भारत

बेरोज़गारी दर तीन महीने के उच्चतम स्तर पर, नवंबर में बढ़कर आठ प्रतिशत हुई: सीएमआईई

सेंटर फॉर मॉनिटरिंग ऑफ इंडियन इकोनॉमी की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक, नवंबर महीने में शहरी भारत में बेरोज़गारी ग्रामीण क्षेत्र से कहीं अधिक रही. शहरी क्षेत्र में बेरोज़गारी दर 8.96 प्रतिशत आंकी गई, जबकि ग्रामीण क्षेत्र में यह 7.55 प्रतिशत रही.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

मुंबई: शोध संस्थान सीएमआईई ने गुरुवार को कहा कि देश में बेरोजगारी दर नवंबर में बढ़कर आठ प्रतिशत हो गई जो तीन महीनों का उच्चतम स्तर है.

‘सेंटर फॉर मॉनिटरिंग ऑफ इंडियन इकोनॉमी’ (सीएमआईई) की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक नवंबर महीने में शहरी भारत में बेरोजगारी ग्रामीण क्षेत्र से कहीं अधिक रही. शहरी क्षेत्र में बेरोजगारी दर 8.96 प्रतिशत आंकी गई जबकि ग्रामीण क्षेत्र में यह 7.55 प्रतिशत रही.

एक महीने पहले अक्टूबर में शहरी बेरोजगारी दर 7.21 प्रतिशत थी जबकि ग्रामीण बेरोजगारी दर 8.04 प्रतिशत दर्ज की गई थी.

अगर राज्यवार आंकड़ों को देखें तो हरियाणा में नवंबर के दौरान 30.6 प्रतिशत बेरोजगारी रही है जो पूरे देश में सबसे अधिक है. राजस्थान में 24.5 प्रतिशत, जम्मू कश्मीर में 23.9 प्रतिशत, बिहार में 17.3 प्रतिशत और त्रिपुरा में 14.5 प्रतिशत बेरोजगारी रही.

वहीं, सबसे कम बेरोजगारी छत्तीसगढ़ में रही जहां सिर्फ 0.1 प्रतिशत लोग बेरोजगार रहे. उत्तराखंड में यह आंकड़ा 1.2 प्रतिशत, ओडिशा में 1.6 प्रतिशत, कर्नाटक में 1.8 प्रतिशत और मेघालय में 2.1 प्रतिशत बेरोजगारी नवंबर में आंकी गई.

सीएमआईई के आंकड़े बताते हैं कि अक्टूबर में भारत की बेरोजगारी दर 7.77 प्रतिशत थी जबकि सितंबर में यह आंकड़ा 6.43 प्रतिशत था.