Sachin Tendulkar

अनिल देशमुख. (फोटो: ट्विटर/@AnilDeshmukhNCP)

किसान आंदोलन: मशहूर हस्तियों द्वारा केंद्र के समर्थन में ट्वीट करने की जांच करेगी महाराष्ट्र सरकार

अंतरराष्ट्रीय हस्तियों द्वारा किसान आंदोलन को मिले समर्थन के बाद कई भारतीय कलाकारों और खेल हस्तियों ने केंद्र सरकार के समर्थन वाले हैशटैग के साथ जवाबी ट्वीट किए थे. महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि राज्य का ख़ुफ़िया विभाग कुछ हस्तियों पर ट्वीट के लिए दबाव डाले जाने के आरोपों की जांच करेगा.

कोबे ब्राएंट और उनकी बेटी गियाना. (फोटो साभार: ट्विटर/
Sachin Tendulkar)
@sachin_rt)

बास्केटबॉल खिलाड़ी कोबे ब्रायंट और उनकी बेटी समेत नौ लोगों की हेलीकॉप्टर हादसे में मौत

कोबे ब्रायंट ने बास्केटबॉल में अपने 20 साल लंबे करिअर में हमेशा लॉस एंजेल्स लेकर्स टीम के साथ खेला. कोबे ने अप्रैल 2016 में नेशनल बास्केटबॉल एसोसिएशन से संन्यास ले लिया था. वह दो बार ओलंपिक चैंपियन भी रहे थे.

सचिन तेंदुलकर. (फोटो: रॉयटर्स)

तेंदुलकर ने ब्लाइंड क्रिकेट को मान्यता देने की बीसीसीआई से अपील की

सचिन तेंदुलकर ने कहा कि इन खिलाड़ियों को बीसीसीआई की पेंशन योजना के तहत लाया जा सकता है ताकि उन्हें वित्तीय सुरक्षा मिल सके.

Major Dhyanchand

हॉकी के जादूगर ध्यानचंद को भारत रत्न देने से क्यों कतरा रही हैं सरकारें?

सचिन तेंदुलकर को महज़ 24 घंटे के अंदर भारत रत्न देने का फैसला लेने वाली सरकारें चार बार सिफारिश के बावजूद मेजर ध्यानचंद को भारत रत्न देने का मन अब तक नहीं बना पाई हैं.

Mitali Raj 4

कोहली के शतक जमाने पर क्यों नहीं कहा जाता कि वे पुरुष क्रिकेट के मिताली हैं?

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज के शतक पर कोहली या सचिन से तुलना कर जनमानस में ये बात बिठाई जाती है कि क्रिकेट महिलाओं का नहीं पुरुषों का खेल है.

ms_dhoni_reuterscopy

महेंद्र सिंह धोनी: भारतीय क्रिकेट की तस्वीर बदलने वाला खिलाड़ी

धोनी पर कई बार अपने चहेते खिलाड़ियों को टीम में लेने का आरोप लगा. लेकिन कप्तान विराट कोहली सहित टीम के कई मौजूदा खिलाड़ी मानते हैं कि उनकी सफलता में धोनी द्वारा उन पर दिखाए गए भरोसे का बड़ा हाथ है.

राज्यसभा सांसद सचिन तेंडुलर और रेखा (फोटो: पीटीआई)

संसद आने के इच्छुक नहीं तो सचिन और रेखा इस्तीफा क्यों नहीं दे देते: नरेश अग्रवाल

सपा सांसद नरेश अग्रवाल ने क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और अभिनेत्री रेखा सहित राष्ट्रपति द्वारा नामांकित सदस्यों के लगातार अनुपस्थित रहने का मुद्दा उठाया.