भारत

शिमला बलात्कार कांड: आरोपी की मौत मामले में हिमाचल के आईजीपी समेत आठ पुलिसकर्मी गिरफ्तार

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के नज़दीक कोटखाई इलाके में चार जुलाई को एक नाबालिग लड़की की बलात्कार के बाद नृशंस हत्या कर दी गई थी.

RPT--Shimla: People hold placards and raise slogans during a protest demanding justice for the 16-year old school girl who was raped and murdered, at Rajbhawan in Shimla on Tuesday. PTI Photo  (PTI7_18_2017_000144B) *** Local Caption ***

16 साल की लड़की का बलात्कार कर हत्या करने के बाद लोगों को गुस्सा भड़क गया था. लोगों ने कई दिनों तक राजधानी शिमला में प्रदर्शन कर विरोध दर्ज कराया था. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: कोटखाई बलात्कार मामले के संदिग्ध एक नेपाली मजदूर की हिरासत में मौत के मामले में सीबीआई ने मंगलवार को हिमाचल प्रदेश पुलिस के महानिरीक्षक (आईजीपी) ज़हूर हैदरी ज़ैदी और सात अन्य पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया है.

शिमला के कोटखाई इलाके में चार जुलाई को एक नाबालिग लड़की का बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी गई थी.

बलात्कार और हत्या के मामले में राज्य पुलिस ने छह संदिग्धों को हिरासत में लिया था जिन्हें स्थानीय पुलिस थाने में बंद किया गया.

एजेंसी के अधिकारियों ने बताया कि पेशे से मज़दूर नेपाल के सूरज सिंह (29) की पिछले माह एक सह-आरोपी ने कथित तौर पर हत्या कर दी थी. इसकी लोगों ने काफी निंदा की थी. पुलिस स्टेशन पर लोगों ने हमला भी कर दिया था.

हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय ने मामले की जांच बाद में सीबीआई को सौंप दी थी.
अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने 1994 बैच के आईपीएस अधिकारी और तत्कालीन आईजीपी (दक्षिण) ज़ैदी, तत्कालीन पुलिस उपाधीक्षक मनोज जोशी और छह अन्य पुलिस अधिकारियों को गिरफ्तार करने से पहले कई लोगों से पूछताछ की थी.

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए लोगों को बुधवार को अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा. जांच एजेंसी ने नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार और हत्या और हिरासत में संदिग्ध की मौत के मामले में दो अलग-अलग प्राथमिकियां दर्ज की हैं.

सीबीआई के एक प्रवक्ता ने कहा, सीबीआई ने पुलिस अधीक्षक, अपर पुलिस अधीक्षक और पुलिस उप अधीक्षक के नेतृत्व में एक विशेष जांच दल का गठन कर दोनों मामलों की जांच शुरू की.