Nirmala Seetharaman

सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के निजीकरण की दिशा में काम आगे बढ़ा: वित्तीय सेवा विभाग सचिव

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते हुए इस साल सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के निजीकरण की मंशा जताई थी. सूत्रों का कहना है कि नीति आयोग ने सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया और इंडियन ओवरसीज़ बैंक के निजीकरण की सिफ़ारिश की है.

रक्षा और विदेश मंत्री समेत कई केंद्रीय मंत्रियों ने सरकारी बंगलों के बकाया का भुगतान नहीं किया: आरटीआई

एक आरटीआई के जवाब में आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय ने कहा कि विजय गोयल, प्रकाश जावड़ेकर, निर्मला सीतारमण और सुषमा स्वराज समेत कई केंद्रीय मंत्रियों ने अपने सरकारी बंगलों के फरवरी तक के बकाया का भुगतान नहीं किया है.

राफेल विवाद के चलते एनसीपी छोड़ने वाले तारिक़ अनवर कांग्रेस में शामिल

बिहार के कटिहार से सांसद और एनसीपी महासचिव तारिक़ अनवर ने बीते सितंबर में राफेल सौदे पर शरद पवार के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘बचाव’ में उतरने के बाद घोषणा की थी कि वह पार्टी और अपनी लोकसभा सदस्यता छोड़ रहे हैं.

राफेल विवाद पर शरद पवार के बयान से नाराज़ तारिक़ अनवर ने एनसीपी छोड़ी

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के महासचिव और पूर्व केंद्रीय मंत्री तारिक़ अनवर ने लोकसभा की सदस्यता से भी इस्तीफ़ा दे दिया है.

हमारे शब्दकोष में ‘मार्टर’ या ‘शहीद’ जैसा कोई शब्द नहीं: रक्षा और गृह मंत्रालय

एक आरटीआई के जवाब में रक्षा और गृह मंत्रालय ने जानकारी दी कि मारे गए सैनिक या पुलिसकर्मी के लिए ‘बैटल कैजुअल्टी’ या ‘ऑपरेशन कैजुअल्टी’ शब्द का उपयोग किया जाता है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात की एक चुनावी सभा में. (फोटो: फेसबुक/कांग्रेस)

सरकार ने संसद सत्र में विलंब किया, नहीं चाहती चुनाव के पहले राफेल सौदे का सच सामने आए: राहुल

गुजरात चुनाव राउंड अप: राहुल ने राफेल विमान सौदे पर उठाए सवाल, सीतारमण ने कहा, कांग्रेस अलगाववादियों की भाषा बोलती है और सेना का मनोबल गिराती है.

नॉर्थ ईस्ट डायरी: रिश्वत देकर नौकरी लेने के आरोप में असम लोक सेवा आयोग के 21 अधिकारी गिरफ़्तार

इस हफ़्ते नॉर्थ ईस्ट डायरी में मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा, मिज़ोरम और मणिपुर के प्रमुख समाचार.

फिर फर्ज़ी ख़बर फैलाते पाए गए भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा

सोशल मीडिया पर भारतीय सैनिकों की फर्ज़ी तस्वीर और जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार का फर्ज़ी वीडियो साझा करने के बाद संबित पात्रा एक बार फिर झूठी ख़बर फैलाते हुए पाए गए हैं.