भारत

नागरिकता कानून विरोध: प्रसिद्ध गायक टीएम कृष्णा, एक्टर सिद्धार्थ समेत 600 लोगों पर केस दर्ज

चेन्नई पुलिस का कहना है कि वल्लुवर कोट्टम में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी गई थी, लेकिन बावजूद इसके वहां पर विरोध प्रदर्शन हुआ और इन लोगों ने हिस्सा लिया था.

TM krishna PTI

प्रसिद्ध गायक टीएम कृष्णा. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे जाने-माने एक्टर सिद्धार्थ, प्रसिद्ध कर्नाटक संगीत गायक टीएम कृष्णा, सांसद थिरुमावलवन समेत करीब 600 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

तमिलनाडु की चेन्नई पुलिस का कहना है कि बीते गुरुवार को वल्लुवर कोट्टम में विरोध प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी गई थी, लेकिन बावजूद इसके वहां पर विरोध प्रदर्शन हुआ और इन लोगों ने हिस्सा लिया था. इसलिए इन लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. सिद्धार्थ, टीएम कृष्णा मोदी सरकार की विवादित नीतियों का मुखर रूप से आलोचना करते आए हैं.

मालूम हो कि तमिलनाडु समेत देश के विभिन्न हिस्सों में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बीते गुरुवार को विरोध प्रदर्शन हुए थे. इस दौरान कुछ जगहों पर हिंसा भी हुई और इन प्रदर्शनों ने तीन लोगों की मौत हो गई. इनमें से दो की तटीय कर्नाटक के मैंगलोर में जबकि एक की उत्तर प्रदेश के लखनऊ में मौत हुई.

इस कानून में अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान से भारत आए हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के लोगों को भारतीय नागरिकता देने का प्रावधान किया गया है. नागरिकता संशोधन कानून में उन मुसलमानों को नागरिकता देने के दायरे से बाहर रखा गया है जो भारत में शरण लेना चाहते हैं.

इस प्रकार भेदभावपूर्ण होने के कारण इसकी आलोचना की जा रही है और इसे भारत के धर्मनिरपेक्ष ताने-बाने को बदलने की दिशा में एक कदम के रूप में देखा जा रहा है. अभी तक किसी को उनके धर्म के आधार पर भारतीय नागरिकता देने से मना नहीं किया गया था.