भारत

कोविड-19: केंद्रीय सुरक्षा बलों में संक्रमण के 36,000 से अधिक मामले,128 जवानों की मौत

बीएसएफ देश की सीमा की रक्षा करने वाले सबसे बड़ा बल है और इसमें लगभग 2.5 लाख कर्मचारी हैं. इसमें अब तक संक्रमण के 10,636 मामले सामने आए हैं. इसके बाद सबसे बड़े अर्द्धसैनिक बल सीआरपीएफ में संक्रमण के 10,602 और सीआईएसएफ में 6,466 मामले सामने आए हैं.

(फोटो: पीटीआई)

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले केंद्रीय पुलिस बलों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 36 हजार के आंकड़े को पार कर गए हैं और इस घातक विषाणु से 128 जवानों की मौत हुई है.

ये मामले केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ), भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी), सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी), राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) और राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) से जुड़े हैं.

नए आंकड़ों के अनुसार, इन बलों में अब तक संक्रमण के 36,000 से अधिक मामले सामने आए हैं, जिनमें 6,646 लोगों का इलाज जारी है और शेष मामलों में जवान ठीक हो चुके हैं.

बीएसएफ देश की सीमा की रक्षा करने वाले सबसे बड़ा बल है और इसमें लगभग 2.5 लाख कर्मचारी हैं. इसमें अब तक संक्रमण के 10,636 मामले सामने आए हैं. इसके बाद सबसे बड़े अर्द्धसैनिक बल सीआरपीएफ में संक्रमण के 10,602 और सीआईएसएफ में 6,466 मामले सामने आए हैं.

आंकड़ों के अनुसार, आईटीबीपी में संक्रमण के 3,845 मामले सामने आए हैं, वहीं एसएसबी में 3,684, एनडीआरएफ में 514 और एनएसजी में 250 मामले सामने आए हैं.

इन बलों में 128 जवानों ने संक्रमण से जान गंवाई है. इनमें सबसे ज्यादा सीआरपीएफ में 52, बीएसएफ में 29, सीआईएसएफ में 28 और आईटीबीपी तथा एसएसबी में नौ-नौ जवानों की संक्रमण से मौत हुई है.

इस संबंध में एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जो लोग भी छुट्टी से लौट रहे हैं, उन्हें अनिवार्य पृथक-वास में भेजा जा रहा है और संक्रमित कर्मियों को चिकित्सकीय निगरानी में रखा जा रहा है.