high caste

किसी भी जाति का व्यक्ति मंदिर का पुजारी बन सकता है: उत्तराखंड हाईकोर्ट

हाईकोर्ट ने अपने आदेश में यह भी कहा कि पूरे प्रदेश में ऊंची जाति का कोई पुजारी अनुसूचित जाति या जनजाति के किसी व्यक्ति की तरफ से पूजा करने से इनकार नहीं कर सकता है.