भारत

मुंबईः सीएए पर बात कर रहे शख़्स को थाने ले जाने वाले कैब ड्राइवर को भाजपा ने सम्मानित किया

जयपुर के रहने वाले कवि बप्पादित्य बुधवार रात एक कैब में बैठने के बाद फोन पर नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर बात कर रहे थे, जिसे सुनकर कैब ड्राइवर रोहित उन्हें एंटी नेशनल बताते हुए पुलिस थाने ले गया. रोहित को मुंबई भाजपा अध्यक्ष द्वारा सतर्क नागरिक पुरस्कार दिया गया है.

uber-ANI

उबर ड्राइवर को सम्मानित करते मुंबई भाजपा अध्यक्ष एमपी लोढा (फोटो साभार: एएनआई)

मुंबईः महाराष्ट्र के मुंबई में कैब में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) विरोधी प्रदर्शनों के बारे में बात कर रहे यात्री को पुलिस थाने ले जाने वाल‍े कैब ड्राइवर को मुंबई भाजपा अध्यक्ष ने सम्मानित किया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, मुंबई भाजपा के अध्यक्ष और मालाबार हिल्स से विधायक एमपी लोढा ने सीएए के बारे में बात कर रहे जयपुर के एक कवि को सांताक्रूज पुलिस थाने ले जाने वाले उबर कैब के ड्राइवर रोहित गौर को शनिवार को सम्मानित किया.

भाजपा विधायक ने सांताक्रूज पुलिस थाने में कैब ड्राइवर रोहित गौर को सतर्क नागरिक पुरस्कार दिया.

स्थानीय भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में सांताक्रूज पुलिस थाने के पास ड्राइवर को माला पहनाई गई. लोढा ने कहा, ‘उसने (ड्राइवर) ने एक सतर्क नागरिक की तरह अपने कर्तव्य का पालन किया. उबर ने उस पर प्रतिबंध लगाकर गलत किया.’

लोढा ने यात्री बप्पादित्य सरकार पर सीएए के खिलाफ राष्ट्र-विरोधी साजिश रचने का भी आरोप लगाया.

लोढा ने ट्वीट कर कहा, ‘रोहित गौर उबर ड्राइवर जिन्होंने सीएए के खिलाफ राष्ट्र विरोधी षड्यंत्र रच रहे यात्री को पुलिस को सौंपा. रोहित गौर को सांताक्रुज पुलिस थाने में बुलाकर मुंबई की जनता की ओर से उनका अभिनंदन किया एवं सतर्क नागरिक पुरस्कार से सम्मानित किया.’

बता दें कि इससे पहले उबर ने अपने नियमों का हवाला देकर कैब ड्राइवर रोहित पर अस्थाई तौर पर रोक लगा दी थी.

उबर ने पीड़ित यात्री और कवि बप्पादित्य सरकार (23) को बताया, ‘आपकी सुरक्षा को हम गंभीरता से लेते हैं और हम नहीं चाहते कि आप असुविधा से भरी सेवा के लिए हमें भुगतान करें.’

उबर ने कहा, ‘हम आपको बताना चाहते हैं कि हमने जांच पूरी होने तक उबर एप तक आरोपी ड्राइवर की पहुंच को अस्थाई तौर पर सीमित कर दिया है.’

इस बात की पुष्टि करते हुए बप्पादित्य सरकार ने कहा, ‘उबर ने आज मुझे फोन कर कहा कि ड्राइवर के अकाउंट पर अस्थाई तौर पर रोक लगा दी गई है. वे इस यात्रा के लिए अदा की गई धनराशि भी मुझे लौटा रहे हैं.’

बता दें कि जयपुर के रहने वाले कवि बप्पादित्य तीन फरवरी को काला घोड़ा महोत्सव में कवि सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए मुंबई आए थे. उन्होंने बुधवार रात को अपने दोस्त के घर जाने के लिए जुहू सिल्वर बीच से कुर्ला जाने के लिए कैब बुक की.

कैब में बैठने के बाद उन्होंने अपने अपने जयपुर के एक दोस्त को फोन किया और नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हो रहे प्रदर्शनों पर बात करनी शुरू की. उनकी बातें सुनकर कैब ड्राइवर एटीएम से पैसे निकालने के बहाने दो पुलिसकर्मियों को लेकर आया, जिसके बाद पुलिस उन्हें थाने ले गई, जहां से पूछताछ के बाद उन्हें छोड़ा गया.

बप्पादित्य ने कहा, ‘हम देश के विभिन्न शहरों में हो रहे प्रदर्शनों के बारे में बात कर रहे थे. कल शाहीन बाग में जो हुआ, उसके बारे में बात कर रहे थे, हम बात कर रहे थे कि किस तरह लोग लाल सलाम सुनकर असहज हो जाते हैं और मैंने अपने दोस्त को कहा कि हमें जयपुर के प्रदर्शन को और प्रभावी बनाना है.’

बप्पादित्य ने कहा कि ड्राइवर ने पुलिस से कहा कि ये देश जलाने की बात कर रहा है, बोल रहा है मैं कम्युनिस्ट हूं, हम देश को शाहीन बाग बना देंगे, मेरे पास पूरी रिकॉर्डिंग हैं.

सरकार ने कहा, ‘मैंने पुलिस से कहा कि वह रिकॉर्डिंग सुन ले और अगर मैंने ‘हम देश जला देंगे बोला’ है या किसी भी तरह की भड़काऊ और देशद्रोही बातें कही हैं तो मुझे गिरफ्तार कर सकते हैं.’

सरकार ने कहा कि मैंने जब ड्राइवर से पूछा कि वह मुझे पुलिस थाने क्यों लेकर आया तो इस पर ड्राइवर ने कहा, ‘तुम देश बर्बाद करोगे और हम देखते रहेंगे? मैं कहीं और ले जा सकता था तुझे, शुक्र मनाओ पुलिस स्टेशन लाया हूं.’

बप्पादित्य का कहना है कि यह सब होने के बाद भी वह ड्राइवर के खिलाफ शिकायत नहीं दर्ज कराएंगे क्योंकि इससे उसका करिअर और जीवन बर्बाद हो सकता है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)