भारत

डोनाल्ड ट्रंप ने सौदेबाजी में मोदी को बताया सख्त, तीन अरब डॉलर के रक्षा समझौते की घोषणा

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का सोमवार को भारत की पहली यात्रा में गुजरात के अहमदाबाद पहुंचने पर शानदार स्वागत किया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद हवाई अड्डे पर अमेरिकी राष्ट्रपति एवं उनकी पत्नी की अगवानी की और ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम के लिये मोटेरा स्टेडियम के मार्ग पर लोग कतारबद्ध होकर उनका स्वागत कर रहे थे.

अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में आयोजित नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो: ट्विटर/@PIB_India)

अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में आयोजित नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो: ट्विटर/@PIB_India)

अहमदाबाद: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का सोमवार को भारत की पहली यात्रा में गुजरात के अहमदाबाद पहुंचने पर शानदार स्वागत किया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद हवाई अड्डे पर अमेरिकी राष्ट्रपति एवं उनकी पत्नी की अगवानी की और ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम के लिये मोटेरा स्टेडियम के मार्ग पर लोग कतारबद्ध होकर उनका स्वागत कर रहे थे.

मोटेरा स्टेडियम जाने वाले रास्ते पर दोनों ओर लोग खड़े थे तथा हाथों में तिरंगा और अमेरिकी ध्वज लेकर राष्ट्रपति ट्रंप का स्वागत कर रहे थे. हवाई अड्डे और मोटेरा स्टेडियम के रास्ते पर लोक नर्तक, गायक रंगारंग प्रस्तुति दे रहे थे. कई स्थानों पर शंख एव ढोल बजाए जा रहे थे.

मोटेरा स्टेडियम में करीब एक लाख लोग मौजूद थे जहां अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधित किया. दोनों नेताओं ने एक दूसरे की बहुत तारीफ की.

अमेरिका के दिल में भारत के विशेष स्थान रखने की बात करते हुए ट्रंप ने कहा, ‘अमेरिका भारत को प्यार करता है, सम्मान करता है और अमेरिका हमेशा भारतीय लोगों का विश्वसनीय दोस्त बना रहेगा.

इसके साथ ही उन्होंने दोनों देशों के बीच तीन अरब डॉलर के रक्षा सौदे का ऐलान किया.’ उन्होंने कहा कि अमेरिका, भारत का प्रमुख रक्षा साझेदार बनेगा.

उन्होंने कहा कि दोनों देश एक ‘शानदार कारोबार समझौते’ पर काम कर रहे हैं लेकिन वह (मोदी) सौदेबाजी में बहुत सख्त हैं.

अपने महान दोस्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए ट्रंप ने कहा, ‘मोदी, आप सिर्फ गुजरात के गौरव नहीं हैं, बल्कि आप एक जीवंत उदाहरण हैं कि कड़ी मेहनत के साथ भारतीय कुछ भी हासिल कर सकते हैं. हर कोई उन्हें प्यार करता है… लेकिन मैं आपको यह बताऊंगा कि वे बहुत सख्त हैं.’

मोटेरा स्टेडियम में अपने भाषण में ट्रंप ने मोदी के एक चायवाले के रुप में शुरुआती दिनों का भी उदाहरण दिया.

भारत के अंतरिक्ष मिशन चंद्रयान-दो की तारीफ करते हुए ट्रंप ने कहा, ‘अमेरिका आपके साथ सहयोग करने के लिए उत्सुक है. अमेरिका और भारत सितारों की हमारी यात्रा में भागीदार होंगे.’

भारत की विविधता की प्रशंसा करते हुए, ट्रंप ने कहा, ‘भारत वह देश है जिसकी हमेशा प्रशंसा हुई है और जहां लाखों हिंदू, मुस्लिम, सिख, जैन और ईसाई पूजा करते हैं. आप हमेशा एक महान भारतीय राष्ट्र के रूप में मजबूत बने रहे.’

दुनिया के सबसे बड़े अहमदाबाद के मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम में 1,00,000 से अधिक लोगों की भीड़ को संबोधित करते हुए, अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘पीएम मोदी के कार्यकाल में भारत के गांवों में बिजली पहुंची है. 30 करोड़ से अधिक को इंटरनेट कनेक्शन मिला है. भारत जल्द ही दुनिया के सबसे बड़े मध्यम वर्ग वाला देश बन जाएगा. जो प्रभावशाली है वह यह है कि भारत ने एक लोकतंत्र और एक सहिष्णु देश के रूप में यह सब हासिल किया है. भारत की उपलब्धि बेजोड़ है.’

अपने लोगों में विश्वास, अपने लोगों में विश्वास का प्रदर्शन करने के लिए भारत की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा, ‘भारतीय राष्ट्र की कहानी असाधारण विविधता, दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र, मजबूत और महान लोगों की कहानी है.’

