिए हैं.

Patna: Migrants load their bicycles in a train to reach their native place, during a nationwide lockdown in the wake of coronavirus pandemic, in Patna, Saturday, May 16, 2020. (PTI Photo)(PTI16-05-2020_000089B)

लॉकडाउन: श्रमिक स्पेशल ट्रेन में गई मज़दूर की जान, भूख से मौत का आरोप

उत्तर प्रदेश के मछलीशहर के रहने वाले जोखन यादव और उनके भतीजे रवीश यादव मुंबई में कंस्ट्रक्शन मज़दूर के रूप में काम करते थे. लॉकडाउन के चलते वे श्रमिक स्पेशल ट्रेन से घर लौट रहे थे, जब वाराणसी पहुंचने से कुछ देर पहले जोखन ने दम तोड़ दिया. उनके भतीजे का कहना है कि उन्होंने क़रीब 60 घंटों से कुछ नहीं खाया था.

(फोटोः पीटीआई)

लॉकडाउनः ऑटो में मुंबई से जौनपुर लौट रहा था परिवार, ट्रक से हुई टक्कर में दो की मौत

मुंबई से एक ऑटो रिक्शा चालक अपने परिवार और संबंधियों के साथ नौ मई को ऑटो से जौनपुर के लिए निकला था. मंगलवार को उत्तर प्रदेश के फतेहपुर ज़िले के खागा थाना क्षेत्र में उनके ऑटो को एक ट्रक ने टक्कर मार दी, जिसमें चालक की पत्नी और बेटी की जान चली गई.

पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति राजाराम यादव. (फोटो साभार: फेसबुक)

यूपी सरकार ने पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति से मांगा जवाब, छात्रों को मर्डर करने की दी थी सलाह

उत्तर प्रदेश के वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर राजाराम यादव ने कहा था कि अगर पूर्वांचल विश्वविद्यालय के छात्र हो तो मेरे पास रोते हुए मत आना, बल्कि कभी झगड़ा हो तो पीटकर आना और ज़रूरत पड़े तो मर्डर कर देना, बाकी मैं देख लूंगा.