भारत

भाजपा नेता के हाथ काटने के बयान पर हज़ारों किसानों ने तानीं मुट्ठियां

किसान मुक्ति संसद में उठा सवाल, मोदी जी! आपने किसानों के साथ वादाख़िलाफ़ी क्यों की? हम सब उंगली उठाकर सवाल पूछेंगे, हम देखना चाहते हैं कि कितने हाथ काटोगे?’

नई दिल्ली: दिल्ली के संसद मार्ग पर हुई दो दिवसीय किसान मुक्ति संसद में किसानों की मांग रखने के अलावा मंगलवार को भाजपा नेता के उस बयान पर भी ऐतराज ज़ाहिर किया गया जिसमें उन्होंने कहा था कि मोदी पर उंगली उठाने वाले का हाथ काट लेंगे.

स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव ने पिछले 70 सालों से किसानों के ठगे जाने की बात करते हुए हाथ उठाकर कहा, ‘मैं जानबूझ कर ये उंगली दिखा रहा हूं. क्योंकि आज सुबह से टीवी पर खबर चल रही है कि भाजपा के एक सांसद ने कहा है मोदी जी को जो उंगली दिखाएगा, उसकी उंगली तोड़ देंगे, उसका हाथ काट लेंगे.’

योगेंद्र ने चुनौती देते हुए कहा, ‘लो भाई साब, ये उंगली उठी हुई है. सब लोग उठाएंगे अपनी उंगली. उठाएंगे इस के प्रधानमंत्री पर उंगली और पूछेंगे आपने वादाखिलाफी क्यों की?’ इसपर सामने बैठी हज़ारों किसानों की भीड़ अपने हाथ ऊपर उठा दिए.

उन्होंने कहा, हम पूछते हैं कि मोदी जी, घूम घूम कर पूरे देश में आपने बोला था कि किसानों को लागत से 50 प्रतिशत बढ़ाकर लाभ देंगे. भूल क्यों गए? क्यों आपने किसानों की ज़मीन हड़पने की कोशिश की? क्यों आपकी सरकार ने किसान से किया हुआ एक भी वादा पूरा नहीं किया?’ उन्होंने मोदी सरकार पर किसानों से फसल बीमा को लेकर झूठा वादा करने और बोनस छीनने का भी आरोप लगाया.

उन्होंने सवालों की झड़ी लगाते हुए कहा, ‘हम सब फिर से हाथ उठाकर उंगली दिखाकर पूछेंगे कि कितनी उंगलियां तोड़ोगे? कितने हाथ काटोगे, हम देखना चाहते हैं?’ इस पर सभा में मौजूद किसानों ने इंक़लाब ज़िंदाबाद का नारा लगाया और अपने अपने हाथ उठाकर उंगलियां दिखाते हुए योगेंद्र के सवालों का समर्थन किया.