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘भारत और अमेरिका अपने लोगों को कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद से बचाने को प्रतिबद्ध हैं.’

उन्होंने कहा, ‘भारत-अमेरिका आतंकवाद और उसकी विचाराधारा से लड़ने को प्रतिबद्ध हैं, इसीलिए मेरी सरकार आतंकवादी समूहों से निपटने के लिए पाकिस्तान के साथ काम कर रही है.’

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि भारत-अमेरिका के बीच स्वाभाविक और स्थायी मित्रता है और उनके देश के साथ संबंधों में भारत का विशेष स्थान है.

इसके साथ ही भारत की सांस्कृतिक विविधता की तारीफ करते हुए उन्होंने दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे और शोले जैसी फिल्मों की सफलता की तारीफ की. उन्होंने सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली जैसे खिलाडियों की भी तारीफ की.

उन्होंने कहा, ‘पांच महीने पहले अमेरिका ने टेक्सास में एक विशाल फुटबॉल स्टेडियम में आपके महान प्रधानमंत्री का स्वागत किया और आज भारत अहमदाबाद में दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में हमारा स्वागत कर रहा है. भारत को इस मेहमाननवाजी के लिए धन्यवाद.’

इससे पहले कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा को भारत और अमेरिका के संबंधों में नया अध्याय करार देते हुए सोमवार को कहा कि यह दोनों देशों के लोगों की प्रगति और समृद्धि का एक नया दस्तावेज बनेगा.

अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया के स्वागत में आयोजित ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘ भारत-अमेरिका के संबंध अब केवल गठजोड़ तक ही नहीं हैं. यह इससे काफी आगे और करीबी रिश्ते हैं.’ उन्होंने कहा कि आज मोटेरा स्टेडियम में एक नया इतिहास बन रहा है, आज हम इतिहास को दोहराते हुए भी देख रहे हैं.

मोदी ने कहा ‘एकता और विविधता भारत और अमेरिका के बीच मजबूत रिश्ते का आधार है. एक मुक्त भूमि का देश है, तो दूसरा पूरे विश्व को एक परिवार मानता है.’ प्रधानमंत्री ने कहा कि एक को स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी पर गर्व है तो दूसरे को, दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा- सरदार पटेल की स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर.

उन्होंने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा भारत और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय है , एक ऐसा अध्याय, जो अमेरिका और भारत के लोगों की प्रगति और समृद्धि का एक नया दस्तावेज बनेगा.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा ‘ इस कार्यक्रम का नाम ‘नमस्ते ट्रंप’ है और नमस्ते का मतलब भी बहुत गहरा है. यह दुनिया की प्राचीनतम भाषाओं में से एक, संस्कृत का शब्द है. इसका भाव है कि सिर्फ व्यक्ति को ही नहीं, उसके भीतर व्याप्त अध्यात्म को भी नमन.’

मोदी ने कहा कि प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप का यहां होना सम्मान की बात है. उन्होंने कहा ‘स्वास्थ्य और खुशहाल अमेरिका के लिए आपने जो किया है, उसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं. समाज में बच्चों के लिए आप जो कर रही हैं, वह प्रशंसनीय है.’ मोटेरा स्टेडियम में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे प्रधानमंत्री मोदी ने कहा ‘आप कल्पना कर सकते हैं कि वह (ट्रंप) अमेरिका से सीधे यहां पहुंचे हैं, इतनी लंबी यात्रा के बाद भी राष्ट्रपति ट्रंप और उनका परिवार सीधे साबरमती आश्रम पहुंचे और उसके बाद यहां आए.’

मोदी ने समारोह में मौजूद ट्रंप की पुत्री इवांका, दामाद जेरेड कुश्नर का भी स्वागत किया.

इससे पहले राष्ट्रपति ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया, पुत्री इवांका और दामाद जेरेड कुश्नर को ले कर एयर फोर्स वन विमान सरदार वल्लभ भाई पटेल हवाई अड्डे पर पूर्वाह्न 11 बज कर 37 मिनट पर उतरा.

हवाई अड्डे पर मोदी ने ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया की अगवानी की. ट्रंप के विमान से बाहर आने के बाद मोदी उनसे गले मिले और मेलानिया का भी अभिवादन किया. इसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति अहमदाबाद हवाई अड्डे से साबरमती आश्रम के लिए रवाना हो गए.

22 किलोमीटर के ‘रोड शो’ के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति के काफिले का सड़कों के किनारे खड़े लोगों ने स्वागत किया. इस दौरान मार्ग में 50 स्टेज बनाये गए थे जहां देश के विभिन्न हिस्सों से आए नर्तकों एवं गायकों ने प्रस्तुति दी.

अमेरिकी राष्ट्रपति के अहमदाबाद आने के मद्देनजर सुरक्षा में 10 हजार पुलिसकर्मियों के अलावा अमेरिकी सीक्रेट सर्विस के अधिकारी, राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) और एसपीजी के कर्मी तैनात किए गए थे.

हवाई अड्डे से ट्रंप दंपत्ति राष्ट्रपिता महात्मा गांधी से जुड़े महत्वपूर्ण स्थल साबरमती आश्रम पहुंचे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले ही साबरमती आश्रम पहुंच गए थे. वहां पहुंचने पर प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति और उनकी पत्नी को आश्रम का भ्रमण कराया.

राष्ट्रपति ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ने साबरमती आश्रम में चरखा चलाया. मोदी ने ट्रंप और उनकी पत्नी को ‘हृदय कुंज’ भी दिखाया जहां गांधीजी और उनकी पत्नी कस्तूरबा रहती थीं. इस आश्रम में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान अपने जीवन के 13 साल बिताए थे.

वहां से रवाना होने से पहले ट्रंप ने आश्रम में आगंतुक पुस्तिका में लिखा, ‘मेरे अच्छे मित्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, इस शानदार यात्रा के लिये आपको धन्यवाद.’ अमेरिकी राष्ट्रपति को आश्रम में महात्मा गांधी और आत्मनिर्भरता में चरखा के महत्व के बारे में बताया गया. मेलानिया ने ट्रंप को चरखा चलाने में मदद की. दोनों वहां करीब 15 मिनट रूके. प्रधानमंत्री मोदी ने ट्रंप को गांधीजी के तीन बंदरों का संदेश देने वाली प्रतिकृति भी भेंट की.

सितंबर 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा के दौरान ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम के बाद से दोनों नेताओं के बीच संबंध और अधिक प्रगाढ़ हुए हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर पहली बार भारत आए ट्रंप ने सोमवार को अपने विमान से हिंदी में ट्वीट किया कि वह भारत आने को उत्सुक हैं और कुछ ही देर में वह सबसे मुलाकात करेंगे.

इसका जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा ‘अतिथि देवो भव:’ प्रधानमंत्री मोदी ने सुबह ट्वीट में लिखा, ‘भारत आपकी यात्रा का इंतजार कर रहा है. आपकी यात्रा से निश्चित तौर पर दोनों देशों के संबंध और मजबूत होंगे.’

आगरा पहुंचने पर हुआ भव्य स्वागत

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप सोमवार को ताजमहल का दीदार करने के लिए आगरा पहुंच गए. हवाई अड्डे पर अमेरिकी नेता का भव्य स्वागत किया गया, सैकड़ों कलाकारों ने ट्रंप के स्वागत में उत्तर प्रदेश की समृद्ध संस्कृति को दर्शाते हुए शानदार प्रस्तुति दी.

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खेरिया एयरबेस पर ट्रंप की अगवानी की.

वह अहमदाबाद में मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ विशाल ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में भाग लेने के बाद यहां पहुंचे.

यहां लगे एक विशालकाय होर्डिंग में ट्रंप, उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप को प्रधानमंत्री मोदी की ओर से दिए गए एक स्वागत संदेश में लिखा हुआ है- ‘सिटी ऑफ लव’ आगरा में भारत के सबसे अच्छे दोस्त का भव्य स्वागत.’

ट्रंप के एयरबेस पहुंचने पर, उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से आए 250 से अधिक कलाकारों ने ढोल, नगाड़े और मृदंग की मधुर ध्वनियों के बीच ‘मयूर नृत्य’, ‘राई लोक नृत्य’, ‘धोबिया लोक नृत्य’, ‘बमरसिया’ ‘नृत्य प्रस्तुत किया, जिससे यहां उत्सव का माहौल बन गया.

भारी सुरक्षा तैनाती के बीच ट्रंप के स्वागत के लिए पूरे आगरा शहर को सजा दिया गया है.

उनके काफिले के करीब 13 किलोमीटर लंबे रास्ते में बड़े पैमाने पर बधाई संदेश वाले होर्डिंग लगाए गए हैं, जबकि प्रमुख सड़क को अमेरिका और भारत के झंडों से सजाया गया है.

मार्ग के साथ, 21 नामित क्षेत्रों में 3,000 से अधिक कलाकार कृष्ण लीला जैसे ब्रज, अवध और अन्य क्षेत्रों के नृत्य भी प्रस्तुत करेंगे.

ट्रंप का स्वागत करने के लिए 15,000 से अधिक स्कूली छात्र काफिले के मार्ग पर सड़कों के किनारे अमेरिका और भारत के झंडे पकड़े हुए कतार में खड़े थे.

सड़क किनारे लगे एक विशाल होर्डिंग में ट्रंप और मोदी की तस्वीर के साथ लिखा हुआ है- ‘नमस्ते ट्रंप: विश्व के सबसे पुराने लोकतंत्र की विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र से मुलाकात’.

(समाचार एजेंसी भाषा के इनपुट के साथ)